Saturday, 02 March 2024

 

 

खास खबरें हिमाचल प्रदेश राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष नंद लाल ने की मुख्यमंत्री से भेंट भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के माध्यम से कल्याणकारी योजनाओं पर व्यय किए जाएंगे 143.16 करोड़ रुपयेः मुख्यमंत्री विधानसभा में कांग्रेस का रवैया बेहद दुर्भाग्यपूर्ण : हरसुखिंदर सिंह बब्बी बादल बादल परिवार सरकारी सुविधाओं का आदतन लाभार्थी : मलविंदर सिंह कंग समाज के साधन संपन्न और हाशीए पर धकेले वर्गों के बीच वाला फ़र्क मिटाने के लिए पंजाब सरकार पूरी तरह वचनबद्ध : राज्यपाल बच्चों को यौन शोषण से बचाने के लिए पंजाब पुलिस की पहलकदमी ‘जागृति’ लांच सीजीसी के बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट ने एफडीपी का आयोजन किया एलपीयू ने खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स की ओवरऑल फर्स्ट रनर अप ट्रॉफी जीती PEC के फैकल्टी मेंबर को बॉम्बे आर्ट सोसाइटी द्वारा किया गया सम्मानित डा. बी. आर. अम्बेडकर स्टेट इंस्टीट्यूट आफ मैडीकल सायंसज़ मोहाली को जल्द मिलेगा 6 बैडों वाला आई. सी. यू. मुख्यमंत्री ने कसौली विधानसभा क्षेत्र में 88.78 करोड़ रुपये की 13 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए सांसद संजीव अरोड़ा ने डीसी के साथ लुधियाना के विकास कार्यों पर की चर्चा राज्यपाल का भाषण रोकने का यत्न करके कांग्रेस ने पवित्र सदन का अपमान किया : हरपाल सिंह चीमा 8 हजार रुपए रिश्वत लेता ए.एस.आई. विजीलैंस ब्यूरो ने किया गिरफ्तार हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल के निर्णय कांग्रेस की सरकार खो चुकी है बहुमत, अपने कर्मों से हुई है उसकी यह स्थिति : जयराम ठाकुर सरूप रानी महिला महाविधालय मे करवाया जिला स्तरीय पड़ोस युवा संसद कार्यक्रम का आयोजन खेल से होता है बच्चों का मानसिक एवं शारीरिक विकास : हरचंद सिंह बरसट संजीव अरोड़ा ने हरचंद सिंह बरसट, डॉ. गोसल और अन्य के साथ मातृभाषा पंजाबी पर प्रकाश डालते हुए महत्वपूर्ण कार्य किये शुरू डिप्टी स्पीकर जय कृष्ण सिंह रौढ़ी ने 11.79 करोड़ रुपए की लागत से माहिलपुर में पानी व सीवरेज के प्रोजैक्ट की करवाई शुरुआत ‘आप दी सरकार आप दे दुआर’- कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने गांव शेरगढ़ में लगे कैंप का लिया जायजा

 

कैदियों और बंदियों को व्यवसायोन्मुखी प्रशिक्षण से साथ जोड़ने पर बल

बुनियादी सुविधाएं और ढांचागत विकास जरूरतें पूरी करने के निर्देष जारी

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

लुधियाना , 10 Jul 2019

केंद्रीय जेल सहित लुधियाना की तीनों जेलों में मौजूदा बुनियादी सुविधाओं और ढांचागत विकास जरूरतों का जायजा लेने जेल विभाग के प्रमुख सचिव श्री कृपा शंकर सरोज ने आज लुधियाना का दौरा किया। इस मौके डिप्टी कमिश्नर प्रदीप कुमार अग्रवाल सहित विभिन्न विभागों के जिला मुखियों के साथ बैठक कर उन्होंने निर्देष दिए कि जेलों में बंद कैदियों और बंदियों को व्यवसायोन्मुखी बनाने और उन्हें रचनात्मक गतिविधियों के साथ जोड़ने के प्रयत्न किये जाएँ जिससे उन्हें इन सुधार घरों (जेलों) में सही अर्थों में सुधार हो सके और वे यहाँ से अच्छे मनुष्य बन कर निकलं। केंद्रीय जेल में बैठक की अध्यक्षता करते हुए श्री सरोज ने डिप्टी कमिश्नर द्वारा सरकारी बहु तकनीकी कालेज ऋषि नगर के प्रिंसिपल स. एम. पी. सिंह को हिदायत की है कि वे कैदियों और बंदियों को व्यवसायोन्मुखी प्रशिक्षण देने के लिए नीति तैयार करें। उन्होंने कहा कि इस संबंध में एक सप्ताह में सर्वे करवाया जाए। सर्वे दौरान कैदियों और बंदियों की रुचि को ध्यान में रख कर जेल में व्यवसायोन्मुखी प्रशिक्षण देने की रूप रेखा तैयार की जाए। भारत सरकार के स्किल इंडिया प्रोगराम को लागू करने बारे भी कहा गया।इसी तरह जिला सामाजिक सुरक्षा अधिकारी इन्दरप्रीत कौर को निर्देष दिए कि वह उन गैर सरकारी संगठनों की तलाष करे जो जेलों के सुधार को ध्यान में रख कर अपने प्रोजैक्ट डिजाइन करें और जेल विभाग के साथ मिल कर इस दिशा में काम करन के इच्छुक हां। इसके लिए पंजाब सरकार की तरफ से बनती सहायता मुहैया करवाई जायेगी। जिला शिक्षा अधिकारी (सेकंडरी) स्वर्णजीत कौर को हिदायत की कि वह उन अध्यापकों या मोटीवेटरों की खोज करें जो अपने खाली समय दौरान वालंटियर के तौर पर कैदियों और बंदियों को विभिन्न विषयों की शिक्षा मुहैया कराने की इच्छा रखते हों। 

श्री सरोज ने सीवरेज विभाग और नगर निगम लुधियाना को निर्देष दिए कि तीनों जेलों की सीवरेज की समस्या को तुरंत हल किया जाये। लोक निर्माण विभाग को कहा गया कि वह जेलों में होने वाले मुरम्मत कार्यों का एस्टीमेट बना कर जेल विभाग को भेजंे। बागबानी विभाग को हिदायत की गई कि वह रियायती दरों पर सब्जियाँ के बीज जेल में मुहैया करवाएं जिससे कैदी सब्जी आदि उगा कर कृषि व्यवसाय को अपनाने के काबिल हो सकें। सिविल सर्जन डा. राजेश कुमार को कहा गया कि जेल में सेहत सुविधाओं की कमी नहीं होनी चाहिए।अधिकारियों के साथ बातचीत करते श्री सरोज ने कहा कि बंदियों और कैदियों को सजा देने का मकसद यह नहीं होता कि उन्हें बुरे कामों के लिए नियमित समय के लिए अंदर रखा जाना है बल्कि यह एक मौका होता है कि वह जेल अंदर अपने आप को सुधार कर एक अच्छे मनुष्य बन सकें। इस समय दौरान यदि उन्हें रचनात्मक गतिविधियों के साथ जोड़ने की कोशिश की जाये तो वे इस दौरान  अच्छे मनुष्य बनने के साथ-साथ कित्तामुक्खी भी बन सकते हैं। इस दिशा में सार्थक प्रयत्न करने की जरूरत है।जेल सुपरिटेंडैंट स. समशेर सिंह बोपाराय ने जेलों की आवष्यक्ताओं का विवरण पेश करते जेल सुपरिटेंडैंटों को जरुरी वित्तीय अधिकार, सुरक्षा बलों संख्या, अन्य सब जेलों की व्यवस्था करें, खाली असामियाँ भरने आदि की प्रार्थना की। जिस पर श्री सरोज ने इस सम्बन्धित जेल मंत्री के द्वारा पंजाब सरकार के साथ बात करने का भरोसा दिया। इस मौके अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर पुलिस श्री सुरिन्दर लांबा और श्री दीपक पारिख, जिला कानूनी सेवाएं अथारटी के सचिव श्री अशीष अबरोल, पी. सी. एस. अधिकारी श्री तरसेम चंद, एस. डी. एम. लुधियाना (पूर्वी) स. अमरजीत सिंह बैंस, एस. पी. (एच) खन्ना स. बलविन्दर सिंह भीखी और अन्य कई अधिकारी उपस्थित रहे। 

 

Tags: DC Ludhiana

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD