Saturday, 22 June 2024

 

 

खास खबरें सरकार का ध्येय योग के जरिये हर व्यक्ति को रखना है स्वस्थ-नायब सिंह देहरा से मेरा पुश्तैनी रिश्ता, मैं देहरा का दामाद भी : सुखविंदर सिंह सुक्खू स्वस्थ जीवन शैली के लिए योग एक अचूक उपायः बलबीर सिंह विजीलैंस ब्यूरो ने गरीब परिवारों के लिए चावलों के वितरण में हुए 1.55 करोड़ रुपए के घोटाले का किया पर्दाफाश पंजाब सरकार की ओर से भक्त कबीर जी के प्रकाश पर्व के मौके पर होशियारपुर में प्रदेश स्तरीय समागम आज 'आप' उम्मीदवार मोहिंदर भगत ने जालंधर उपचुनाव के लिए भरा नामांकन प्रधानमंत्री ने श्रीनगर में ‘युवाओं को सशक्त बनाना, जम्मू-कश्मीर में बदलाव लाना’कार्यक्रम को संबोधित किया राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय राष्ट्रीय शारीरिक दिव्यांगजन संस्थान का दौरा किया सिर्फ दो वर्ष में अंतरिक्ष संबंधी स्टार्टअप में 200 गुना की वृद्धि हुई है : डॉ. जितेंद्र सिंह केंद्रीय वस्‍त्र मंत्री गिरिराज सिंह ने उद्योग प्रतिनिधियों से बातचीत की प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई पहल से हरित अर्थव्यवस्था प्राप्त करने के लिए हरित आवरण लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी : भूपेंद्र यादव भूपेन्द्र यादव ने उत्तराखंड में आग प्रभावित वन क्षेत्रों का दौरा किया केंद्रीय मंत्री जी. कृष्ण रेड्डी ने कोयला खदानों के तेज परिचालन पर बल दिया संजय सेठ ने परिचालन तैयारियों की समीक्षा के लिए आईएनएस राजाली का दौरा किया बिजली उत्पादन करने वाला जिला बना ऊना : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू चंडीगढ़ में धार्मिक स्थलों को तोड़कर बदला ले रहा प्रशासन : डॉ. एस.एस. आहलूवालिया बाढ़ के पानी से आमजन की प्रॉपर्टी को नुकसान न पहुंचे, इसके लिए युद्धस्तर पर प्रयास जारीः पूर्व गृह मंत्री अनिल विज पंजाब पुलिस ने सीमा पार से गैर-कानूनी हथियारों और नार्को-आतंकवाद हवाला रैकेट का किया पर्दाफाश; मुख्य साजिशकर्ता समेत 8 मुलजिम गिरफ्तार मान सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए पठानकोट की लीची को विदेशों में भेजने की करेगी शुरुआतः चेतन सिंह जौड़ामाजरा मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा प्रोबेशनर आई. ए. एस. अधिकारियों को अपनी ड्यूटी समर्पित भावना, संजीदगी और पेशेवर वचनबद्धता से निभाने का न्योता लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने में कोई कसर नहीं छोड़ी जायेगी - डॉ. बलबीर सिंह

 

निर्मला सीतारमण ने ‘भारत में वैश्विक रसायन और पेट्रोरसायन विनिर्माण केन्द्रों पर तीसरे सम्मेलन’ का उद्घाटन किया

Nirmala Sitharaman, Union Minister for Finance & Corporate Affairs, BJP, Bharatiya Janata Party
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नयी दिल्ली , 27 Jul 2023

केन्द्रीय वित्त और कार्पोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज नयी दिल्ली में ‘‘भारत में वैश्विक रसायन और पेट्रोरसायन विनिर्माण केन्द्रों’ पर आयोजित सम्मेलन के तीसरे संस्करण (जीसीजपीएमएच 2023) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री श्री भगवंत खुबा भी उपस्थित थे। 

इनके अलावा ओडिशा सरकार के उद्योग, एमएसएमई और उर्जा मंत्री श्री प्रताप केशरी देब, रसायन और पेट्रोरसायन विभाग में सचिव श्री अरूण बरोका, फिक्की की पेट्रोरसायन समिति के अध्यक्ष श्री प्रभ दास तथा रसायन और पेट्रोरसायन उद्योग में उभरते अवसरों में रूचि रखने वाले अन्य गणमान्य लोग भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।

रसायन और उर्वरक मंत्रालय का रसायन और पेट्रोरसायन विभाग, फिक्की के साथ मिलकर इस दो दिवसीय शिखर सम्मेलन का आयोजन कर रहा है। श्रीमती निर्मला सीतारमण ने इस अवसर पर कहा कि भारतीय रसायन और पेट्रोरसायन क्षेत्र में व्यापक संभावनायें हैं और यह अर्थव्यवस्था के अन्य क्षेत्रों पर भी प्रभाव डालता है। 

उन्होंने कहा कि क्षेत्र के महत्व को इस तथ्य से आंका जा सकता है कि यह कृषि, अवसंरचना, कपड़ा, फार्मा, पैकेजिंग आदि क्षेत्रों से जुड़े 80 हजार से अधिक रासायनिक उत्पादों पर काम करता है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत 2047 तक उर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होने और 2070 तक कार्बन शून्य लक्ष्य हासिल करने के लिये पूरी तैयारी में है। 

उन्होंने हरित वृद्धि और कार्बन तीव्रता में कमी लाने पर ध्यान देने की जरूरत पर जोर दिया। वर्ष 2022-23 में प्रमुख रसायनों और पेट्रोरसायनों का कुल निर्यात 9 अरब डालर रहा लेकिन आयात बढ़कर 13.33 अरब डालर पर पहुंच गया। इनमें कई आयात वस्तुयें ऐसी भी शामिल हैं जिनका भारत में उत्पादन किया जा सकता है और सरकार इस दिशा में हर संभव प्रयास कर रही है।

वित्त मंत्री ने अपने संबोधन में कुछ विशिष्ट रसायनों के बाजार की तरफ भी ध्यान आकर्षित किया. जो कि प्रतिवर्ष 12 प्रतिशत की औसत की उच्च दर से बढ़ रहा है। इसलिये विशिष्ट रसायनों को अधिक सक्रिय समर्थन दिये जाने की आश्यकता है। देश में मजबूत प्रोसेस इंजीनियरिंग क्षमतायें, कम लागत विनिर्माण क्षमता और पर्याप्त कार्यबल के चलते यह बाजार तेजी से उभरा है।

श्री भगवंत खुबा ने कहा कि सरकार देश में रसायन पार्क स्थापित करने के लिये राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम कर रही है और प्लास्टिक पार्क स्थापित करने की प्रक्रिया पहले से जारी है। उन्होंने कहा कि सरकार कौशल विकास को बढ़ावा देने के साथ ही उद्योग और शिक्षाविदों को एक साथ लाने के लिये उत्कृष्टता केन्द्र भी बना रही है। 

रसायन और पेट्रोरसायन क्षेत्र का बाजार लगभग 190 अरब डालर है और निवेश की व्यापक संभावनाओं के साथ इसके 2025 तक 300 अरब डालर और 2040 तक 1,000 अरब डालर तक पहुंचने का अनुमान है। श्री प्रताप केशरी देब ने अपने संबोधन में कहा कि ओडिशा घरेलू स्तर पर रसायन क्षेत्र में आठ प्रतिशत की दर से वृद्धि कर रहा है और इस गति को अगले 10 साल तक बनाये रखने के लिये राज्य में 40 प्रतिशत क्षमता वृद्धि की आवश्यकता होगी। 

ओडिशा की औद्योगिक नीति संकल्प 2022 उद्योगों के बहुत अनुकूल है जिसमें विनिर्माण इकाइयों के लिये कर अवकाश, विद्युत शुल्क छूट आदि के प्रावधान हैं। रसायन और पेट्रोरसायन विभाग में सचिव श्री अरूण बरोका ने कहा कि नीतियों में सुधार के साथ ही बढ़ती मांग से रसायन और पेट्रोरसायन क्षेत्र में भारत उच्च वृद्धि हासिल करने की ओर अग्रसर है। 

भारत यदि मौजूदा दर से वृद्धि हासिल करता रहा तो 2047 तक रसायन क्षेत्र के बढ़कर 1 हजार  अरब डालर तक पहुंचने की आशा है। चार पेट्रोलियम, रसायन और पेट्रोरसायन निवेश क्षेत्र (पीसीपीआईआर) इस क्षेत्र की वृद्धि में मदद कर रहे हैं। इसके साथ ही प्रस्तावित रसायन पार्क से उद्योग को और तेज गति से आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।

 

Tags: Nirmala Sitharaman , Union Minister for Finance & Corporate Affairs , BJP , Bharatiya Janata Party

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD