Thursday, 25 July 2024

 

 

खास खबरें यह आम बजट विकसित भारत के निर्माण में एक नया अध्याय लिखेगा : नायब सिंह सैनी कावड़ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए किए गए पुख्ता इंतजाम, चप्पे चप्पे पर पुलिस की कड़ी नजर मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई एचपीपीसी और एचपीडब्ल्यूपीसी की बैठक रसिका दुगल और गुलशन देवैया की 'लिटिल थॉमस' का IFFM 2024 में वर्ल्ड प्रीमियर होगा विजिलेंस ब्यूरो ने पी.एस.आई.ई.सी. प्लॉट आवंटन घोटाले में शामिल उप-मंडल इंजीनियर को किया गिरफ्तार मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने केंद्रीय बजट को निराशाजनक और किसान विरोधी बताया गरीब कल्याण को समर्पित बजट से अर्थव्यवस्था को मिलेगी नई रफ्तार : संजय टंडन ‘सरकार बचाओ-महंगाई बढ़ाओ’ वाला है मोदी सरकार का बजट- आप मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने विद्यार्थियों की कम संख्या वाले स्कूलों के विलय की संभावनाएं तलाशने के निर्देश दिए राज्य एकल खिड़की स्वीकृति एवं अनुश्रवण प्राधिकरण की 29वीं बैठक में 2216.93 करोड़ रुपये के प्रस्तावित निवेश एवं 25 परियोजना प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान सी जी सी झंजेड़ी कैंपस में नए सत्र की शुरुआत के दौरान विद्यार्थियों के लिए एक सप्ताह का इंडक्शन प्रोग्राम आयोजित किया गया हरचंद सिंह बरसट ने पौधे लगाकर किया मिनी जंगल का उद्घाटन 'खतरों के खिलाड़ी' की कड़ी तैयारी के तहत निमृत कौर अहलूवालिया ने MMA, किक बॉक्सिंग की शुरुआत की धारकंडी क्षेत्र के विकास के लिए तत्परता से किया जाएगा कार्य : केवल सिंह पठानिया बेहतर भविष्य के लिए युवा नेता: लुधियाना के छात्र ‘यंग चैंपियंस फॉर क्लीन एयर प्रोग्राम’ के माध्यम से वायु गुणवत्ता वकालत में निभाएंगे अग्रणी भूमिका डेढ़ साल में 25 हज़ार करोड़ क़र्ज़ लेने वाले मुख्यमंत्री बताएं कहां खर्च किया पैसा : जयराम ठाकुर मलविंदर कंग ने पूर्व हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर को भारत रत्न देने की मांग की डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल ने मासिक बैठक में अलग-अलग विभागों के कार्यो की समीक्षा की प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध : मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू डॉ. एसएस आहलूवालिया ने पटियाला क्षेत्र के अंतर्गत चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की विकास कार्यों को जल्द पूरा करने के अधिकारियों को दिए निर्देश कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने नंद किशोर महामंत्र संकीर्तन मंडल को दिया 3 लाख रुपए का चैक

 

डॉ. अरुण कुमार मेहता ने लगभग 10000 लंबरदारों/चैकीदारों की नियुक्ति को पूरा करने हेतु जम्मू-कश्मीर प्रशासन की सराहना की

Arun Kumar Mehta, Dr. Arun Kumar Mehta, Kashmir, Jammu And Kashmir, Jammu & Kashmir, Chief Secretary Kashmir
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

जम्मू , 30 Mar 2023

कुछ महीने पहले शुरू किए गए सबसे बड़े सुधारात्मक उपायों में से एक में, जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने लगभग 10000 शिक्षित युवा व्यक्तियों को यूटी के विभिन्न गांवों से संबंधित लंबरदारों और ग्राम रक्षकों चैकीदारों के महत्वपूर्ण जमीनी स्तर के पदों पर नियुक्त किया है।

मुख्य सचिव डॉ. अरुण कुमार मेहता की अध्यक्षता में हुई बैठक में डीजी सीआईडी, आयुक्त सचिव जीएडी, आयुक्त सचिव आईटी और सूचना, संभागीय आयुक्त, सचिव पीडी एंड एमडी, सचिव राजस्व और यूटी के सभी उपायुक्तों ने भाग लिया। डॉ. मेहता ने रिकॉर्ड समय में इस उपलब्धि को हासिल करने हेतु मंडल और जिला प्रशासन दोनों की सराहना की। 

उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए प्रभावित किया कि इन युवाओं के लिए एक प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किया जाए ताकि उन्हें जमीनी स्तर, अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं के रूप में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में संवेदनशील बनाया जा सके, जिन्हें अपने गांवों के कल्याण और भलाई के लिए काम करना है।

उन्होंने कहा कि इन सभी युवाओं को उचित सम्मान और मान्यता दी जानी चाहिए क्योंकि वे आम जनता और उच्च अधिकारियों के बीच एक सेतु का काम करेंगे। उन्होंने सलाह दी कि इन बुनियादी कर्मियों का एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जाए ताकि उनके और जिला एवं मंडल प्रशासन के बीच लगातार संवाद बना रहे।

इसके अतिरिक्त मुख्य सचिव ने कहा कि चूंकि ये सभी व्यक्ति शिक्षित और युवा हैं और उनके गांवों में बहुत अच्छी प्रतिष्ठा है, इसलिए गांवों में विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों के कार्यान्वयन के बारे में जमीनी स्तर पर सत्यापन के संबंध में उनकी सेवाएं प्रामाणिक, वास्तविक और निर्बाध होंगी। 

उन्होंने उनसे आग्रह किया कि लोगों द्वारा राज्य की भूमि पर अतिक्रमण और उनके संबंधित गांवों में सरकारी अधिकारी की किसी भी प्रकार की ढिलाई या अव्यवसायिक आचरण की अन्य घटनाओं की रिपोर्ट करने में उनकी भूमिका अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने में महत्वपूर्ण होगी।

डॉ. मेहता ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि उनके क्षेत्रों में दुर्घटनाओं और आपदाओं के समय इन बुनियादी श्रमिकों की भूमिका प्रशासन को उनके शीघ्र हस्तक्षेप और बचाव कार्यों की शुरुआत के लिए तत्काल सूचना देगी। ये लोग ऐसी शिकायतों के समय पर निवारण हेतु अधिकारियों के समक्ष अपनी वास्तविक शिकायतों को उठाने के लिए लोगों और प्रशासन के बीच कड़ी के रूप में कार्य करेंगे।

बैठक में बताया गया कि यूटी में कुल 7056 लंबरदार और 2718 चैकीदार के पद स्वीकृत हैं। इनमें से पूर्व में नियुक्त 2220 लंबरदारों और 1165 चैकीदारों को उनके चरित्र और पूर्ववृत्त का सत्यापन करने के बाद अपना काम जारी रखने के योग्य पाया गया। 

इसके अलावा जानकारी दी गई कि 4832 लंबरदार और 1553 चैकीदार बदले जाने लायक पाए गए और प्रचलित नियमों के अनुसार ऐसा करने के लिए प्रक्रिया शुरू की गई। यह भी पता चला कि उनमें से प्रत्येक को योग्यता के आधार पर नियुक्त करने के अलावा संबंधित अधिकारियों से पुराने जारी सहित सभी के चरित्र और पूर्ववृत्त की मांग की गई है। 

उनमें से कुछ को छोड़कर इन सभी रिक्तियों के लिए उपयुक्त उम्मीदवारों का चयन कानूनी तौर पर किया गया। बैठक के दौरान यह भी पता चला कि आधुनिक समय की आवश्यकता के अनुसार इन कार्यकर्ताओं की भूमिका और जिम्मेदारियों को नया रूप दिया जा रहा है। यह प्रशासन में बदलाव लाने हेतु जा रहा है जो इसे अपने दैनिक मामलों को संवितरित करने में अधिक उत्तरदायी, जिम्मेदार, पारदर्शी और जवाबदेह बनाता है।

 

Tags: Arun Kumar Mehta , Dr. Arun Kumar Mehta , Kashmir , Jammu And Kashmir , Jammu & Kashmir , Chief Secretary Kashmir

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD