Saturday, 24 February 2024

 

 

खास खबरें सफाई कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए मिलें बेहतर सुविधाएं : अंजना पंवार विकास कार्य़ो की गति में लाई जाए तेजीः सोम प्रकाश एस बी एस पब्लिक स्कूल में हुआ पैनासॉनिक “हरित उमंग- जॉय ऑफ़ ग्रीन” का सफल आयोजन PEC त्रिदिवसीय वर्कशॉप का सफलतापूर्वक समापन किया PEC स्टूडेंट निशिता ने स्वरचित रचना से जीता IGNUS 24 फेस्ट में दूसरा स्थान IIT रोपड़ के टेक्निकल फेस्ट में PEC छात्रों ने अपने नाम किये कई ईनाम 'PEC में दोबारा आना एक यादगारी अनुभव है' : कपिलेश्वर सिंह बीजेपी हम पर इंडिया गठबंधन छोड़ने का दबाव बना रही है, वे जल्द अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की योजना बना रहें : आप पंजाब द्वारा दुबई में ‘गल्फ-फूड 2024’ के दौरान फूड प्रोसेसिंग की उपलब्धियाँ और संभावनाओं का प्रदर्शन, निवेश के लिए न्योता कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने 27 फार्मासिस्टों व 28 को क्लीनिक असिस्टेंटों को सौंपे नियुक्ति पत्र 1900 रुपए मानदेय बढ़ाने के लिए कंप्यूटर अध्यापकों ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का आभार व्यक्त किया ब्रिटिश उच्चायोग और हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से भेंट की 'क़ैद - नो वे आउट' - प्यार, दुर्व्यवहार और उस से बाहर निकलने की एक मनोरंजक कहानी चितकारा यूनिवर्सिटी में "चितकारा लिट फेस्ट 2024"' विद्युत जामवाल की ''क्रैक- जीतेगा तो जियेगा' एक्शन फिल्मों की सूची में सबसे ऊपर मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पंजाब मंत्रिमंडल द्वारा एक मार्च से 15 मार्च तक बजट सत्र बुलाने की मंजूरी पंजाब में स्वास्थ्य सेवाओं में आया क्रांतिकारी बदलावः ब्रम शंकर जिंपा डाइट मनी में पांच गुणा बढ़ोतरी पर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का आभार व्यक्त किया PEC के विद्यार्थियों ने IGNUS 2024 में दिखाए अपने जौहर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ‘हिमाचल प्रदेश लैंड कोड’ के नवीन संस्करण का अनावरण किया पीईसी चंडीगढ़ के गणित विभाग ने हालिया प्रगति पर दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई

 

अमेरिकी नौसेना में सिख अब रख सकेंगे दाढ़ी व पहन सकेंगे पगड़ी

 Special News, Khas Khabar, New York, US Marine Corps, Religious Freedom Restoration Act, US Marine Corps Sikhs, Aekash Singh, Jaskirat Singh, Milaap Singh Chahal
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

न्यूयॉर्क , 24 Dec 2022

एक ऐतिहासिक कदम के तहत एक संघीय अपील अदालत ने फैसला सुनाया है कि यूएस मरीन कॉर्प्स में भर्ती होने वाले सिख दाढ़ी रख सकते हैं और पगड़ी पहन सकते हैं। डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया की संघीय अपील अदालत के न्यायाधीशों ने शुक्रवार को अप्रेजेंट कॉर्प्स के बाल काटने और दाढ़ी मुंडवाने के नियम को धार्मिक स्वतंत्रता बहाली अधिनियम का उल्लंघन बताया। 

यह फैसला सिख मरीन कॉर्प्स के तीन रंगरूटों आकाश सिंह, जसकीरत सिंह और मिलाप सिंह चहल के बाद आया, जिन्होंने कॉर्प्स के बूट कैंप नियम से तत्काल छूट पाने के लिए डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया की संघीय अदालत में एक आपातकालीन अपील के लिए लड़ाई लड़ी थी।

सिख तिकड़ी का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ वकील एरिक बैक्सटर ने ट्वीट किया, अब, तीन सिख रंगरूट, जिन्हें पहले धार्मिक आवास से वंचित कर दिया गया था, बुनियादी प्रशिक्षण में प्रवेश कर सकते हैं। सिख धर्म में पुरुष पगड़ी पहनते हैं और वे अपनी दाढ़ी या बाल नहीं कटवाते हैं।

मरीन कॉर्प्स ने पहले इन सभी अनुरोधों को अस्वीकार कर दिया था, जिसके कारण ये तिकड़ी सालों से पूली बनी हुई है, एक व्यक्ति जिसने पहले से ही मरीन बनने के लिए साइन अप कर लिया है, लेकिन बूट कैंप में भर्ती प्रशिक्षण के लिए अभी तक नहीं छोड़ा है। इसके अलावा, मरीन कॉर्प्स ने तर्क दिया कि सिखों को धार्मिक दाढ़ी रखने की अनुमति देने से सेना की एकरूपता और भर्तियों के बीच उपस्थिति बाधित होगी, अंतत: राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा होगा। 

यह अमेरिकी सेना की अन्य शाखाओं के बावजूद अमेरिकी सेना, नौसेना, वायु सेना और तट रक्षक पहले से ही सिख धर्म की धार्मिक आवश्यकताओं को समायोजित कर रही है। अदालत के लिए लिखते हुए, जज मिलेट ने कहा कि सिख रंगरूटों के पास न केवल योग्यता के आधार पर सफलता की पर्याप्त संभावना है, बल्कि उन्हें खोने की कल्पना करना भी मुश्किल है।

 

Tags: Special News , Khas Khabar , New York , US Marine Corps , Religious Freedom Restoration Act , US Marine Corps Sikhs , Aekash Singh , Jaskirat Singh , Milaap Singh Chahal

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD