Friday, 19 April 2024

 

 

LATEST NEWS Vigilance Bureau nabs ASI for accepting Rs 15,000 bribe J&K at threshold of mega development under PM Modi’s leadership : Surjeet Singh Slathia Breaking: Punjab School Education Board (PSEB) 10th Result 2024 Declared Shayar Movie Review: A Magical Journey Through The World Of Shayari 6 Top Kavita Radheshyam Web Series To Watch | 5 Dariya News Varun Sood Net Worth 2024: Uncovering the Wealth of A Multi Talented Star | 5 Dariya News Punjab Congress Kickstart Election Campaign From Sangrur A Night of Stars And Striking Performances inside the Grand Premiere of 'Shayar' Tsunami of AAP in Bharuch - Massive turnout in Bhagwant Mann's 'Jan Ashirwad Yatra' in Gujarat Meeting of all BJP district in-charges, presidents, general secretaries, morcha and mañdal presidents and general secretaries held in BJP office Gurjit Singh Aujla bowed down to Shri Harmandir Sahib and Sri Durgiana temple Birla Open Minds Joins Forces with Rohit Sharma Cricket Academy CricKingdom to Elevate Cricket Programs within their schools ''PEC had always been Jaspal Ji's Second Mother'': Savita Bhatti The Ultimate Guide to Sustainable Kitchen Cleaning Professor Dr Robert Zeiser receives DKMS Mechtild Harf Science Award 2024 SOMANY MAX Glazed Vitrified Tiles (GVT) - A New Standard in the Tiles Vertical DC conducts surprise inspection in Gill Road grain market Ensure strict compliance of 'Safe School Vahan Policy' for safety of students or be ready to face action - DC to school heads Administration to make all-out efforts to wipe out child begging Sanjay Tandon Emphasizes Senior Citizens' Crucial Role in Society Punjab Police Solves Murder Case Of VHP Leader Within 72 Hours; Two Assailants Held

 

Sukhvinder Singh Sukhu announces Jal Shakti division at Jawalamukhi, BDO office at Surani

Announces up-gradation of Majheen and Lagdu Sub-tehsils

Sukhvinder Singh Sukhu, Himachal Pradesh, Himachal, Congress, Indian National Congress, Himachal Congress, Shimla, Chief Minister of Himachal Pradesh, Sarkar Gaon Ke Dwar
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

Jawalamukhi , 08 Feb 2024

Chief Minister Thakur Sukhvinder Singh Sukhu today presided over the ‘Sarkar Gaon Ke Dwar’ program at Amb-Pathiyar under Jawalamukhi assembly constituency and interacted with the people to know their grievances. 

He said that special Lok Adalats were held throughout the State during the last three months, wherein, record 89091 cases of mutation and 6029 pending cases of partition were settled giving relief to the people, who kept waiting for years to get their revenue cases resolved.  In district Kangra, 21,483 cases of mutation and 1133 cases of partition were settled during the period.

Addressing a huge public gathering on the occasion, the Chief Minister announced opening of the office of Block Development officer in Surani, opening division of Jal Shakti Department in Jawalamukhi and subdivision in Majheen, besides announcing the up-gradation of Majheen and Lagdu sub-tehsils. 

He also announced opening of sub-tehsil in Bhadoli and opening of Patwar circles in Luthan and Hiran.He also announced construction of a bridge at Suthoda-Pattan and Sudhangal on River Beas, construction of heliport at Jawalamukhi, construction of administrative building at Jawalamukhi College along with starting of PG classes in Commerce, Mathematics, Political Science and Hindi. 

Along with this, he said that Jawalamukhi College will be named after freedom fighter Pandit Sushil Rattan, father of sitting MLA Sanjay Rattan. He announced the up-gradation of Government High Schools Dehriyan and Choukaath to GSSS, up-gradation of Government Middle Schools Vangal Chowki, Thada, Salihar and Bohan-Bhari to high schools. 

He also announced opening of Primary Health Centre in Pihadi and a sub-division of HPSEBL in Lagdu besides announcing 33 KW sub-stations at Majhin and Thehra.Many decisions were taken to during the last one year to make Himachal self-reliant and we have extended the benefits of the welfare schemes at the grass root level to benefit the poor and downtrodden. 

The Chief Minister said that the state government was going to open more employment avenues for the youth in the government sector, giving preference to merit holders.  Our Government, soon after coming to power disbanded the Staff Selection Commission Hamirpur which had become hub of corruption. 

Papers were sold here. Our Government has created the State Selection Commission to provide equal opportunity to youth and maintain transparency in selection process, he remarked. He said that financial mismanagement of the previous BJP government pushed Himachal Pradesh into economic crisis and our government has been making all efforts to come out of this situation and steps have been taken to create State's own resources to make Himachal self-reliant.

During the disaster, several senior leaders of BJP, including the Prime Minister were urged to provide a special relief package to Himachal Pradesh. He pointed out that all the three BJP Members of parliament from the State should be asked about their contribution during the disaster. They even didn't plead the case with their central leaders in an effective manner. Not even a single penny has been received from the Central Government apart from the States legitimate due share.

The government reinstated the old pension scheme despite financial constraints. He said that the state government is opening Rajiv Gandhi Day-Boarding School in every assembly constituency, taken a decision to introduce English medium from first class onwards from the next academic session, he reiterated.Degree College Management, Jawalamukhi, presented a check of Rs 31,000 towards the Chief Minister for the Disaster Relief Fund.

Local MLA Sanjay Rattan expressed his gratitude to the Chief Minister for giving full day to his constituency and dedicating numerous development projects.Agriculture Minister, Chander Kumar, Health and Family Welfare Minister,Dr. (Col) Dhani Ram Shandil, AYUSH Minister Yadvinder Goma, former MP Viplove  Thakur, former MLA Ajay Mahajan, Congress leaders Surender Mankotia, Nardev Kanwar, Dr. Rajesh Sharma, Prem Kaushal, Chairman Agriculture and Rural Development Bank Ram Chandra Pathania, were also present amongst others.

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ज्वालामुखी के अंब पठियार में ‘सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम की अध्यक्षता की

सुरानी में विकास खंड अधिकारी कार्यालय, ज्वालामुखी में जल शक्ति विभाग का मण्डल व मझीण में उप-मण्डल खोलने की घोषणा

ज्वालामुखी

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने आज कांगड़ा जिला के ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र के तहत अंब पठियार में ‘सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम की अध्यक्षता की और जन समस्याएं सुनीं।इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने ज्वालामुखी के सुरानी में विकास खंड अधिकारी कार्यालय खोलने, ज्वालामुखी में जल शक्ति विभाग का मण्डल तथा मझीण में उपमण्डल खोलने की घोषणा की। उन्होंने मझीण व लगड़ू उप तहसीलों को तहसीलों का दर्जा देने तथा भड़ोली में उप-तहसील खोलने, लुथान व हिरण में पटवार सर्किल खोलने की भी घोषणा की।

उन्होंने व्यास नदी पर सिथोड़ा पतन व सुधंगल में पुल का निर्माण करने, ज्वालामुखी में हेलीपोर्ट स्थापित करने, ज्वालामुखी कॉलेज में प्रशासनिक भवन बनाने तथा यहां वाणिज्य, गणित, राजनीतिशास्त्र तथा हिंदी की स्नातकोत्तर कक्षाएं शुरू करने व ज्वालामुखी महाविद्यालय का नाम स्वतंत्रता सेनानी पंडित सुशील रत्न के नाम पर रखने की भी घोषणा की। 

उन्होंने राजकीय उच्च विद्यालय देहरियां व चौकाठ को जमा दो का दर्जा प्रदान करने, राजकीय माध्यमिक पाठशाला वनगल चौकी, थड़ा, सलिहार व बौहण-भारी को उच्च विद्यालय बनाने तथा पिहड़ी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तथा लगड़ु में विद्युत बोर्ड का उप-मण्डल खोलने व मझीण व ठेहड़ा में 33 केवी सब स्टेशन स्थापित करने की भी घोषणा की।

इस अवसर पर जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने अपने एक वर्ष के कार्यकाल में सभी क्षेत्रों एवं सभी वर्गों के कल्याण के लिए अनेक महत्वकांक्षी योजनाएं शुरू कर समाज के अंतिम व्यक्ति तक इनका लाभ सुनिश्चित किया है। प्रदेश में पहली बार राजस्व लोक अदालतों का आयोजन कर इंतकाल सहित अन्य मामलों का घर-द्वार पर निपटारा सुनिश्चित किया है। 

लगभग तीन माह में ही इंतकाल के रिकॉर्ड 89 हजार से अधिक मामले और तकसीम के 6029 लम्बित मामलों का निपटारा इन अदालतों के माध्यम से किया गया। जिला कांगड़ा में भी इंतकाल के 21,483 व तकसीम के 1133 मामले निपटाए गए हैं।ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि सरकारी क्षेत्र में शीघ्र ही 21 हजार युवाओं को रोजगार प्रदान किया जाएगा। 

प्रदेश सरकार भर्ती प्रक्रिया में पारदर्शिता सुनिश्चित कर रही है और इसमें मेरिट को अधिमान दिया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘पिछली भाजपा सरकार के समय पेपर लीक किए गए। हमारी सरकार ने कड़े कदम उठाते हुए तत्कालीन कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर को भंग कर नए राज्य चयन आयोग का गठन किया। इससे अब पात्र युवाओं को नौकरी के समुचित अवसर सुनिश्चित होंगे।’’

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हिमाचल को आत्मनिर्भर बनाने के लक्ष्य के साथ कार्य करते हुए अर्थव्यस्था को सुदृढ़ करने के लिए कड़े फैसले ले रही है। पिछली भाजपा सरकार के वित्तीय कुप्रबंधन ने प्रदेश को आर्थिक बदहाली में धकेला। गत वर्ष प्रदेश में प्राकृतिक आपदा से हुुई तबाही के दौरान भाजपा मूक दर्शक बनी रही। विपक्ष न तो प्रभावित परिवारों के साथ खड़ा नजर आया और न ही इस त्रासदी को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने के संकल्प का समर्थन किया।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा ‘‘मैं प्रधानमंत्री, गृह मंत्री व वित्त मंत्री से मिला और हिमाचल में भीषण आपदा से निपटने के लिए विशेष पैकेज की मांग की। तीनों भाजपा सांसदों से पूछा जाना चाहिए कि जब प्रदेश में इतिहास की सबसे बड़ी आपदा आई तो क्या वे प्रधानमंत्री या गृह मंत्री से मिले? अब तक जो भी मदद मिली है, वह सभी राज्यों को आपदा के तहत निर्धारित बजट से ही मिली है, जबकि केंद्र सरकार की ओर से विशेष राहत पैकेज का एक भी पैसा राज्य को नहीं मिल पाया है। 

प्रभावितों की मदद के लिए हमारी सरकार ने अपने सीमित संसाधनों से 4500 करोड़ रुपए का पैकेज जारी किया।’’ उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने नियमों में बदलाव करते हुए मुआवजा राशि में भी 25 गुणा तक की बढ़ोतरी की।मुख्यमंत्री ने कहा कि दृढ़ इच्छाशक्ति का परिचय देते हुए राज्य सरकार ने एनपीएस कर्मचारियों के लिए बिना किसी राजनीतिक लाभ की लालसा व आर्थिक तंगी के बावजूद ओपीएस बहाल की। 

पूर्व भाजपा सरकार के समय गर्त की ओर जा रही शिक्षा व्यवस्था को पुनः सुदृढ़ करने के दृष्टिगत शिक्षा क्षेत्र में व्यापक सुधार किए जा रहे हैं। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में राजीव गांधी डे-बोर्डिंग स्कूल स्थापित करना सरकार के इन प्रयासों का ही परिणाम है। अगले शैक्षणिक सत्र से पहली कक्षा से अंग्रेजी मीडियम में शिक्षा शुरू की जा रही है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र में व्यापक सुधार की दिशा में आगे बढ़ते हुए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में आदर्श स्वास्थ्य संस्थान स्थापित किए जा रहे हैं। किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए दूध के खरीद मूल्य में 6 रुपये की बढ़ोतरी की है। राज्य सरकार ने 4,000 अनाथ बच्चों को ‘चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट’ के रूप में अपनाया है। उनके कल्याण के लिए कानून बनाया और मुख्यमंत्री सुख-आश्रय कोष की स्थापना की गई, जिसके तहत राज्य सरकार 27 वर्ष तक इनकी देखभाल और उच्च शिक्षा के लिए उचित सहायता प्रदान कर रही है।

इस अवसर पर डिग्री कॉलेज प्रबन्धन ज्वालामुखी ने आपदा राहत कोष के लिए 31 हजार रूपये का एक चैक मुख्यमंत्री को भेंट किया।स्थानीय विधायक संजय रत्न ने ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र में पहुंचने पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि वह इस क्षेत्र के तीव्र विकास में विशेष रूचि ले रहे हैं। उन्होंने 205 करोड़ रुपये के लोकार्पण एवं शिलान्यास के लिए उनका विशेष तौर पर आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि व्यवस्था परिवर्तन की भावना के साथ कार्य करते हुए प्रदेश सरकार कल्याणकारी योजनाओं का समय पर लोगों को लाभ सुनिश्चित कर रही है।

इससे पूर्व, ज्वालामुखी क्षेत्र में पहुंचने पर मुख्यमंत्री का लोगों ने भव्य स्वागत किया।इस अवसर पर कृषि मंत्री चंद्र कुमार, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. (कर्नल) धनी राम शांडिल, आयुष मंत्री यादविन्द्र गोमा, पूर्व सांसद विप्लव ठाकुर, पूर्व विधायक अजय महाजन, कांग्रेस नेता सुरेंद्र मनकोटिया, नरदेव कंवर, डॉ राजेश शर्मा, प्रेम कौशल, कांगड़ा सहकारी प्राथमिक कृषि और ग्रामीण विकास बैंक के चेयरमैन राम चंद्र पठानिया, उपायुक्त हेमराज बैरवा व पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री सहित अनेक गणमान्य उपस्थित थे।

 

Tags: Sukhvinder Singh Sukhu , Himachal Pradesh , Himachal , Congress , Indian National Congress , Himachal Congress , Shimla , Chief Minister of Himachal Pradesh , Sarkar Gaon Ke Dwar

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD