Tuesday, 21 May 2024

 

 

खास खबरें लुधियाना से आप उम्मीदवार अशोक पराशर पप्पी के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने किया चुनाव प्रचार मुख्यमंत्री भगवंत मान ने फतेहगढ़ साहिब से उम्मीदवार गुरप्रीत सिंह जीपी के लिए किया प्रचार मुख्यमंत्री भगवंत मान प्रसिद्ध पंजाबी कवि सुरजीत पातर जी के भोग रस्म में हुए शामिल रवनीत सिंह बिट्टू के बेबुनियाद आरोपों पर वड़िंग ने किया पलटवार पंजाब में बेहतर कानून व्यवस्था बहाल करना पहली प्राथमिकता : विजय इंदर सिंगला पंजाब में लगातार मजबूत हो रही आम आदमी पार्टी, विपक्षी पार्टियों के कई बड़े नेता आप में हुए शामिल महिलाओँ के सम्मान से कोई समझौता नहीं करती भाजपा : जय इंद्र कौर आम आदमी पार्टी ढाई सालों में एक भी वायदे को नहीं कर सकी पूरा : परनीत कौर यूटी के लिए कांग्रेस-आप के घोषणा पत्र ने दोनों पार्टियों के पंजाब विरोधी चेहरे को बेनकाब कर दिया: सुखबीर सिंह बादल शिरोमणी अकाली दल की अगली सरकार नदियों के किनारे की जमीन पर खेती करने वाले सभी बार्डर वाले किसानों को जमीन का अधिकार देगी: सरदार सुखबीर सिंह बादल किसानों को धान उगाने के लिए नहीं जलाना पड़ेगा डीजल: मीत हेयर कांग्रेस सरकार आने पर पुरानी पेंशन स्कीम होगी बहाल : गुरजीत सिंह औजला राजा वड़िंग को गिल और आत्म नगर में मिला जोरदार समर्थन; कांग्रेस की उपलब्धियों को गिनाया पत्रकारों, युवाओं और महिलाओं के लिए कांग्रेस का बड़ा वादा : सप्पल की भारत के लिए साहसी योजना मैं प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि से आया हूं,चंडीगढ़ को जय श्रीराम मजीठा में कांग्रेस को मिला जबरदस्त प्यार पंजाब में कानून व्यवस्था जीरो,योगी से ट्रेनिंग लें भगवंत मान : डा. सुभाष शर्मा नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ही भारत विकसित हो सकता है:अरविंद खन्ना सी-विजिल ऐप पर प्राप्त 27 शिकायतों का सौ मिनट के भीतर निपटारा: डी.सी कांगड़ा हेमराज बैरवा अमृतसर से छीने एम्स को लाया जाएगा वापिस एलपीयू के फैशन स्टूडेंट ने गुड़गांव में लाइफस्टाइल वीक में अपना कलेक्शन प्रदर्शित किया

 

बेला फार्मेसी कॉलेज ने राष्ट्रीय फार्मेसी शिक्षा दिवस मनाया

Bela Pharmacy College, Amar Shaheed Baba Ajit Singh Jujhar Singh Memorial College of Pharmacy, Bela,College of Pharmacy BELA
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

बेला , 06 Mar 2024

अमर शहीद बाबा अजीत सिंह जुझार सिंह मेमोरियल कॉलेज ऑफ फार्मेसी (स्वायत्त) बेला में प्रोफेसर एम.एल. श्रॉफ की जयंती मनाई गई, जिन्हें व्यापक रूप से भारतीय फार्मेसी शिक्षा का जनक माना जाता है। यह कार्यक्रम बड़े उत्साह के साथ मनाया गया,  साथ ही शिक्षकोंऔर छात्रों ने फार्मेसी शिक्षा के क्षेत्र में इस प्रभावशाली व्यक्ति को श्रद्धांजलि अर्पित की।

कॉलेज के निदेशक डॉ. शैलेश शर्मा ने कहा कि यह उत्सव फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया, नई दिल्ली के निर्देशों के अनुरूप है, जिसमें प्रोफेसर एम.एल. श्रॉफ के जन्मदिन को राष्ट्रीय फार्मेसी शिक्षा दिवस के रूप में नामित किया गया है। इस वर्ष, उत्सव के लिए चुनी गई थीम थी "समन्वय का लाभ उठाना: राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के कार्यान्वयन के लिए उद्योग-अकादमिक साझेदारी" है| 

इस अवसर ने फार्मेसी शिक्षा के क्षेत्र में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के सफल कार्यान्वयन के लिए आवश्यक सहयोगात्मक प्रयासों पर जोर देते हुए शिक्षा और फार्मास्युटिकल उद्योग के बीच महत्वपूर्ण संबंधों के बारे में जागरूकता और समझ को बढ़ावा देने के लिए एक मंच के रूप में कार्य किया। कार्यक्रम के दौरान, डॉ. मोनिका गुप्ता ने भारत में फार्मेसी शिक्षा में उनके महत्वपूर्ण योगदान पर प्रकाश डालते हुए, प्रोफेसर श्रॉफ के बायोस्केच में अंतर्दृष्टि प्रदान की। 

डॉ. अजय सिंह कुशवाह ने छात्रों को बहुमूल्य जानकारी प्रदान करते हुए फार्मेसी शिक्षा के संदर्भ में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पेश की। डॉ. सतनाम सिंह ने आभार व्यक्त करते हुए कार्यक्रम में सक्रिय भागीदारी के लिए सभी विद्यार्थियों एवं संकाय सदस्यों को धन्यवाद दिया।

ਬੇਲਾ ਫਾਰਮੇਸੀ ਕਾਲਜ ਨੇ ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਦਿਵਸ ਮਨਾਇਆ

ਬੇਲਾ

ਅਮਰ ਸ਼ਹੀਦ ਬਾਬਾ ਅਜੀਤ ਸਿੰਘ ਜੁਝਾਰ ਸਿੰਘ ਮੈਮੋਰੀਅਲ ਕਾਲਜ ਆਫ਼ ਫਾਰਮੇਸੀ (ਆਟੋਨੋਮਸ) ਬੇਲਾ ਦੇ ਪ੍ਰੋਫੈਸਰ ਐਮ.ਐਲ. ਸ਼ਰਾਫ, ਜਿਸ ਨੂੰ ਵਿਆਪਕ ਤੌਰ 'ਤੇ ਭਾਰਤੀ ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਦਾ ਪਿਤਾਮਾ ਮੰਨਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ। ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਦੇ ਖੇਤਰ ਵਿੱਚ ਇਸ ਪ੍ਰਭਾਵਸ਼ਾਲੀ ਸ਼ਖਸੀਅਤ ਨੂੰ ਸ਼ਰਧਾਂਜਲੀ ਭੇਂਟ ਕਰਦੇ ਹੋਏ ਇਸ ਸਮਾਗਮ ਨੂੰ ਬਹੁਤ ਹੀ ਉਤਸ਼ਾਹ ਨਾਲ ਮਨਾਇਆ ਗਿਆ।

ਕਾਲਜ ਦੇ ਡਾਇਰੈਕਟਰ ਡਾ. ਸ਼ੈਲੇਸ਼ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਇਹ ਜਸ਼ਨ ਫਾਰਮੇਸੀ ਕੌਂਸਲ ਆਫ਼ ਇੰਡੀਆ, ਨਵੀਂ ਦਿੱਲੀ ਦੀਆਂ ਹਦਾਇਤਾਂ ਅਨੁਸਾਰ ਪ੍ਰੋ. ਐਮ.ਐਲ. ਸ਼੍ਰੋਫ਼ ਦੇ ਜਨਮ ਦਿਨ ਨੂੰ ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਦਿਵਸ ਵਜੋਂ ਮਨੋਨੀਤ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਹੈ। ਇਸ ਸਾਲ, ਜਸ਼ਨ ਲਈ ਚੁਣਿਆ ਗਿਆ ਥੀਮ ਸੀ "ਲੀਵਰੇਜਿੰਗ ਸਿਨਰਜਿਜਮ: ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਸਿੱਖਿਆ ਨੀਤੀ 2020 ਨੂੰ ਲਾਗੂ ਕਰਨ ਲਈ ਉਦਯੋਗ-ਅਕਾਦਮੀਆ ਭਾਈਵਾਲੀ"। 

ਇਸ ਮੌਕੇ ਨੇ ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਦੇ ਖੇਤਰ ਵਿੱਚ ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਸਿੱਖਿਆ ਨੀਤੀ 2020 ਨੂੰ ਸਫਲਤਾਪੂਰਵਕ ਲਾਗੂ ਕਰਨ ਲਈ ਲੋੜੀਂਦੇ ਸਹਿਯੋਗੀ ਯਤਨਾਂ 'ਤੇ ਜ਼ੋਰ ਦਿੰਦੇ ਹੋਏ, ਅਕਾਦਮਿਕਤਾ ਅਤੇ ਫਾਰਮਾਸਿਊਟੀਕਲ ਉਦਯੋਗ ਦੇ ਵਿਚਕਾਰ ਮਹੱਤਵਪੂਰਨ ਸਬੰਧਾਂ ਬਾਰੇ ਜਾਗਰੂਕਤਾ ਅਤੇ ਸਮਝ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਿਤ ਕਰਨ ਲਈ ਇੱਕ ਪਲੇਟਫਾਰਮ ਵਜੋਂ ਕੰਮ ਕੀਤਾ। ਈਵੈਂਟ ਦੌਰਾਨ, ਡਾ. ਮੋਨਿਕਾ ਗੁਪਤਾ ਨੇ ਭਾਰਤ ਵਿੱਚ ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਵਿੱਚ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਮਹੱਤਵਪੂਰਨ ਯੋਗਦਾਨ 'ਤੇ ਚਾਨਣਾ ਪਾਉਂਦਿਆਂ ਪ੍ਰੋ. ਸ਼੍ਰੋਫ ਦੇ ਬਾਇਓਸਕੈਚ ਬਾਰੇ ਜਾਣਕਾਰੀ ਦਿੱਤੀ। 

ਡਾ: ਅਜੈ ਸਿੰਘ ਕੁਸ਼ਵਾਹ ਨੇ ਫਾਰਮੇਸੀ ਸਿੱਖਿਆ ਦੇ ਸੰਦਰਭ ਵਿੱਚ ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਸਿੱਖਿਆ ਨੀਤੀ 2020 ਦੀ ਸ਼ੁਰੂਆਤ ਕਰਦਿਆਂ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਨੂੰ ਵੱਡਮੁੱਲੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕੀਤੀ। ਡਾ: ਸਤਨਾਮ ਸਿੰਘ ਨੇ ਧੰਨਵਾਦ ਪ੍ਰਗਟ ਕਰਦਿਆਂ ਸਾਰੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਅਤੇ ਫੈਕਲਟੀ ਮੈਂਬਰਾਂ ਦਾ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਵਿੱਚ ਸਰਗਰਮ ਸ਼ਮੂਲੀਅਤ ਲਈ ਧੰਨਵਾਦ ਕੀਤਾ। 

Bela Pharmacy College Celebrates the National Pharmacy Education Day

Bela

Amar Shaheed Baba Ajit Singh Jujhar Singh Memorial College of Pharmacy (Autonomous) BELA, celebrated the Birth Anniversary of Prof. M. L. Schroff, widely regarded as the Father of Indian Pharmacy Education. The event was marked with great enthusiasm as faculty members and students paid tribute to this influential figure in the field of pharmacy education.

According to the Director of the college Dr. Shailesh Sharma,  the celebration aligns with the instructions of the Pharmacy Council of India, New Delhi, designating Prof. M. L. Schroff's birthday as the National Pharmacy Education Day. This year, the theme chosen for the celebration was "Leveraging Synergism: Industry-Academia Partnership for Implementation of National Education Policy 2020." 

The celebration showcased the college's commitment to honoring pioneers in pharmacy education and fostering a dynamic learning environment that aligns with the evolving landscape of education policies in the country. During the event, Dr. Monika Gupta provided insights into the biosketch of Prof. Schroff, shedding light on his significant contributions to pharmacy education in India. 

Dr. Ajay Singh Kushwah took the opportunity to introduce the National Education Policy 2020 in the context of pharmacy education, offering valuable information to the students. Expressing gratitude, Dr. Satnam Singh extended thanks to all the students and faculty members for their active participation in the program. 

The occasion served as a platform to foster awareness and understanding of the crucial linkages between academia and the pharmaceutical industry, emphasizing the collaborative efforts needed for the successful implementation of the National Education Policy 2020 in the field of pharmacy education.

 

Tags: Bela Pharmacy College , Amar Shaheed Baba Ajit Singh Jujhar Singh Memorial College of Pharmacy , Bela , College of Pharmacy BELA

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD