Thursday, 22 February 2024

 

 

खास खबरें संदेशखाली की घटना भाजपा की सोची समझी साजिश - आप प्रवक्ता नील गर्ग बंगाल में सरदार आईपीएस अधिकारी को खलिस्तानी बोले जाने की घटना की आम आदमी पार्टी ने की सख्त निंदा, कहा - भाजपा ने सिख धर्म का अपमान किया है बेला फार्मेसी कॉलेज में मां बोली दिवस मनाया गया कांगड़ा जिला में 03 मार्च को पिलाई जाएगी पोलियो की खुराक: डी सी डा हेमराज बैरवा राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल को विश्वभर में श्री राम पर जारी स्मारक डाक टिकट की पुस्तिका भेंट की प्रतिष्ठित पीईसी के पूर्व छात्र डॉ. रूप लाल महाजन ने पीईसी का दौरा किया विख्यात फिल्म निर्माता एवं निर्देशक विवेक अग्निहोत्री बने मानव मन्दिर के ब्रांड एम्बेसेडर 10,000 रुपये रिश्वत लेते हुए ए.एस.आई को विजीलैंस ने किया काबू नगर निगम कर्मचारियों के नाम पर 30,000 रुपए की रिश्वत लेने वाला विजीलैंस ब्यूरो द्वारा काबू प्रधानमंत्री ने जम्मू-कश्मीर में 32,000 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया, राष्ट्र को समर्पित किया और आधारशिला भी रखी पंजाब में नहरी पानी के बुनियादी ढांचे नहरों और खालों को मज़बूत किया जायेगा : चेतन सिंह जौड़ामाजरा चंडीगढ़ मेयर चुनाव में आखिरकार संविधान और लोकतंत्र की हुई जीत- अरविंद केजरीवाल चंडीगढ़ मेयर चुनाव : सुप्रीम कोर्ट का फैसला लोकतंत्र की जीत - आप राजभवन में अरूणाचल प्रदेश और मिज़ोरम का स्थापना दिवस आयोजित पर्यटन व संस्कृति विभाग की ओर से 1 से 5 मार्च तक होगा ‘होशियारपुर नेचर फेस्ट’: कोमल मित्तल चेतन सिंह जौड़ामाजरा द्वारा तलवंडी भाई और ज़ीरा में संशोधित पानी को सिंचाई के लिए बरतने के प्रोजेक्टों का उद्घाटन 3000 रुपए की रिश्वत लेता सीनियर कॉन्स्टेबल विजीलैंस ब्यूरो द्वारा काबू राज्यपाल ने दिव्यांगजनों के समावेशी विकास में चेतना संस्था के प्रयासों को सराहा मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने लोक निर्माण विभाग के 15 टिप्परों को रवाना किया सीजीसी लांडरां के सीबीएसए ने वित्तीय सम्मेलन की पृष्ठभूमि पर प्रतियोगिता का आयोजन किया शहर वासियों को पीने वाला साफ पानी मुहैया करवाने में नहीं छोड़ी जा रही है कोई कमी: ब्रम शंकर जिंपा

 

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ऊना शहर व सीमावर्ती क्षेत्रों के लिए जल निकासी योजना के निर्माण की घोषणा की

ऊना शहर के बाईपास निर्माण के लिए किया जाएगा सर्वेक्षण, कहा जल शक्ति विभाग में भरे जाएंगे 10 हजार पद

Sukhvinder Singh Sukhu, Himachal Pradesh, Himachal, Congress, Indian National Congress, Himachal Congress, Shimla, Chief Minister of Himachal Pradesh, Mukesh Agnihotri
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

ऊना , 02 Dec 2023

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने आज ओल्ड बस स्टैंड ऊना में एक भारी जनसभा को सम्बोधित करते हुए ऊना शहर के बाई पास निर्माण के लिए सर्वेक्षण करवाने की घोषणा की। उन्होंने ऊना शहर के लिए जल निकासी योजना, गांव संतोषगढ़, सनोली, वीनेबाल, पूना, मलूकपूर व मजारा में जल निकासी के लिए योजना, भवौर साहिब उठाऊ सिंचाई योजना के विस्तार तथा जिला मुख्यालय के साथ लगते लोअर अरनियाला, मलामत, रामपुर व रक्कड़ के लिए मल निकासी योजना का निर्माण करने की घोषणा भी की।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश चार वर्षों में आत्मनिर्भर बनेगा, जिसकी शुरूआत आज ऊना जिला से हुई है। आजादी के बाद सबसे बड़ी सौर ऊर्जा परियोजना जिला ऊना में स्थापित होगी। उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार ने ऊना में पीजीआई सेटेलाइट केंद्र बनाने की मात्र घोषणा की, लेकिन इसे आगे बढ़ाने के सार्थक प्रयास नहीं किए। वर्तमान सरकार ने एक सप्ताह में पर्यावरण स्वीकृति सुनिश्चित कर इस केंद्र का निर्माण कार्य शुरू करवाया। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के प्रयासों से ही बल्क ड्रग पार्क का निर्माण कार्य तीव्रता से आगे बढ़ रहा है तथा इससे लगभग 10 हजार युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक वर्ष पहले हमीरपुर संसदीय सीट से इतिहास बना, जब मुख्यमंत्री व उप-मुख्यमंत्री इसी क्षेत्र से बने। उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष में जब भी चुनौतियां आईं तो उप-मुख्यंमत्री के साथ मिलकर उनका सफलतापूर्वक सामना किया। सरकार बनने के बाद अधिकारियों ने अवगत करवाया कि राज्य सरकार पर 75 हजार करोड़ का कर्ज है। प्रदेश के वित्तीय कुप्रबंधन पर राज्य सरकार ने विधानसभा में श्वेत पत्र लाया जिसे उप-मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने प्रस्तुत किया।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार के कार्यकाल में जेओए (आईटी) की भर्ती रुकी रही, लेकिन वर्तमान सरकार ने इसके लिए निरंतर प्रयास किए। उन्होंने स्वयं इन मामलों की निगरानी की और सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार के हक में फैसला सुनाया। उन्होंने कहा कि जल्द ही पोस्ट कोड 817 व 939 का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार के कार्यकाल में 2500 करोड़ का क्रिप्टोकरंसी घोटाला, 100 करोड़ का माइनिंग घोटाला व पुलिस भर्ती घोटाला हुआ। इसके अलावा कर्मचारी चयन आयोग में पेपर बेचे गए और आज भी भाजपा के नेता जनता को ठगने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि चार साल तक पेपर बिकते रहे और पेपर खरीदने वालों को नौकरी मिलती रही, जबकि भाजपा सरकार मूकदर्शक बनी रही। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा राज्य चयन आयोग का गठन किया गया है, जिसमें पेपर लीक जैसी कोई घटना नहीं होगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार हिमाचल को फिर से आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रयासरत है तथा ऐसी योजनाएं शुरू करने जा रही है जिससे युवाओं को रोजगार, किसानों व महिलाओं को सम्मान सुनिश्चित होगा।

उन्होंने कहा कि जल शक्ति विभाग में 10 हजार पद भरे जाएंगे। इसके साथ-साथ 7 हजार अध्यापक, 2 हजार वन मित्र तथा 1226 पद पुलिस में भरने जा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस भर्ती में राज्य सरकार महिलाओं को 30 प्रतिशत आरक्षण प्रदान कर रही है।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि अच्छे शासन के लिए अच्छे प्रशासन का होना आवश्यक है। प्रथाओं को तोड़कर मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण के बाद उन्होंने टूटीकंडी बालिका आश्रम का दौरा किया। आवासियों की पीड़ा को समझा और अनाथ बच्चों की देखभाल के लिए देश का पहला कानून बनाया, जिसके तहत सभी अनाथ बच्चों को ‘चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट’ का दर्जा दिया गया, जिसके तहत उनकी पूरी देखभाल का जिम्मा राज्य सरकार का है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना के तहत वर्तमान राज्य सरकार 18 वर्ष तक के अनाथ बच्चों को 2500 रुपए प्रति माह तथा 27 वर्ष तक के बच्चों को 4 हजार रुपए पॉकेट मनी के रूप में दे रही है। उनकी शादी तथा स्टार्ट-अप के लिए 2-2 लाख रुपए की आर्थिक मदद प्रदान करने के साथ-साथ उन्हें घर बनाने के लिए भूमि उपलब्ध करवाई जाएगी और 3 लाख रुपए आर्थिक सहायता सहित अन्य सुविधाएं भी दी जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की आर्थिक तंगहाली के बावजूद राज्य  सरकार  ने 1.36 लाख सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना बहाल की, ताकि वे वृद्धावस्था में सम्मानजनक जीवनयापन कर सकें। उन्होंने कहा कि मैं भी एक कर्मचारी बेटा हूं तथा मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए ओपीएस लागू कर अपनी चुनावी गारंटी पूरी की है। इसके साथ ही शिक्षा क्षेत्र में व्यापक स्तर पर व्यवस्था परिवर्तन किया जा रहा है। राज्य सरकार प्रदेश के स्वास्थ्य संस्थानों को भी सुदृढ़ कर रही है।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि राज्य सरकार ने दस में से तीन गारंटियों को पूरा कर दिया है। 680 करोड़ रुपए की राजीव गांधी स्वरोजगार स्टार्ट-अप योजना का पहला चरण आरंभ कर दिया गया है। इसके तहत युवाओं को आय का साधन प्रदान करने के लिए ई-टैक्सी खरीद पर 50 प्रतिशत सब्सिडी का प्रावधान है। वर्तमान राज्य सरकार 100 किलोवाट से लेकर 1 मैगावाट तक की सौर परियोजनाओं की स्थापना पर युवाओं को 40 प्रतिशत सब्सिडी की एक योजना जल्द ही शुरू करने जा रही है। किसानों को खेती के लिए प्रोत्साहित करने के लिए, दूध का उचित मूल्य प्रदान करने के लिए वर्तमान सरकार निरंतर प्रयास कर रही है। उन्होंने युवाओं से इन योजनाओं का लाभ लेने का आह्वान किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष बरसात में भारी बारिश एवं भूस्खलन से आई आपदा से हिमाचल प्रदेश में 16 हजार घरों को नुकसान पहुंचा। लोगों के दर्द से वे वाकिफ हैं, इसलिए आर्थिक तंगी के बावजूद व नियमों में बदलाव कर राज्य सरकार ने 4500 करोड़ रुपए का विशेष पैकेज आपदा प्रभावितों को दिया। उन्होंने कहा कि इसके तहत पूरी तरह से क्षतिग्रस्त घर के लिए 1.30 लाख रुपये के मुआवजे को साढ़े पांच गुणा बढ़ाकर सात लाख रुपये किया गया है। कच्चे मकान के आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त होने पर मुआवजे को 25 गुणा बढ़ाते हुए 4000 रुपये से एक लाख रुपये तथा पक्के घर को आंशिक क्षति होने पर मुआवजे को साढ़े 15 गुणा बढ़ाकर एक लाख रुपये किया गया है। इसके साथ-साथ बिजली व पानी का फ्री कनेक्शन तथा 280 रुपए प्रति बोरी की दर से सीमेंट उपलब्ध करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से इस आपदा में आर्थिक मदद की उम्मीद थी लेकिन, वह पूरी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि जब विधानसभा में प्रदेश सरकार ने हिमाचल की इस आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने के लिए प्रस्ताव लाया तो भाजपा के विधायक आपदा में भी लोगों के साथ खड़े नहीं हुए। उन्होंने कहा कि भाजपा सिर्फ राजनीति करती है जबकि वर्तमान राज्य सरकार लोगों की निस्वार्थ सेवा कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य के तीन भाजपा सांसदों ने कभी भी केंद्र सरकार से विशेष पैकेज की पैरवी नहीं की और वह सिर्फ चुनाव में वोट मांगने आएंगे।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने श्रीनिवास रामानुजन स्टूडेंट डिजिटल योजना के अंतर्गत वित्त वर्ष 2021-22 के लिए हिमाचल प्रदेश में 10वीं व 12वीं तथा कॉलेज स्तर के 25 मेधावी विद्यार्थियों को टैबलेट वितरित किए। जिला में कुल 10552 मेधावी विद्यार्थियों को इस वर्ष टैबलेट वितरित किये जा रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना के अंतर्गत 10 अनाथ बच्चों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए।

उप-मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि आज ऊना जिला के लिए एक नई शुरूआत है क्योंकि यहां पहली बार सौर संयंत्र से वृहद स्तर पर विद्युत उत्पादन होने जा रहा है। इससे राज्य की आय भी बढ़ेगी। वर्तमान राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का अधिकार दिया लेकिन, पिछली भाजपा सरकार में कर्मचारियों को पुरानी पेंशन मांगने पर प्रताड़ित किया जाता था। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार कर्मचारियों की हितैषी है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में सरकारी कर्मचारियों की पेंशन के लिए कानून बनाया जाएगा, ताकि कोई भी उनके हक न छीन सके। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार अपनी सभी गारंटियों को चरणबद्ध ढंग से पूरा करेगी।

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार का अड्डा बने हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग को भंग किया गया और नए चयन आयोग का गठन किया गया है। उन्होंने कहा सरकार 10 हजार पद जल शक्ति विभाग में भरने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार पांच वर्ष तक दृढ़ता से कार्य करेगी। उन्होंने विपक्ष से हिमाचल प्रदेश के विकास में राज्य सरकार का साथ देने की अपील की। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार सकारात्मक ऊर्जा के साथ कार्य कर रही है, जिसमें आम आदमी के लिए काम करने का जज्बा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से आपदा के लिए कोई आर्थिक मदद नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में वर्तमान राज्य सरकार ने बल्क ड्रग पार्क की पैरवी की और अब उसके लिए धनराशि मिल रही है। पीजीआई सैटेलाइट केंद्र ऊना के लिए पर्यावरण स्वीकृति मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू के दृढ़ प्रयासों से मिली है।

उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि 3 दिसंबर को पांच राज्यों में कांग्रेस पार्टी की सरकार का गठन होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में जनता के आशीर्वाद से हिमाचल से चारों लोकसभा सीटों पर कांग्रेस पार्टी की जीत होगी।

विधायक सुदर्शन बबलू ने कहा कि आपदा के दौरान मुख्यमंत्री ने हर क्षेत्र में जाकर स्वयं राहत कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेताओं के हिमाचल की मदद के लिए केंद्र सरकार से आर्थिक सहायता की कोई बात नहीं की। उन्होंने कहा कि 75 हजार रुपये का कर्ज होने के बावजूद मुख्यमंत्री प्रदेश के विकास के लिए दिन-रात कार्य कर रहे हैं।

विधायक देवेंद्र भुट्टो ने कहा कि आपदा के कारण पूरे प्रदेश तथा कुटलैहड़ में भी भारी नुकसान हुआ है लेकिन राज्य सरकार ने त्वरित कार्यवाही करते हुए सभी प्रभावितों तक मदद पहुंचाई। उन्होंने पुरानी पेंशन बहाल करने के लिए मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू का आभार जताया।

विधायक चैतन्य शर्मा ने कहा कि आपदा के कारण प्रदेश में बहुत क्षति हुई लेकिन मुख्यमंत्री ने अपने स्वास्थ्य की परवाह न करते हुए सशक्त नेतृत्व प्रदान किया और प्रभावित परिवारों की मदद की। उन्होंने कहा कि राज्य में आपदा से 12 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है लेकिन केंद्र सरकार ने कोई मदद नहीं की। उन्होंने गगरेट में राजीव गांधी राजकीय डे-बोर्डिंग का शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया।

पूर्व विधायक सतपाल रायजादा ने मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू का स्वागत करते हुए जिला ऊना के लिए सभी परियोजनाओं की सौगात के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार नेक नीयत और संवदेनशीलता के साथ काम कर रही है तथा आपदा प्रभावितों की सहायता के लिए विशेष राहत पैकेज लेकर आई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने पुरानी पेंशन योजना को बहाल कर कर्मचारियों के साथ किए गए वादे को निभाया है।

इस अवसर पर मुख्य संसदीय सचिव सुन्दर सिंह ठाकुर, पूर्व मंत्री कुलदीप कुमार, प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष निगम भंडारी, जिला कांग्रेस अध्यक्ष रणजीत सिंह राणा, कांग्रेस नेता विवेक शर्मा, उपायुक्त राघव शर्मा, एसपी अर्जित सेन ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

 

Tags: Sukhvinder Singh Sukhu , Himachal Pradesh , Himachal , Congress , Indian National Congress , Himachal Congress , Shimla , Chief Minister of Himachal Pradesh , Mukesh Agnihotri

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD