Friday, 19 April 2024

 

 

खास खबरें PEC के पूर्व छात्र, स्वामी इंटरनेशनल, यूएसए के संस्थापक और अध्यक्ष, श्री. राम कुमार मित्तल ने कैंपस दौरे के दौरान छात्रों को किया प्रेरित मुख्य निर्वाचन अधिकारी सिबिन सी द्वारा फेसबुक लाइव के ज़रिये पंजाब के वोटरों के साथ बातचीत महलों में रहने वाले गरीबों का दुख नहीं समझ सकते: एन.के.शर्मा एनएसएस पीईसी ने पीजीआईएमईआर के सहयोग से रक्तदान शिविर का आयोजन किया गर्मी की एडवाइजरी को लेकर सिविल सर्जन ने ली मीटिंग अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा बने सैवसोल ल्यूब्रिकेंट्स के ब्रांड एंबेसडर सिंगर जावेद अली ने स्पीड इंडिया एंटरटेनमेंट का गीत किया रिकॉर्ड अनूठी पहलः पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सिबिन सी 19 अप्रैल को फेसबुक पर होंगे लाइव आदर्श आचार संहिता की पालना को लेकर सोशल मीडिया की रहेगी विशेष निगरानी- मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल चुनाव में एक दिन देश के नाम कर चुनाव का पर्व, देश का गर्व बढ़ाए- अनुराग अग्रवाल प्रदेश की 618 सरकारी व निजी इमारतों की लिफ्टों पर चिपकाए गए जागरूकता स्टीकर - मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल सेफ स्कूल वाहन पालिसी- तय शर्ते पूरी न करने वाली 7 स्कूल बसों का हुआ चालान चंडीगढ़ में पंजाबी को नंबर वन भाषा बना कर दिखाएंगे-संजय टंडन 4500 रुपए रिश्वत लेता सहायक सब इंस्पेक्टर विजीलैंस ब्यूरो द्वारा काबू एलपीयू के वार्षिक 'वन इंडिया-2024' कल्चरल फेस्टिवल में दिखा भारतीय संस्कृति का शानदार प्रदर्शन पंचकूला के डी.सी. पद से हटाए जाने बावजूद सुशील सारवान जिले में ही तैनात रवनीत बिट्टू के विपरीत, कांग्रेस ने हमेशा बेअंत सिंह जी की विरासत का सम्मान किया है: अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग कुंवर विजय प्रताप के भाषण को गंभीरता से लिया जाना चाहिए और जांच होनी चाहिए: बाजवा दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने दिल्ली फतेह दिवस समारोह के लिए निहंग सिंह प्रमुख बाबा बलबीर सिंह को सौंपा निमंत्रण पत्र इंसानी साहस और सच का तानाबाना हैं पुरबाशा घोष की बुक 'एनाटोमी ऑफ़ ए हाफ ट्रुथ' इनेलो ने 28 वर्षीय मजहबी सिख बाल्मिकी समुदाय से युवा सरदार गुरप्रीत सिंह को बनाया अंबाला लोकसभा से उम्मीदवार

 

आम आदमी पार्टी ने सुनील जाखड़ से किया सवाल, पूछा - भारत सरकार की ऑफिशल वेबसाइट पर पंजाब की झांकी का कॉन्सेप्ट मौजूद, बताएं कहां है भगवंत मान और अरविंद केजरीवाल की तस्वीर?

अगर महाराष्ट्र की नारी शक्ति, संस्कृति और स्वतंत्रता सेनानियों की झांकी स्वीकार की जा सकती है तो पंजाब की झांकी में भी माई भागो (महिला शक्ति), संस्कृति और शहीदों की कुर्बानी थी। फिर किस आधार पर पंजाब का कांसेप्ट खारिज किया गया? - कंग

Malwinder Singh Kang
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

चंडीगढ़ , 29 Dec 2023

गणतंत्र दिवस की झांकी के मसले पर आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पंजाब की झांकी को लगातार दूसरे साल भी जगह न देने के बाद हम उम्मीद कर रहे थे कि पंजाब भाजपा के नेता इस मामले पर पंजाब के साथ खड़े होंगे। मगर पंजाब भाजपा प्रधान सुनील जाखड़ ने राज्य के साथ खड़े होने के बजाय इस मामले पर झूठ बोला।  

कंग ने मीडिया को भारत सरकार की ऑफिशल वेबसाइट पर पंजाब का भेजा हुआ कॉन्सेप्ट दिखाया और कहा कि इसमें कहीं भी भगवंत मान और अरविंद केजरीवाल की तस्वीर नहीं है। इससे साबित होता है कि सुनील जाखड़ ने बिल्कुल झूठ बोला। कंग ने कहा कि जब से केन्द्र में नरेंद्र मोदी आए हैं तब से भाजपा ने झूठ की दुकान खोल रखी है। भाजपा नेता हर मामले पर लगातार झूठ बोलते रहते हैं।

कंग ने कहा कि पंजाब सरकार ने जो अपनी झांकियों का कॉन्सेप्ट भेजा था उसमें पहली नारी शक्ति के रूप में माई भागो की थी। दूसरी पंजाब के शहीदों की और तीसरी झांकी पंजाब की विरासत को लेकर थी। इन झांकियों को भारत सरकार के ऑफिशल वेबसाइट पर भी देखी जा सकती है। लेकिन सुनील जाखड़ ने मुख्यमंत्री भगवंत मान और अरविंद केजरीवाल की फोटो का झूठ बोलकर पंजाब के लोगों के साथ धोखा किया। हमें उनसे इस तरह की घटिया झूठ बोलने की उम्मीद नहीं थी।

कंग ने कहा कि भाजपा का यह रवैया बताता है कि वह भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु और करतार सिंह सराभा को शहीद नहीं मानती। भाजपा अपनी घटिया राजनीति के लिए पंजाब के शहीदों, जिन्होंने भारत की आजादी में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया, उनका अपमान कर रही है। इसका कारण यह है कि भाजपा की मातृसंस्था आरएसएस ने आजादी के समय अंग्रेजों का साथ दिया था और आजादी के कई सालों बाद तक वह तिरंगे झंडे का सम्मान नहीं करती थी। यह घटना भी उसकी इसी घटिया सोच का नतीजा है।

कंग ने गुजरात और महाराष्ट्र की झांकी के कांसेप्ट का जिक्र किया और कहा कि गुजरात और महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार है और दोनों राज्यों के कांसेप्ट में वहां की संस्कृति दिख रही है। महाराष्ट्र की झांकी में वहां की संस्कृति के साथ स्वतंत्रता सेनानियों शिवाजी महाराज और डॉ भीमराव अम्बेडकर की तस्वीर है। वहीं गुजरात की झांकी में वहां की महिला शक्ति और संस्कृति को दिखाया गया है। पंजाब की झांकी में भी एक माई भागो(महिला शक्ति) दूसरा यहां की संस्कृति और तीसरे में यहां के शहीदों की कुर्बानी थी। फिर किस आधार पर पंजाब का कांसेप्ट खारिज किया गया?

कंग ने कहा कि देश के जिन-जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है उन राज्यों को पिछले पांच सालों से लगातार 26 जनवरी की परेड में जगह दी गई है लेकिन पंजाब को इन्होंने दूसरी बार लगातार परेड से बाहर किया है।  कंग ने सवाल किया कि भाजपा नेता जवाब दें कि अगर महाराष्ट्र की नारी शक्ति, संस्कृति और स्वतंत्रता सेनानियों की झांकी स्वीकार की जा सकती है तो पंजाब की नारी शक्ति और शहीदों की झांकी रिजेक्ट क्यों की गई? उन्होंने कहा कि इससे साफ है कि भाजपा को पंजाब, पंजाबियत और देश के शहीदों से नफरत है।

 

Tags: Malwinder Singh Kang , Malvinder Singh Kang , AAP , Aam Aadmi Party , Aam Aadmi Party Punjab , AAP Punjab

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD