Friday, 23 February 2024

 

 

खास खबरें IIT रोपड़ के टेक्निकल फेस्ट में PEC छात्रों ने अपने नाम किये कई ईनाम 'PEC में दोबारा आना एक यादगारी अनुभव है' : कपिलेश्वर सिंह बीजेपी हम पर इंडिया गठबंधन छोड़ने का दबाव बना रही है, वे जल्द अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की योजना बना रहें : आप पंजाब द्वारा दुबई में ‘गल्फ-फूड 2024’ के दौरान फूड प्रोसेसिंग की उपलब्धियाँ और संभावनाओं का प्रदर्शन, निवेश के लिए न्योता कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने 27 फार्मासिस्टों व 28 को क्लीनिक असिस्टेंटों को सौंपे नियुक्ति पत्र 1900 रुपए मानदेय बढ़ाने के लिए कंप्यूटर अध्यापकों ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का आभार व्यक्त किया ब्रिटिश उच्चायोग और हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से भेंट की 'क़ैद - नो वे आउट' - प्यार, दुर्व्यवहार और उस से बाहर निकलने की एक मनोरंजक कहानी चितकारा यूनिवर्सिटी में "चितकारा लिट फेस्ट 2024"' विद्युत जामवाल की ''क्रैक- जीतेगा तो जियेगा' एक्शन फिल्मों की सूची में सबसे ऊपर मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पंजाब मंत्रिमंडल द्वारा एक मार्च से 15 मार्च तक बजट सत्र बुलाने की मंजूरी पंजाब में स्वास्थ्य सेवाओं में आया क्रांतिकारी बदलावः ब्रम शंकर जिंपा डाइट मनी में पांच गुणा बढ़ोतरी पर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का आभार व्यक्त किया PEC के विद्यार्थियों ने IGNUS 2024 में दिखाए अपने जौहर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ‘हिमाचल प्रदेश लैंड कोड’ के नवीन संस्करण का अनावरण किया पीईसी चंडीगढ़ के गणित विभाग ने हालिया प्रगति पर दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई ऑनलाइन जॉब फ्रॉड रैकेट: पंजाब पुलिस की साईबर क्राइम डिवीजऩ ने असम से चार साईबर धोखेबाज़ों को किया गिरफ़्तार एलपीयू, आईआईटी और अन्य विश्वविद्यालयों को पछाड़ते हुए भारत में अग्रणी पेटेंट फाइलर के रूप में उभरा मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ‘अध्यापकों के अंतर्राष्ट्रीय भ्रमण’ कार्यक्रम का शुभारंभ किया शुभकरन के कातिलों को मिसाली सज़ा दिलाई जायेगी - मुख्यमंत्री का ऐलान पारदर्शिता ही ‘घर- घर मुफ़्त राशन’ योजना की मुख्य विशेषता: लाल चंद कटारूचक्क

 

मुख्य सचिव अटल डुल्लू ने उद्योगों के साथ नियमित बातचीत हेतु एक औपचारिक तंत्र बनाने पर जोर दिया

Atal Dulloo, Kashmir, Jammu And Kashmir, Jammu & Kashmir, Chief Secretary Kashmir
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

जम्मू , 04 Dec 2023

मुख्य सचिव अटल डुल्लू ने यूटी में औद्योगिक नीति के कामकाज और कार्यान्वयन का जायजा लेने हेतु उद्योग और वाणिज्य विभाग की पहली समीक्षा बैठक की। बैठक में आयुक्त सचिव उद्योग और वाणिज्य, आई एंड सी  सचिव, यूटी के दोनों डिवीजनों से आई एंड सी के एचओडी के अलावा संबद्ध निगमों के प्रबंध निदेशकों ने भाग लिया।

बैठक में डुल्लू ने उद्योगपतियों की चिंताओं को उजागर करने और उनके समाधान के लिए एक औपचारिक तंत्र बनाने के लिए विभाग पर जोर दिया। उन्होंने दोनों संभागों में समय पर फोरम की बैठकें आयोजित करने की सलाह दी और कहा कि मंच का उद्देश्य औद्योगिक क्षेत्र में हितधारकों के हितों की वकालत करना और उन्हें आगे बढ़ाना होना चाहिए।

इस तथ्य की सराहना करते हुए कि एमएसएमई जम्मू-कश्मीर में औद्योगिक क्षेत्र की रीढ़ हैं, मुख्य सचिव ने हर क्षेत्र में एमएसएमई इकाइयों को आवश्यक सहायता प्रदान करने पर जोर दिया, ताकि जम्मू एवं कश्मीर में बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन के लिए उनकी स्थिति को निचले से उच्च स्तर तक उन्नत किया जा सके। उन्होंने इच्छुक उद्यमियों द्वारा इकाइयों के समय पर संचालन को सुनिश्चित करने हेतु आवंटन की नियमित निगरानी के अलावा सभी नए औद्योगिक एस्टेट पर काम पूरा करने के लिए समयसीमा तय करने की सलाह दी।

इसके अतिरिक्त उन्होंने कहा कि पीएम विश्वकर्मा योजना एक ऐसा मंच है जो उन सीमांत कारीगरों और शिल्पकारों को अंत से अंत तक समर्थन की परिकल्पना करता है जो अपने हाथों से काम करते हैं और अपने काम के लिए समर्थन और मान्यता के पात्र हैं। इसलिए योजना के उचित क्रियान्वयन को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। उन्होंने स्वीकृत लक्ष्य के अनुरूप पंजीयन हेतु आवेदकों को हर प्रकार की सहायता उपलब्ध करवाने तथा ऐसे प्रत्येक कारीगर को पोर्टल पर शामिल करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

डुल्लू ने जीआई टैगिंग की प्रगति की भी समीक्षा की और उन्होंने 10 अधिसूचित उत्पादों के अलावा पाइपलाइन में मौजूद 11 उत्पादों के लिए इसे सुरक्षित करने के लिए सभी आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करने की सलाह दी। उन्होंने समयबद्ध तरीके से ऐसे अधिकृत उपयोगकर्ताओं की संख्या बढ़ाने के भी निर्देश दिये। बताया गया कि 46 नए आईई में से 7 और 8 क्रमशः इरकान और एनबीसीसी द्वारा और 6 प्रत्येक सीपीडब्ल्यूडी और सिडको/सिकाप द्वारा विकसित किए जा रहे हैं। 

मुख्य सचिव ने औद्योगिक संपदा के विकास और विभाग की भविष्य की योजनाओं, अब तक किए गए पूंजीगत व्यय के मुद्दों पर ध्यान दिया और इसकी गति को तेज करने और समय सीमा को पूरा करने का निर्देश दिया।आयुक्त सचिव, आईएंडसी ने बताया कि अक्टूबर 2023 तक, विभाग ने पिछले वित्तीय वर्ष में 2153.45 करोड़ रुपये का उच्चतम निवेश दर्ज करने के अलावा, यूटी में 2079.76 करोड़ रुपये का निवेश हासिल किया है।

एकल खिड़की प्रणाली, आईई के लिए भूमि का विकास, वहां उपयोगिताओं की उपलब्धता और गृह मंत्रालय द्वारा निगरानी किए जा रहे प्रमुख कार्यक्रमों और यूटी में उनकी स्थिति से संबंधित मुद्दे भी इस बैठक के दौरान चर्चा में आए। इसके अलावा डुल्लू ने विभिन्न क्षेत्रों के विकास की गति को बनाए रखने और यह सुनिश्चित करने पर जोर दिया कि हितधारकों की आकांक्षाएं भी परेशानी मुक्त तरीके से पूरी हों।

 

Tags: Atal Dulloo , Kashmir , Jammu And Kashmir , Jammu & Kashmir , Chief Secretary Kashmir

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD