Tuesday, 28 May 2024

 

 

LATEST NEWS Arvind Kejriwal in Ludhiana - BJP is conspiring to stop your free electricity Send your son to the parliament, he will definitely become a minister in the central government: Bhagwant Mann Raghav Chadha campaigned for candidate Gurpreet GP in Fatehgarh Sahib Amit Shah threatened three crore Punjabis, Kejriwal & Mann hit back at the Home Minister Bhagwant Mann campaigned for Faridkot candidate Karamjit Anmol in Gidderbaha and Rampura Phul I made electricity free, electricity is the most expensive in BJP ruled states, still BJP people call me corrupt : Arvind Kejriwal Four Laning of Naina Devi Road and beautification around Gurdwara Sahib top priority: Vijay Inder Singla AAP’s 13-Zero will be converted into Zero-13 on June 4 : Gurjeet Singh Aujla Free Sikh religious institutions from the control of the RSS–Sukhbir Singh Badal appeals to the PM PM Narendra Modi will establish International Financial Center in Zirakpur: Preneet Kaur Former mayors and deputy mayors of BJP came together and challenged Congress candidate Manish Tewari Santosh Iyer Net Worth (May 2024) and His Success Story | 5 Dariya News Travis Head Net Worth 2024 | Know The Income Sources Of Travis Head BJP struggled for Ram Mandir for 30 years, Modi got Shri Ram Lala out of the tent: Uttarakhand CM Pushkar Dhami Raja Warring Denounces Party Traitors, Urges Voters to Choose Development Will repeal Agniveer Yojana: Priyanka Gandhi PM Modi never talks about issues like inflation, poverty, unemployment and hunger, instead of work he is asking for votes from people in the name of Mangalsutra and buffalo - Arvind Kejriwal The farmers of the cotton belt are getting canal water, we are planning to bring food processing companies here, I've big development plans for this area: CM Bhagwant Mann Martyrs Are Our Treasure, Continually Striving to Build a Society of Their Dreams: Meet Hayer Maharashtra Board SSC Class 10th Result May 2024 Announced: The Result Here Direct Link Here Why Was The Teaser of The Hamara Barah Movie Removed?

 

Narendra Modi inaugurates, dedicates and lays the foundation stone in Azamgarh

inaugurates and lays the foundation stone of new terminal buildings of 15 airports across the country

Narendra Modi, Modi, BJP, Bharatiya Janata Party, Prime Minister of India, Prime Minister, Narendra Damodardas Modi, Yogi Adityanath, Azamgarh, Uttar Pradesh
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

Azamgarh (Uttar Pradesh) , 10 Mar 2024

The Prime Minister, Narendra Modi today inaugurated, dedicated and laid the foundation stone of multiple development initiatives worth more than Rs 34,000 crores in an event at Azamgarh Uttar Pradesh.

Speaking on the occasion, the Prime Minister noted the change of such programme happening in places like Azamgarh instead of being held in Delhi. “Azamgarh, which was counted among the backward areas, is writing a new chapter of development today” PM Modi said. Today projects worth Rs 34,000 crore were either inaugurated or their foundation stones were laid from Azamgarh.

The Prime Minister inaugurated and laid the foundation stone of 15 airport projects across the country worth more than Rs 9800 crore. He inaugurated 12 new Terminal Buildings of Pune, Kolhapur, Gwalior, Jabalpur, Delhi, Lucknow, Aligarh, Azamgarh, Chitrakoot, Moradabad, Shravasti and Adampur Airports. 

The Prime Minister laid the foundation stone of three new Terminal Buildings of Kadapa, Hubballi and Belagavi Airports. To illustrate the speed of the completion of airports, the Prime Minister informed that Gwalior terminal was completed in just 16 months. “This initiative will make air travel easier and accessible for the common citizens of the country”, he said. 

The Prime Minister emphasized that the record of the government of completing announced project in time repudiates the allegation of these projects being election gimmicks. “People are seeing that Modi is made of different material. I am working relentlessly to create a Viksit Bharat”, the Prime Minister said.

The Prime Minister said that along with airport, highway and railway infrastructure, projects related with education, water and environment received a new push today. Giving a new guarantee to the people of Azamgarh, the Prime Minister said that ‘Azamgarh will remain ‘Aajanm’ a ‘Vikas ka Garh’ (bastion of development forever). 

Breaking into local dialect, the Prime Minister said with airport, hospital and medical college, Azamgarh is no longer dependent on the neighbouring big cities. The Prime Minister said that in the last 10 years, the region is seeing politics of development in place of the earlier politics of appeasement and dynasty. 

This trend got a new momentum under the leadership of the Chief Minister, Yogi Adityanath, the Prime Minister said. He said cities like Aligarh, Moradabad,  Azamgarh, Shravasti which were ignored as backward areas of Uttar Pradesh are getting air connectivity due to rapid overall development. 

He said just like welfare schemes, modern infrastructure is moving beyond metro cities to small towns and villages. “Small cities have equal right to airports and good highways as big metro cities”PM Modi emphasized. “We are increasing the strength of the tier 2 and tier 3 cities so that urbanization continues unabated”, said the Prime Minister.

Prime Minister Modi emphasized the importance of connectivity and infrastructure development in the region. He referred to the inauguration and foundation laying ceremonies of several railway projects, including those connecting districts like Sitapur, Shahjahanpur, Gazipur, and Prayagraj. 

Azamgarh, Mau and Balia received the gift of many railway projects. In addition to railway projects, Prime Minister Modi underscored the government's commitment to rural infrastructure development through the Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana. 

He stated, "More than 5,000 kilometers of roads have been inaugurated under the Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana, aiming to improve connectivity for the farmers and youth of Eastern Uttar Pradesh."Prime Minister Modi also highlighted the government's focus on ensuring fair prices for farmers' produce. 

He talked about the substantial increase in Minimum Support Price (MSP) for various crops, including sugarcane, stating, "Today, MSP for sugarcane farmers has been increased by 8 percent, reaching Rs. 340 per quintal."

Furthermore, Prime Minister Modi addressed the historical challenges faced by sugarcane farmers in the region, emphasizing the government's efforts to address their grievances. He noted, "Our government has settled pending dues worth thousands of crores for sugarcane farmers, providing them timely and fair payments." 

He also elaborated on transformation brought about by initiatives in biogas and ethanol. Regarding PM Kisan Samman Nidhi, the Prime Minister informed that in Azamgarh itself 8 lakh farmers received 2,000 crore rupees under the scheme.

Highlighting the transformative impact of government initiatives, Prime Minister Modi emphasized the need for honest governance to achieve rapid development. He stated, "Honest governance is essential for achieving unprecedented development. Our government is committed to eliminating corruption and ensuring transparent governance."

Prime Minister Modi expressed confidence in the transformative potential of the government's initiatives for Eastern Uttar Pradesh. He stated, "The establishment of Maharaja Suheldev Rajkiya Vishwavidyalaya and other initiatives will empower the youth and transform the educational landscape of the region."

Highlighting UP's pivotal role in shaping national politics and development, Prime Minister Modi emphasized how the state's progress aligns with the nation's growth trajectory. The Prime Minister commended UP for its exemplary implementation of central schemes under the double engine government and positioning the state among the top performers in this regard. 

He noted the significant investment made in UP over the past years, with infrastructure development and the creation of numerous opportunities for the youth being key outcomes. PM Modi highlighted UP's rising profile, fueled by record levels of investment, ground-breaking ceremonies, and the expansion of expressway networks and highways. He praised the state's focus on improving law and order, exemplified by the completion of the historic Ram Mandir in Ayodhya.

Background

Providing a major boost to the civil aviation sector, the Prime Minister inaugurated and lay the foundation stone of 15 airport projects across the country worth more than Rs 9800 crore. He will inaugurate 12 new Terminal Buildings of Pune, Kolhapur, Gwalior, Jabalpur, Delhi, Lucknow, Aligarh, Azamgarh, Chitrakoot, Moradabad, Shravasti and Adampur Airports. 

The Prime Minister laid the foundation stone of three new Terminal Buildings of Kadapa, Hubballi and Belagavi Airports. The 12 new Terminal Buildings will have a combined capacity to serve 620 Lakh passengers annually, while for the three Terminal Buildings whose foundation stone is being laid, once completed, the combined passenger handling capacity of these airports will increase to 95 Lakh passengers per annum. 

These Terminal Buildings have state-of-the-art passenger amenities and are also equipped with various sustainability features like Double Insulated Roofing System, Provision of Canopies for energy saving, LED Lighting etc. 

The designs of these Airports are influenced and derived from the common elements of heritage structures of that state and city, thus reflecting the local culture and highlighting the heritage of the region.One of the key focus areas of the Prime Minister has been providing housing for all. 

Guided by this vision, an innovative means to for achieving this has been the conceptualization of the Light House Project. Prime Minister inaugurated Light House Project (LHP) in Lucknow and Ranchi under which more than 2000 affordable flats have been built with modern infrastructure. 

The innovative construction technology employed in these LHPs will give the families a sustainable and futuristic living experience. Earlier, Prime Minister has inaugurated similar Light House Projects in Chennai, Rajkot and Indore. The foundation stone of these LHPs was laid by the Prime Minister on 1st January 2021.

For Ranchi LHP, Germany's Precast Concrete Construction System - 3D Volumetric technology has been adopted. A unique feature of LHP Ranchi is that each room has been made separately and then the entire structure has been added like Lego Blocks toys.  LHP Lucknow has been constructed using Canada's Stay In Place PVC Formwork with Pre-Engineered Steel Structural System.

The Prime Minister dedicated to the nation and laid the foundation stone of several road projects worth around Rs 11,500 crore in Uttar Pradesh. The road projects will improve connectivity, help reduce traffic congestion and will lead to socioeconomic development in the region.

The Prime Minister dedicate to nation and laid the foundation stone of several road projects worth more than Rs 19,000 crore in Uttar Pradesh. The projects dedicated to nation include three packages of four lane Lucknow Ring Road and six laning of Chakeri to Allahabad Section of NH-2. 

The Prime Minister also laid the foundation stone of the four-laning of western side spur of Rampur – Rudrapur; two packages of six-laning of Kanpur Ring Road, and four Laning of Raebareli – Prayagraj section of NH-24B/ NH-30. The road projects will improve connectivity, help reduce traffic congestion and will lead to socioeconomic development in the region.

The Prime Minister  dedicated to nation about 744 rural road projects worth more than Rs 3700 crore built under the Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana. These projects will result in the cumulative construction of over 5,400 KMs of rural roads in Uttar Pradesh, benefiting approximately 59 districts in the state. This will enhance connectivity and provide a significant boost to socio-economic development.

During the programme, the Prime Minister inaugurated, dedicated and laid the foundation stone of multiple rail projects worth around Rs 8200 crores, which will strengthen the rail infrastructure in Uttar Pradesh. He will dedicate doubling and electrification of multiple key rail sections. 

He will also dedicate to the nation Bhatni-Peokol bypass line which will end the problem of engine reversal at Bhatni and will facilitate seamless trains operation. The Prime Minister laid the foundation stone for gauge conversion of Bahraich-Nanpara-Nepalganj Road rail section. 

After completion of this project, the region will be connected to the metropolitan cities through a broad gauge line which will facilitate speedy development. The Prime Minister also inaugurated a new rail line from Ghazipur City and Ghazipur Ghat to Tarighat including a rail bridge over river Ganga. 

He will also flag off MEMU train service between Ghazipur City-Tarighat-Dildar Nagar Jn. Further, the Prime Minister also inaugurated and dedicated multiple sewage treatment plants and other such projects in Prayagraj, Jaunpur and Etawah.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आजमगढ़ में कई विकास पहलों का उद्घाटन, लोकार्पण और शिलान्यास किया

देश भर के 15 हवाई अड्डों के नए टर्मिनल भवनों का उद्घाटन और शिलान्यास किया

आजमगढ़ (उत्तर प्रदेश)

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में एक कार्यक्रम में 34,000 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास पहलों का उद्घाटन, लोकार्पण और शिलान्यास किया। इस अवसर परप्रधानमंत्री ने इस तरह के कार्यक्रम दिल्ली के स्थान परआजमगढ़ जैसी जगहों पर होने की दिशा में आए परिवर्तन का उल्लेख किया। 

उन्होंने कहा, ‘‘पिछड़े इलाकों में गिना जाने वाला आजमगढ़ आज विकास की नई गाथा लिख रहा है।’’आज आजमगढ़ से 34,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया गया। प्रधानमंत्री ने देशभर में 9800 करोड़ रुपये से अधिक की 15 हवाईअड्डा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। 

उन्होंने पुणे, कोल्हापुर, ग्वालियर, जबलपुर, दिल्ली, लखनऊ, अलीगढ़, आजमगढ़, चित्रकूट, मुरादाबाद, श्रावस्ती और आदमपुर हवाई अड्डों के 12 नए टर्मिनल भवनों का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने कडप्पा, हुबली और बेलगावी हवाई अड्डों के तीन नए टर्मिनल भवनों की आधारशिला रखी। हवाई अड्डों के निर्माण कार्य पूरा होने की गति को स्पष्ट करते हुए प्रधानमंत्री ने बताया कि ग्वालियर टर्मिनल केवल 16 महीनों में पूरा हो गया। 

उन्होंने कहा, ‘‘यह पहल देश के आम नागरिकों के लिए हवाई यात्रा को आसान और सुलभ बनाएगी।’’ प्रधानमंत्री ने इस बात पर बल दिया कि घोषित परियोजनाओं को समय पर पूरा करने का सरकार का रिकॉर्ड इन परियोजनाओं के चुनावी हथकंडे होने के आरोप को खारिज करता है। प्रधानमंत्री ने कहा, “लोग देख रहे हैं कि मोदी अलग मिट्टी से बने हैं, मैं एक विकसित भारत बनाने के लिए लगातार काम कर रहा हूं।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि हवाई अड्डे, राष्ट्रीय राजमार्ग और रेलवे अवसंरचना के साथ-साथ शिक्षा, जल और पर्यावरण से जुड़ी परियोजनाओं को आज नई गति मिली है। प्रधानमंत्री ने आजमगढ़ के लोगों को एक नई गारंटी देते हुए कहा कि ‘आजमगढ़, आजन्म‘विकास का गढ़’रहेगा। स्थानीय बोली में बोलते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि हवाई अड्डे, अस्पताल और मेडिकल कॉलेज के साथ, आजमगढ़ अब पड़ोसी बड़े शहरों पर निर्भर नहीं है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में इस क्षेत्र में तुष्टिकरण और वंशवाद की राजनीति की जगह विकास की राजनीति देखने को मिल रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में इस प्रवृत्ति को नई गति मिली है। उन्होंने कहा कि अलीगढ़, मुरादाबाद, आजमगढ़, श्रावस्ती जैसे शहरों को उत्तर प्रदेश के पिछड़े क्षेत्रों के रूप में नजरअंदाज किया गया था, आज उनके तेजी से समग्र विकास के कारण हवाई कनेक्टिविटी मिल रही है।

उन्होंने कहा कि कल्याणकारी योजनाओं की तरह, आधुनिक बुनियादी ढांचा मेट्रो शहरों से आगे छोटे शहरों और गांवों तक बढ़ रहा है। ‘‘छोटे शहरों को हवाई अड्डों और अच्छे राजमार्गों पर बड़े मेट्रो शहरों के समान अधिकार है।’’प्रधानमंत्री ने कहाकि हम टियर 2 और टियर 3 शहरों की सामर्थ्य बढ़ा रहे हैं ताकि शहरीकरण निर्बाध रूप से जारी रहे।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने क्षेत्र में कनेक्टिविटी और बुनियादी ढांचे के विकास के महत्व पर बल दिया। उन्होंने कई रेलवे परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास समारोहों का उल्लेख किया, जिनमें सीतापुर, शाहजहांपुर, गाजीपुर और प्रयागराज जैसे जिलों को जोड़ने वाली परियोजनाएं भी शामिल हैं। आजमगढ़, मऊ और बलिया को कई रेल परियोजनाओं की सौगात मिली। 

उन्होंने रेलवे परियोजनाओं के अतिरिक्त, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से ग्रामीण बुनियादी ढांचे के विकास के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराया। उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 5,000 किलोमीटर से अधिक सड़कों का उद्घाटन किया गया है, इसका लक्ष्य पूर्वी उत्तर प्रदेश के किसानों और युवाओं के लिए कनेक्टिविटी में सुधार करना है।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों की उपज के लिए उचित मूल्य सुनिश्चित करने पर सरकार पूर्ण रूप से ध्‍यान दे रही है। उन्होंने गन्ना सहित विभिन्न फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में पर्याप्त वृद्धि के बारे में कहा, ‘‘आज गन्ना किसानों के लिए एमएसपी में 8 प्रतिशत की वृद्धि की गई है, जो 340 रुपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गई है।’’

प्रधानमंत्री ने क्षेत्र में गन्ना किसानों के सामने आने वाली लंबे समय से चली आ रही चुनौतियों के बारे में बात कीऔर उनकी शिकायतों को दूर करने के सरकार के प्रयासों पर बल दिया। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सरकार ने गन्ना किसानों के हजारों करोड़ रुपये के लंबित बकाये का निपटान किया है, उन्हें समय पर और उचित भुगतान प्रदान किया है।’’ उन्होंने बायोगैस और इथेनॉल में पहल से आए बदलाव के बारे में भी विस्तार से बताया। पीएम किसान सम्मान निधि के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि आजमगढ़ में ही 8 लाख किसानों को इस योजना के अंतर्गत 2,000 करोड़ रुपये मिले हैं।

सरकारी पहलों के परिवर्तनकारी प्रभाव पर प्रधानमंत्री ने तेजी से विकास हासिल करने के लिए ईमानदार शासन की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा, ‘‘अभूतपूर्व विकास प्राप्त करने के लिए शासन का ईमानदार होना आवश्यक है। हमारी सरकार भ्रष्टाचार को समाप्त करने और पारदर्शी शासन सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।’’

प्रधानमंत्री ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए सरकार की पहल की परिवर्तनकारी क्षमता पर विश्वास व्यक्त किया। उन्होंने कहाकिमहाराजा सुहेलदेव राजकीय विश्वविद्यालय की स्थापना और अन्य पहल युवाओं को सशक्त बनाएगी और क्षेत्र के शैक्षिक परिदृश्य को परिवर्तित कर देंगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्र की राजनीति और विकास को आकार देने में उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण भूमिका है। 

उन्होंने कहा कि राज्य की प्रगति देश के विकास पथ के साथ कैसे संरेखित होती है,उत्तर प्रदेश इसका उदाहरण है। प्रधानमंत्री ने डबल इंजन सरकार के तहत केंद्रीय योजनाओं के अनुकरणीय कार्यान्वयन और इस संबंध में राज्य को शीर्ष प्रदर्शन करने वालों में स्थान देने के लिए उत्तर प्रदेश की सराहना की। उन्होंने पिछले वर्षों में उत्तर प्रदेश में किए गए महत्वपूर्ण निवेश का उल्लेख किया, जिसमें आधारभूत अवसंरचना का विकास और युवाओं के लिए कई नवीन अवसरों को उपलब्ध कराना प्रमुख रहा।

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश मेंकी विकास गाथाके बारे में जानकारी दी और कहा कि उत्तर प्रदेशमें निवेश के रिकॉर्ड स्तर, ग्राउंड-ब्रेकिंग समारोहों और एक्सप्रेसवे नेटवर्क और राजमार्गों का विस्तार इसके विकास की कहानी कहता है। उन्होंने बताया कि राज्य में कानून एवं व्यवस्था में सुधार पर विशेष बल दिया गया है, इसका उदाहरण अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर का निर्माण का सम्पन्न होना है।

पृष्ठभूमि

नागरिक उड्डयन क्षेत्र को बढ़ावा देते हुए, प्रधानमंत्री ने देश भर में 9800 करोड़ रुपये से अधिक की 15 हवाईअड्डा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री पुणे, कोल्हापुर, ग्वालियर, जबलपुर, दिल्ली, लखनऊ, अलीगढ़, आजमगढ़, चित्रकूट, मुरादाबाद, श्रावस्ती और आदमपुर हवाई अड्डों के 12 नए टर्मिनल भवनों का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री ने कडप्पा, हुबली और बेलगावी हवाई अड्डों के तीन नए टर्मिनल भवनों की आधारशिला रखी।

12 नए टर्मिनल भवनों की संयुक्त क्षमता सालाना 620 लाख यात्रियों को सेवा प्रदान करने की होगी।जिन तीन टर्मिनल भवनों की आधारशिला रखी जा रही है, उनके पूरा होने के बाद इन हवाई अड्डों की संयुक्त यात्री प्रबंधन क्षमता बढ़कर 95 लाख यात्री प्रति वर्ष हो जाएगी। इन टर्मिनल भवनों में अत्याधुनिक यात्री सुविधाएं हैं और ये डबल इंसुलेटेड रूफिंग सिस्टम, ऊर्जा बचत के लिए कैनोपी का प्रावधान, एलईडी लाइटिंग आदि जैसी विभिन्न सुविधाओं से भी सुसज्जित हैं। 

इन हवाई अड्डों के डिजाइन, उस राज्य और शहर की विरासत संरचनाओं से प्रभावित हैं स्थानीय संस्कृति और क्षेत्र की विरासत को दर्शाते हैं।प्रधानमंत्री के प्रमुख केन्द्रीय क्षेत्रों में से एक सभी के लिए आवास उपलब्ध कराना रहा है। इस दृष्टिकोण से प्रेरित होकरइसे प्राप्त करने का एक अभिनव साधन लाइट हाउस प्रोजेक्ट की संकल्पना है। 

प्रधानमंत्री ने लखनऊ और रांची में लाइट हाउस प्रोजेक्ट (एलएचपी) का उद्घाटन किया जिसके तहत आधुनिक बुनियादी ढांचे के साथ 2000 से अधिक किफायती फ्लैट बनाए गए हैं। इस परियोजना में नवीन निर्माण तकनीक अपनाई गई है जोयहां रहने वाले परिवारों को टिकाऊ और विहंगम अनुभव प्रदान करेगी। इससे पहले प्रधानमंत्री चेन्नई, राजकोट और इंदौर में भी ऐसे ही लाइट हाउस प्रोजेक्ट का उद्घाटन कर चुके हैं। इन एलएचपी की आधारशिला 1 जनवरी 2021 को प्रधानमंत्री द्वारा रखी गई थी।

रांची एलएचपी के लिए जर्मनी की प्रीकास्ट कंक्रीट कंस्ट्रक्शन सिस्टम - 3डी वॉल्यूमेट्रिक तकनीक को अपनाया गया है। एलएचपी रांची की एक अनूठी विशेषता यह है कि प्रत्येक कमरे को अलग से बनाया गया है और फिर पूरी संरचना को लेगो ब्लॉक खिलौनों की तरह जोड़ा गया है। एलएचपी लखनऊ का निर्माण प्री-इंजीनियर्ड स्टील स्ट्रक्चरल सिस्टम के साथ कनाडा के स्टे इन प्लेस पीवीसी फॉर्मवर्क का उपयोग करके किया गया है।

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश में लगभग 11,500 करोड़ रुपये की कई सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। सड़क परियोजनाओं से कनेक्टिविटी में सुधार होगा, यातायात की भीड़ को कम करने में मदद मिलेगी और क्षेत्र में सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा। प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश में 19,000 करोड़ रुपये से अधिक की कई सड़क परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित किया और उनकी आधारशिला रखी। 

राष्ट्र को समर्पित परियोजनाओं में चार लेन की लखनऊ रिंग रोड के तीन पैकेज और राष्ट्रीय राजमार्ग-2 के चकेरी से इलाहाबाद खंड को छह लेन का बनाना शामिल है। प्रधानमंत्री ने रामपुर-रुद्रपुर के पश्चिमी हिस्से के चार लेन की आधारशिला भी रखी; कानपुर रिंग रोड को छह लेन का बनाने और एनएच-24बी/एनएच-30 के रायबरेली-प्रयागराज खंड को चार लेन करने के दो पैकेज राष्ट्र को समर्पित किए। सड़क परियोजनाओं से कनेक्टिविटी में सुधार होगा, यातायात की भीड़ को कम करने में मदद मिलेगी और क्षेत्र में सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत निर्मित 3700 करोड़ रुपये से अधिक की लगभग 744 ग्रामीण सड़क परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं। इन परियोजनाओं के परिणामस्वरूप उत्तर प्रदेश में 5,400 किलोमीटर से अधिक ग्रामीण सड़कों का संचयी निर्माण होगा, जिससे राज्य के लगभग 59 जिलेलाभान्वित होंगे। इससे कनेक्टिविटी बढ़ेगी और सामाजिक-आर्थिक विकास को उल्लेखनीय बढ़ावा मिलेगा।

कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने लगभग 8200 करोड़ रुपये की कई रेल परियोजनाओं का उद्घाटन, लोकार्पण और शिलान्यास किया, जिससे उत्तर प्रदेश में रेल बुनियादी ढांचा सुदृढ़ होगा। वह कई प्रमुख रेल खंडों के दोहरीकरण और विद्युतीकरण का लोकार्पण करेंगे। वे भटनी-पियोकोल बाइपास लाइन भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे, जिससे भटनी में इंजन पलटने की समस्या खत्म हो जाएगी और ट्रेनों का निर्बाध संचालन हो सकेगा। 

प्रधानमंत्री ने बहराइच-नानपारा-नेपालगंज रोड रेल खंड के आमान-परिवर्तन की आधारशिला रखी। इस परियोजना के पूरा होने के बाद यह क्षेत्र ब्रॉड गेज लाइन के माध्यम से महानगरों से जुड़ जाएगा जिससे तेजी से विकास हो सकेगा। प्रधानमंत्री ने गंगा नदी पर एक रेल पुल सहित गाजीपुर शहर और गाजीपुर घाट से तारीघाट तक एक नई रेल लाइन का भी उद्घाटन किया। 

प्रधानमंत्री गाजीपुर सिटी-तारीघाट-दिलदारनगर जंक्शन के बीच मेमू ट्रेन सेवा को भी हरी झंडी दिखाएंगे।प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने प्रयागराज, जौनपुर और इटावा में कई सीवेज उपचार संयंत्रों और ऐसी अन्य परियोजनाओं का भी उद्घाटन और लोकार्पण किया।

 

Tags: Narendra Modi , Modi , BJP , Bharatiya Janata Party , Prime Minister of India , Prime Minister , Narendra Damodardas Modi , Yogi Adityanath , Azamgarh , Uttar Pradesh

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD