Monday, 27 May 2024

 

 

खास खबरें भाजपा के पूर्व मेयर और डिप्टी मेयर हुए एकित्रत,कांग्रेस प्रत्याशी मनीष तिवारी को दी चुनौती केंद्र में सरकार बनते ही, रद्द करेंगे अग्निवीर योजना : प्रियंका गांधी शहर के अंदरूनी इलाकों में जयइंद्र कौर ने किया डोर टू डोर चुनाव प्रचार पीएम मोदी कभी भी महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी और भुखमरी जैसे मुद्दों पर बात नहीं करते, काम के बजाय वह लोगों से मंगलसूत्र और भैंस के नाम पर वोट मांग रहे हैं - केजरीवाल कपास (नरमा) बेल्ट के किसानों को नहरी पानी मिल रहा है, हम यहां खाद्य प्रसंस्करण कंपनियां भी लाने की योजना बना रहे हैं, मेरे पास इस क्षेत्र के लिए कई बड़ी विकास योजनाएं हैं : सीएम भगवंत मान शहीद हमारी पूंजी हैं, शहीदों के सपनों का समाज बनाने के लिए लगातार पर्यतनशील: मीत हेयर प्रधानमंत्री जीरकपुर में स्थापित करवाएंगे अंतर्ऱाष्ट्रीय वित्तीय केंद्र - परनीत कौर सुखविंदर सिंह बिंद्रा ने भारत के गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की सीजीसी लांडरां ने प्लेसमेंट डे मनाया भदौड़ विधानसभा क्षेत्र को नज़रअंदाज़ करने वाले दलों को सबक सिखाने का समय : मीत हेयर मुख्य निर्वाचन अधिकारी पंजाब सिबिन सी द्वारा वोटरों को ‘इस बार 70 पार’ की प्राप्ति के लिए 1 जून को पूरे जोश के साथ चुनाव बूथों पर जाने की अपील मुख्य सचिव प्रबोध सक्सेना ने डोडरा क्वार में चुनाव तैयारियों की समीक्षा की पंजाब पुलिस ने बीएसएफ के साथ सांझे आपरेशन के दौरान सात नशा तस्करों को 5.47 किलोग्राम हेरोइन, 1.07 लाख रुपए की ड्रग मनी सहित किया काबू पंजाब में कृषि, उद्योग और व्यापार की तरक्की पर पीयूष गोयल एवं तरुण चुग के बीच हुए व्यापक चर्चा लुधियाना में राजा वड़िंग के समर्थन में उमड़ी भारी भीड़; मोदी की आर्थिक नीतियों की आलोचना की बिट्टू की जमानत बचाने में मदद नहीं कर पाएंगे अमित शाह : अमरेंद्र सिंह राजा वड़िंग सनौर हलके की एक हजार से अधिक महिलाओं ने परिवारों सहित ज्वाइंन की भाजपा मैं संगरूर हलके का हर मुद्दा संसद में उठाऊंगा और नए प्रोजेक्ट लाऊंगा: मीत हेयर हलके के गांवों में भाजपा उम्मदीवारों को मिला रहा समर्थ पंजाब सरकार ने नहीं दिया केंद्रीय फंड का हिसाब- डा. सुभाष शर्मा समूचा हलका श्री आनंदपुर साहिब मोदी की सोच पर देगा पहरा : डॉ. सुभाष शर्मा

 

प्रकाश सिंह बादल द्वारा गन्ने की सीजे-238 किस्म को अगेती किस्म के रूप में बीज़ने की इज़ाजत देने के लिए कृषि विभाग को निर्देश

सेखवां द्वारा मुख्यमंत्री के साथ बैठक, किसानों से संबंधित मामलों के शीघ्र हल के लिए निजी दखल की मांग

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

चंडीगढ़ , 07 Dec 2015

राज्य भरके गन्ना उत्पादकों की दीर्घ कालीन मांग को स्वीकृत करते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने राज्य के कृषि विभाग को गन्ने की सीजे-238 किस्म को मध्यम किस्म की बजाये शीघ्र अगेती किस्म के रूप में बीज़ने की इज़ाजत देने के लिए कहा है।मुख्यमंत्री ने यह आश्वसन सीनयर अकाली नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री स. सेवा सिंह सेखवां को उस समय दिलाया जब वह आज स. बादल को उनके निवास स्थान पर मिले। स. सेखवां ने किसानों विशेषकर गन्ना उत्पादकों से संबंधित विभिन्न मामलों के शीघ्र हल के लिए मुख्यमंत्री के निजी व प्रत्यक्ष दखल की मांग की।स. सेखवां ने मुख्यमंत्री को बताया कि राज्यभर के गन्ना उत्पादक लंबे समय से गन्ने की सीजे-238 किस्म को मध्यम किस्म की जगह अगेती किस्म घेाषित किये जाने की मांग कर रहें हैं। उन्होंने स. बादल पर जोर डाला कि वह गन्ना उत्पादकों को सीजे-238 किस्म को अगेती किस्म के रूप में बीज़ने की आज्ञा दें। पंजाब कृषि विश्वविद्यालय, लुधियाना ने इस संबंधी अपने ट्रायलों को अंतिम रूप दे दिया है और वह इस संबंध में ठोस परिणाम पर पहुंच गई है। 

इसके अतिरिक्त स. बादल ने कहा कि राज्य सरकार ने चीनी मिलों की ओर गन्ना उत्पादकों के बकाये के भुगतान के लिए सरगर्म विशेष पहलकदमियां की हैं और इसके अतिरिक्त राज्य में चीनी मिलों के निर्विघ्न कार्य को यकीनी बनाने के लिए कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी क्षेत्र की 9 चीनी मिलों ने पहले ही गन्ना उत्पादकों को 450 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है। इसी प्रकार ही 7 निजी चीनी मिलों ने भी पहले ही 988 करोड़ रुपये जारी कर दिये हैं जबकि गन्ना उत्पादकों की बकाया राशि का निजी चीनी मिलों के मालिकों द्वारा शीघ्र ही भुगतान कर दिया जायेगा क्योंकि राज्य सरकार ने पहले ही स्टेट गारंटी देकर 200 करोड़ रुपये के कर्जे का प्रबंध कर दिया है। इसी प्रकार ही राज्य सरकार ने गन्ना उत्पादकों और निजी चीनी मिलों के मालिकों के अत्याधिक हितों के मद्देनज़र गन्ने की पिढ़ाई के क्षेत्र निर्धारित कर दिया है।राज्य सरकार गन्ना उत्पादकों को हर स्थिति में मिलों के द्वारा 295 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से गन्ने के मूल्य के भुगतान को यकीनी बनायेगी। गन्ना उत्पादकों और चीनी मिलों को पेश समस्याओं और चीनी मार्किट की मंदी के मद्देनजर ऐसा किया गया है।

गौरतलब है कि चीनी मिलें किसानों को 245 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से गन्ने का भुगतान करेंगी जबकि वर्ष 2015-16 के पिढ़ाई के सीज़न दौरान राज्य सरकार द्वारा 50 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से सब्सिडी उपलब्ध करवाई जायेगी।मंत्रीमंडल ने हाल की बैठक दौरान निजी चीनी मिलों के लिए नरम दरों वाले कर्जे का प्रबंध करने के लिए 4 करोड़ रुपये की गारंटी फीस माफ करने का निर्णय किया है ताकि वह किसानों के गन्ने के बकाये का भुगतान करने के योग्य हो सकें। नरम दरों वाले कर्जे पर व्याज की दर भी साढे तीन वर्ष के लिए सरकार द्वारा सहन की जायेगी ताकि निजी चीनी मिलें किसानों के गन्ने के भुगतान का बकाया अदा कर सकें।धान की उच्च स्तर पर निर्विघ्न और तस्लली बख्श खरीद पर संतुष्टि प्रकट करते हुये मुख्यमंत्री ने बताया कि आज क ी तिथि तक 143 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद हुई है जबकि पिछले वर्ष 118 लाख मीट्रिक टन धान खरीदा गया था। 

 

Tags: Parkash Singh , Parkash Singh Badal , Janmeja Singh Sekhon

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD