Tuesday, 28 March 2023

 

 

खास खबरें मेक्सिको प्रवासी सेंटर में लगी भीषण आग, 37 लोगों की मौत लगातार बारिश से दूसरा वनडे रद्द, श्रीलंका की उम्मीदों को झटका तेजस्वी प्रकाश ने अपने नए गाने 'रंगबाहरा' का टीजर किया रिलीज 'अजूनी' में सरदार के लुक में नजर आएंगे शोएब इब्राहिम बंगला खाली करने की नोटिस का करेंगे पालन : राहुल क्या दीपिका पादुकोण ने एयरपोर्ट पर जेसन डेरुलो को किया इग्नोर! 'भोला' के रिलीज डेट पर जारी होगा अजय देवगन की 'मैदान' का टीजर अर्जेंटीना की विश्व जीत को अभी तक आत्मसात नहीं कर पाया हूं: लियोनल मैसी मियामी ओपन: स्टेफानोस सितसिपास चौथे दौर में, मेदवेदेव को मिला वाक ओवर पुणे में पिकअप वैन की बाइक से टक्कर, दो नाबालिगों समेत पांच की मौत फ्रांस ने आयरलैंड को हराया जबकि हॉलैंड को जिब्राल्टर पर मिली जीत पाकिस्तान ने आखिरी टी20 जीतकर अफगानिस्तान को क्लीन स्वीप से रोका करण जौहर ने प्रियंका चोपड़ा को बॉलीवुड से 'बैन' कर दिया था : कंगना रनौत सिर्फ वेरिफाइड अकाउंट्स को ही मिलेगा 'फॉर यू रिकमेंडेशन' का फायदा : एलन मस्क केंद्र प्रतिस्पर्धा संशोधन विधेयक पारित करने के लिए लोकसभा की अनुमति मांगेगा सार्वजनिक प्रिव्यू में टीम्स के लिए 'अवतार' जारी कर रहा माइक्रोसॉफ्ट इक्वाडोर में भूस्खलन से 16 की मौत राहुल ने ओबीसी समुदाय का किया अपमान : स्मृति ईरानी एप्पल ने वॉयस आइसोलेशन के साथ आईओएस 16.4 अपडेट जारी किया इस्तांबुल में सड़क हादसे में छह की मौत 'पठान' की सफलता के बाद शाहरुख ने खुद को 10 करोड़ रुपये की शानदार एसयूवी से नवाजा

 

पिता के इलाज करवाना हुआ मुशकिल, अस्पताल वालों ने कहा जब पैसे हो तब आना

कुछ साल पहले मां की हुई थी ब्रेन टयूमर से मौत, सब कुछ बेच कर उनपर किया था खर्च

पिता के इलाज करवाना हुआ मुशकिल, अस्पताल वालों ने कहा जब पैसे हो तब आना

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

सोहाना , 12 Sep 2015

गांव सोहाना के रहने वाले एक परिवार की हालत यह है कि वे अपने पिता के इलाज के लिए मदद की गुहार लगाने के लिए के मजबूर हैं। आज के जमाने में जहा अपने ही अपनो का साथ छोड़ जाते हैं ऐसे समय में भी गांव सोहाना निवासी दविंदर कौर ने अपनी मां के ब्रेन टयूमर के इलाज के लिए अपना घर व सब कुछ बेच कर उनके इलाज पर तकरबीन 6 से 7 लाख रुपये खर्च कर दिए। लेकिन उसके बाद भी मुसिबतो ने इनका साथ नहीं छोड़ा। अपनी अब तक की सारी कमाई मां पर लगाने के बाद भी उनकी मौत हो गई।

अब दविंदर के पिता गुलजार सिंह उम्र करीब 60 साल जीएमसीएच 32 में सडक़ हादसे के कारण जिदंगी और मौत के बीच लड़ रहे हैं। डाक्टरों ने इलाज का खर्च करीब डेढ़ लाख रुपये बताया है। लेकिन सारी कमाई मां पर खर्च कर देने के कारण अब दविंदर के लिए पिता का इलाज करवाना मुशकिल हो गया है। पिता को पहले पटियाला के एक अस्पताल मे भर्ती करवाया था वहा से उनकी हालत नाजुक देखते हुए उन्हे जीएमसीएच 32 रैफेर कर दिया गया। वहा से भी पैसे ना होने के कारण अस्पताल प्रशसान ने परिजनो को सटीक जवाब देते हुए कहा है की वे अपने मरीज को घर ले जाए, जब उनके पास पैसे हो तो ही उन्हें अस्पताल लेकर आए।अपने पिता की जान बचाने के लिए एक बेटी ने शहर की सभी समाज सेवी संस्थांओं से मदद की गुहार लगाई है। मदद के लिए सोहाना निवासी दविंदर कौर से 9781851198 पर संपर्क किया जा सकता है। कृपा एक बेटी की गुहार को सुनकर उसकी मदद के लिए आगे आए। 

 

Tags: Problem

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2023 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD