Sunday, 21 April 2024

 

 

खास खबरें कांग्रेस की नैय्या दिनोंदिन डूबती जा रही है: डा. सुभाष शर्मा होशियारपुर में चुनावी जनसभा के दौरान केंद्र सरकार पर जमकर बरसे भगवंत मान पंजाब को बी जे पी के अत्याचार के खिलाफ एकजुट होना होगा: राजा वड़िंग उपायुक्त ओलावृष्टि से खराब हुई फसलों का जल्द से जल्द सर्वे कराएं- मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद गुरजीत सिंह औजला ने चुनाव अभियान की शुरूआत गुरुद्वारा बाबा छज्जोजी में माथा टेक कर की निजी फायदे के लिए गेहूं की बर्बादी कर रही सरकार 1 मई को सुबह 11 बजे कुरूक्षेत्र में अपना नामांकन करेंगे अभय सिंह चौटाला एलपीयू के स्कूल ऑफ लिबरल एंड क्रिएटिव आर्ट्स ने 'वन इंडिया-2024' फैस्ट की चैंपियनशिप ट्रॉफी जीती स्वास्थ्य मंत्री पंजाब ने आर्यन्स फार्मेसी सम्मेलन का उद्घाटन किया पंजाब की महिलाओं को आज भी एक-एक हजार मासिक भत्ते का इंतजार: एन.के.शर्मा सीजीसी लांडरां के एप्लाइड साइंस डिपार्टमेंट ने वर्कशॉप का आयोजन किया लोकायुक्त ने राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल को वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की पलवल जिले के 118 वर्ष के धर्मवीर हैं प्रदेश में सबसे बुजुर्ग मतदाता मानव को एकत्व के सूत्र में बांधता - मानव एकता दिवस श्री फ़तेहगढ़ साहिब में बोले मुख्यमंत्री भगवंत मान: रात कितनी भी लंबी हो सच का सूरज चढ़ता ही चढ़ता है, 2022 में जनता ने चढ़ाया था सच का सूरज भारी बारिश और तूफान के बावजूद भगवंत मान ने श्री फतेहगढ़ साहिब में जनसभा को किया संबोधित जुम्मे की नमाज पर मुस्लिम भाईचारे को बधाई देने पहुंचे गुरजीत सिंह औजला आवश्यक सेवाओं में तैनात व्यक्तियों को प्राप्त होगी डाक मतपत्र सुविधा: मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष गर्ग शहर के 40 खेल संगठनों के प्रतिनिधियों ने की घोषणा,भाजपा प्रत्याशी संजय टंडन को दिया समर्थन भाजपा ने कांग्रेस प्रत्याशी मनीष तिवारी को 12 जून 1975 के ऐतिहासिक तथ्य याद दिलाई रयात बाहरा यूनिवर्सिटी में 'फंडिंग के लिए अनुसंधान परियोजना लिखने' पर वर्कशॉप

 

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पिटल, फरीदाबाद ने कार्डियो थोरेकिक और वस्क्युलर सर्जरी (सीटीवीएस) की नई टीम को पेश किया

मरीजों को मिलेगी हृदयरोग की एकीकृत, कुशल सेवा

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

फरीदाबाद , 25 Aug 2015

फोर्टिस एस्कॉटर्स हॉस्पिटल, फरीदाबाद हृदयरोग से पीड़ित मरीजों को व्यापक एवं एकीकृत चिकित्सीय समाधान मुहैया कराने के लिए हृदयरोग विज्ञान के विशेषज्ञों की एक सुगठित टीम लेकर आया है। इस टीम में कार्डियोलॉजिस्ट, कार्डियो थारेकिक एवं वस्क्युलर सर्जन, कार्डियक एनेस्थेटिस्ट एवं पर्फ्युजनिस्ट सहित विशेषज्ञों को शामिल किया गया है। हृदय विज्ञान टीम का नेतृत्व डॉ. संजय कुमार, विभागाध्यक्ष एवं प्रमुख परामर्शी, कार्डियोलॉजी एवं डॉ. नीरव बंसल, विभागाध्यक्ष एवं वरिष्ठ परामर्शी, कार्डियो थोरेकिक एवं वस्क्युजर सर्जरी (सीटीवीएस) करेंगे। 

अस्पताल की सीटीवीएस टीम का गठन हृदय संबंधी बीमारियों के उपचार में नवीनतम तकनीकों के साथ चिकित्सीय कार्यकुशलता को एकीकृत करने के उद्देश्य से किया गया है। हृदयरोग विज्ञान विभाग मौजूदा समय की निष्क्रिय जीवनशैली से उत्पन्न हृदय संबंधी जटिल समस्याओं से ग्रस्त मरीजों का समुचित उपचार करने में सक्षम है।

इंटरवेन्शनल कार्डियोलॉजी एवं इलेक्ट्रोफिजीयोलॉजी में डॉ. संजय कुमार के 10,000 से अधिक कैथ लैब प्रक्रिया को संपन्न करने के वर्षों के अनुभव के साथ इस टीम ने महत्वपूर्ण विशेषज्ञता का प्रदर्शन किया है। टीम में उनके साथ डॉ. असीम धाल भी हैं जिन्हें कोरोनरी इन्टरवेंशन और उपकरणों का लगभग दो दशकों का व्यापक अनुभव हासिल है। साथ ही विभाग को डॉ. अमित कुमार की इलेक्ट्रोफिजियोलॉजी एवं पेसमेकर में विशेषज्ञता का लाभ मिल रहा है।कार्डियो-थोरेकिक एवं वस्क्युलर सर्जरी के गंभीर क्षेत्र में बाइपास (सीएबीजी) सहित ओपन हार्ट सर्जरी, वॉल्व सर्जरी (हर प्रकार की मरम्मत एवं बदली), मुख्य धमनी की सर्जरी, शिशु कार्डिएक सर्जरी, वस्क्युलर एवं थोरेकिक सर्जरी में डॉ. नीरज बंसल के व्यापक अनुभव का लाभ इस टीम को हासिल है। टीम के अन्य चिकित्सक डॉ. बीजू शिवम पिल्लै ऑपरेशन के पूर्व, ऑपरेशन के दौरान और ऑपरेशन के बाद वयस्क एवं शिशु मरीजों की देखभाल में माहिर हैं। डॉ. नंदिनी सेलॉट टीम की ऐसी अनुभवी सदस्य हैं जिन्हें कार्डिएक एनेस्थिसिया में 19 वर्षों से अधिक का अनुभव है और उनके अनेक शोध पत्र एवं पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। डॉ. कँवर अदित्य बालोरिया यूएस द्वारा प्रमाणित ट्रांस इसोफिगल इकोकार्डियोग्राफी (टीईई) के विशेषज्ञ हैं। वे कार्डिएक एनेस्थिसिया के विशेषज्ञ हैं और उन्हें शिशुओं में जटिल जन्मजात और वयस्कों के हृदय एवं धमनी संबंधी सर्जरी और हृदय संबंधी गंभीर बीमारी की देखभाल सहित 10,000 से अधिक ओपन हार्ट सर्जरी में काम करने का श्रेय हासिल है। 

डॉ. संजय कुमार, विभागाध्यक्ष एवं प्रमुख परामर्शी, हृदयरोग विभाग, फोर्टिस एस्कॉटर््स हॉस्पिटल, फरीदाबाद ने कहा, आज, हृदय रोग मृत्यु का प्रमुख कारण बन गया है। इस समस्या की गंभीरता को देखते हुए सर्वश्रेष्ठ चिकित्सकों की जरूरत है जो ऐसी समस्याओं के लिए प्रभावकारी एवं कुशल चिकित्सीय समाधान मुहैया करा सकें। हमारी टीम को हृदय से संबंधित विभिन्न बीमारियों का समाधान और व्यापक उपचार करने में गहरी एवं विधि विशेषज्ञता हासिल है। हम अपने सभी मरीजों को हृदय संबंधी नवीनतम उपचार प्रदान करने में पूरी तरह सुसज्जित हैं।

डॉ. नीरव बंसल, विभागाध्यक्ष एवं वरिष्ठ परामर्शी, कार्डियो थोरेकिक एवं वस्क्युलर सर्जरी, फोर्टिस एस्कॉटर्स हॉस्पिटल, फरीदाबाद ने कहा, उन्नत अनुसंधानों से पता चला है कि कार्डियो वस्क्युलर बीमारियां सबसे बड़ी घातक बीमारी बन गई है और 25 से 69 वर्ष आयुवर्ग में होने वाली सभी मौतों में से लगभग 25 प्रतिशत मौतें इसी कारण से होती है। इसका अनुपात भारत के शहरों में 33 प्रतिशत और ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग 23 प्रतिशत है जो काफी अधिक है। 

यह संक्रामक रोगों से जीवनशैली संबंधित गैर-संक्रमित रोगों की ओर परिवर्तन का संकेत है। युवा लोग भी अब कार्डियो वस्क्युलर संबंधी रोगों का शिकार होने लगे हैं जो हमारे लिए भारी चिंता का विषय है और हम इन चुनौतियों का मुकाबला करने के पूरी तरह तैयार हैं।श्री राजीव भंडारी, फैसिलिटी डायरेक्टर, फोर्टिस एस्कॉटर्स हॉस्पिटल, फरीदाबाद ने कहा, हमने अपने स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम का विस्तार किया है ताकि हम अपने मरीजों और जनसमुदाय की जरूरतों को पूरा कर सकें। एक अनुभवी सीटीवीएस टीम को शामिल करके हमने अब अपने अस्पताल में हृदय संबंधी देख-भाल के सर्वश्रेष्ठ मानदंडों को लागू किया है। यह हमारे मरीजों और विशेषकर फरीदाबाद एवं इसके आस-पास के इलाकों के मरीजों के लिए सुविधाजनक एवं सुगम होगा। हम चिकित्सीय उत्कृष्टता प्रदान करने के लिए वचनबद्ध हैं जिसे फोर्टिस एस्कॉर्ट्स विगत 30 वर्षों से लगातार मुहैया कराता रहा है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के अनुसार कार्डियो वस्क्युलर संबंधी रोग विश्व स्तर पर मृत्यु का सबसे पहला कारण है और किसी अन्य कारण की अपेक्षा सीवीडी के कारण ज्यादा लोगों की मौत होती है। एक अनुमान के अनुसार वर्ष 2012 में 17.5 मिलियन लोगों की मौत सीवीडी के कारण हुई, जो पूरे विश्व में हुई मृत्यु का 31 प्रतिशत है। इनमें से लगभग 7.4 मिलियन मौतों का कारण हृदय संबंधी कोरोनरी रोग और 6.7 मिलियन का कारण दिल का दौरा था। सीवीडी से होने वाली मौतों में तीन-चौथाई से ज्यादा गरीब और मध्य आय वाले देशों में होती है। गैर-संक्रमणीय रोगों के कारण 70 वर्ष से कम आयुवर्ग में 16 मिलियन मौतों की घटना में से 82 प्रतिशत निम्न एवं मध्यम आय वाले देशों में हुई और इनमें 37 प्रतिशत का कारण सीवीडी था। सरकारी रिपोर्टों के अनुसार भारत में हृदयगति रुकने की व्यापकता का कारण कोरोनरी हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, मोटापा, मधुमेह और र्यूमैटिक हृदयरोग हैं। इसकी संख्या करीब-करीब 1.3 मिलियन से 4.6 मिलियन के बीच है और वार्षिक तौर पर इसकी संख्या 4,91,600 से 1.8 मिलियन के बीच है। एस्सोचैम की एक रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली एनसीआर में 25 से 45 वर्ष आयुवर्ग के युवा लोगों में कोलेस्ट्राल स्तर चिंताजनक रूप से उच्च है जो कि हृदय रोगों का एक प्रमुख कारण है। 

फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड के विषय में

फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड भारत का एक अग्रणी एकीकृत हेल्थकेयर डिलीवरी सेवा प्रदाता है। कंपनी का चिकित्सकीय क्षेत्र हॉस्पिटल्स, डाइग्नोस्टिक्स, डे केयर स्पेश्यलिटी में फैला हुआ है। वर्तमान समय में, कंपनी 54 हेल्थकेयर फैसिलिटीज (निर्माणधीन परियोजनायें भी शामिल), 10,000 से अधिक बिस्तरों एवं 260 से अधिक डाइग्नोस्टिक सेंटर्स के साथ भारत, दुबई, मॉरीशस और श्रीलंका में अपने हेल्थकेयर डिलीवरी सेवाओं का परिचालन करती है। विश्व में 30 अत्यंत तकनीकी रुप से विकसित अस्पतालों के एक वैश्विक अध्ययन में इसके अग्रणी संस्थान ‘फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टिट्यूट’ (एफएमआरआइ) को जवचउंेजमतेपदीमंसजीबंतमण्बवउ द्वारा दूसरी वरीयता प्रदान की गयी है तथा इसे विश्व के अन्य अनेक बेहतरीन चिकित्सा संस्थाओं में अग्रणी का दर्जा दिया गया है। 

 

Tags: Fortis

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD