Wednesday, 19 June 2024

 

 

खास खबरें प्रधानमंत्री ने आज वाराणसी से पीएम-किसान के तहत लगभग 20,000 करोड़ रुपये की 17वीं किस्त जारी की प्रधानमंत्री ने वाराणसी, उत्तर प्रदेश में किसान सम्मान सम्मेलन को संबोधित किया सीडीएस जनरल अनिल चौहान ने साइबरस्पेस संचालन के लिए ‘ज्‍वाइंट डॉक्ट्रिन’ जारी किया जॉर्ज कुरियन ने आज कोच्चि में सिफनेट का दौरा किया और विभिन्न गतिविधियों की समीक्षा की पीएम किसान योजना मोदी के दृढ़ विश्वास, प्रतिबद्धता की निरंतरता का प्रतीक है : डॉ. जितेंद्र सिंह जयंत चौधरी ने डीजीटी के संचालन की व्यापक समीक्षा की प्रतापराव जाधव ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के इस वर्ष के विषय 'स्वयं और समाज के लिए योग' पर बल दिया प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के वाराणसी में दशाश्वमेध घाट पर गंगा पूजन किया उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने सूचना को विनियमित करने की आवश्यकता पर जोर दिया भूपति राजू श्रीनिवास वर्मा ने भारी उद्योग मंत्रालय में राज्य मंत्री का पदभार ग्रहण किया हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल के निर्णय पर्यावरण को बचाने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाने की जरूरत : ब्रम शंकर जिम्पा मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान ने पुलिस अधिकारियों को दिया आदेश; नशा तस्करों की गिरफ़्तारी के एक हफ्ते में जायदाद ज़ब्त करने के आदेश जतिंदर पाल मल्होत्रा के नेतृत्व में भाजपा पार्षदों और नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने राजीव वर्मा से मुलाकात की 33 एकड़ जमीन लीज पर देने पर मेयर ने लगाई रोक सरकार की तनाशाही के कारण निर्दलीय विधायकों को देना पड़ा है इस्तीफ़ा : जयराम ठाकुर गुजरात के जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की वीडियो सामने आने पर आम आदमी पार्टी ने भाजपा और सुनील जाखड़ को घेरा भाजपा पंजाब में मंडी व्यवस्था को खत्म करने की साजिश कर रही है, इसलिए आरडीएफ के लंबित 7,000 करोड़ जारी नहीं कर रही: आप कहां गई सुक्खू सरकार की स्टार्टअप योजना, आठ महीनों में कितने लोगों को मिला लाभ : जयराम ठाकुर सरकारी दफ़्तरों में यदि लोग परेशान हुए तो डिप्टी कमिश्नर जवाबदेह होंगे - मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान रोटरी इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट 3080 ने जिला अधिकारियों के प्रशिक्षण संगोष्ठी - Illumination 2024-2025 का सफलतापूर्वक समापन किया

 

चौथा राष्ट्रीय हार्ट फेल्यर सम्मिट हुआ शुरू

राज्य सभा सांसद अविनाश राय खन्ना ने किया उद्घाटन,पहले दिन हार्ट फेल्यर और एंडोवस्कुलर बीमरियों पर हुई चर्चा: डॉ. बाली

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

चंडीगढ़ , 01 Aug 2015

दो-दिवसीय चौथा राष्ट्रीय हार्ट फेल्यर सम्मिट और लाइव वर्कशॉप एंड सिम्पोजियम ऑन इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी (एलडब्ल्यूएसआईसी-2015) आज होटल ललित में शुरू हुए। यह हार्ट फाउंडेशन, फोर्टिस हॉस्पिटल, आईएमए और कार्डियोलॉजी सोसायटी ऑफ इंडिया का मिला-जुला प्रयास है।राज्य सभा सांसद अविनाश राय खन्ना ने इवेंट का उद्घाटन किया जो कि हार्ट फाउंडेशन की तरफ से भारत के नौजवान कार्डियोलॉजिस्ट्स को दिया जाने वाली यह चौथी अकादमिक पहल है।

आज यहां शुरुआत करते हुए जाने-माने अंतर्राष्ट्रीय कार्डियोलॉजिस्ट और हार्ट फाउंडेशन के चीफ पैटरन डॉ. एच.के. बाली ने बताया कि पहले दिन कॉन्फ्रेंस में हार्ट फेल्यर और एंडोवस्कुलर बीमारियों पर बात हुई। एससीएआई के सहयोग से नौजवान इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट्स के लिए यहां दो दिन का कोर्स भी शुरू हुआ है जिसमें करीब 100 बेहतरीन कार्डियोलॉजिस्ट आमंत्रित प्रतिनिधियों के तौर पर पधारे हैं। इस मौके पर डॉ. बाली के साथ यूएसए की यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरिडा हेल्थ की कार्डियोलॉजी डिविजन के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. लुइस ए. गज़मैन और जर्मनी के यूनिवर्सिटी हार्ट सेंटर बैड क्रोजि़ंगन के इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी के डॉ. मिरोस्लॉ फरेंक भी मौजूद थे।डॉ. बाली ने आगे बताया कि देश के विभिन्न हिस्सों से करीब 400 प्रतिनिधियों ने पहले दिन विचार-विमर्श सत्र में भाग लिया। डॉ. बाली और उनकी टीम ने फोर्टिस हॉस्पिटल की कैथ लैब में लाइव इंटरवेंशनल प्रक्रिया की जिसे वेन्यू पर दिखाया गया। डॉ. बाली ने बताया कि कैसे हार्ट फेल्यर पेसमेकर इंप्लांट किया जाता है।

दोपहर में ऐसा केस सामने आया जिसमें बड़ी आर्टरी (एऑर्टा) को बिना सर्जरी के स्टंट ग्राफ्ट से रिपेयर किया गया। इस रीजन में ऐसा पहली बार हुआ जब स्टंट ग्राफ्ट का प्रस्तरण लाइव दिखाया गया।कॉन्फ्रेंस के दौरान यूएस के क्लेवलैंड क्लीनिक से आए डॉ. मंदीप भार्गव ने खतरनाक एरिथमियस के इलाज पर लेक्चर दिया। यूएस के ही केडर्स सेनाई हॉस्पिटल के डॉ. सैबल कर ने हार्ट फेल्यर के नॉन-फार्माकोलोजिकल ट्रीटमेंट के बारे में बात की। उन्होंने दिखाया कि आर्टिफिशियल मकैनिकल हार्ट जैसे लेफ्ट वेंट्रिकुलर असिस्ट डिवाइस रिफ्रेक्टरी हार्ट फेल्यर के मरीजों के लिए काफी मददगार होता है। डॉ. गज़मैन ने बड़ी आर्टरी की पेचीदा बीमरियों को मैनेज करने के लिए लेटेस्ट तकनीक के बारे में बताया। ऐसा पाया गया कि प्रतिनिधि बेहद ध्यान से इस चर्चा में भाग ले रहे थे और इलाज के नए विकल्पों के बारे में अपने संशय स्पष्ट कर रहे थे।डॉ. बाली ने बताया कि कॉन्फ्रेंस के अगले और आखिरी दिन कोरोनरी आर्टरी बीमारियों और उनके इलाज के नए डिवाइस पर फोकस होगा। उन्होंने यह भी कहा कि एऑर्टिक वॉल्व लगाने की तकनीक पर भी विस्तार से चर्चा होगी।

 

Tags: AVINASH RAI KHANNA

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD