Thursday, 18 July 2024

 

 

खास खबरें आम आदमी पार्टी ने हरियाणा में फूंका चुनावी बिगुल ; मुख्यमंत्री भगवंत मान ने की घोषणा सिविल अस्पताल किसी भी निजी अस्पताल के बराबर होगा: सांसद संजीव अरोड़ा शहर वासियों को पीने वाला साफ पानी मुहैया करवाने में नहीं छोड़ी जा रही है कोई कमी : ब्रम शंकर जिंपा हृदय रोग से हर साल 4.77 मिलियन भारतीयों की मौत होती है : डॉ. राकेश शर्मा हरदीप सिंह बावा ने उप-मुख्यमंत्री से भेंट की केवल सिंह पठानिया ने सम्भाला उप-मुख्य सचेतक का पदभार मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा से भेंट की ‘आप दी सरकार, आप दे दुआर’ अभियान के अंतर्गत टांडा के गांव मूनक खुर्द में लगा शिकायत निवारण कैंप कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने कैटल पाउंड फलाही का दौरा कर लिया व्यवस्थाओं का जायजा होशियारपुर के सर्वांगीण विकास में नहीं छोड़ी जाएगी कोई कमी : ब्रम शंकर जिंपा मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने नितिन गडकरी से रानीताल-कोटला, घुमारवीं-जाहू-सरकाघाट सड़कों को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने का आग्रह किया ब्रिटिश उप उच्चायुक्त, चंडीगढ़ ने यूटी चंडीगढ़ सचिवालय में यूटी चंडीगढ़ प्रशासन के प्रशासक के सलाहकार से मुलाकात की सांसद गुरजीत सिंह औजला से मिलने पहुंचे किसान, दिया मांग पत्र मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भेंट की कन्याकुमारी से सियाचिन तक साइकिल यात्रा पर निकली बेटी का राज्यपाल ने बढ़ाया हौसला प्रत्येक जिला में एक गौशाला को नस्ल सुधार के लिए लेंगे गोद : कंवर पाल कैंट के पास बन रहे वेलकम गेट से हिसार की बनेगी एक अलग पहचान : डॉ कमल गुप्ता हरियाणा में हिट-एंड-रन दुर्घटना के पीड़ितों को मिलेगी कैशलेस उपचार की सुविधा मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने एचसीएस-2023 के उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को किया सम्मानित नितिन गडकरी ने हरियाणा से संबंधित सड़क परियोजनाओं की नई दिल्ली में की समीक्षा मुख्यमंत्री ने पंचकूला के पिंजौर में एशिया की सबसे बड़ी आधुनिक सेब, फल एवं सब्जी मंडी के प्रथम चरण का किया उद्घाटन

 

राजीव रंजन सिंह ने सभी योजनाओं के क्रियान्वयन की मौजूदा स्थिति की बारीकी से समीक्षा की

Rajiv Ranjan Singh, Prof. S. P. Singh Baghel, BJP, Bharatiya Janata Party
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नई दिल्ली , 13 Jun 2024

केंद्रीय पंचायती राज और मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री  राजीव रंजन सिंह उर्फ ​​ललन सिंह ने आज पंचायती राज मंत्रालय की विभिन्न गतिविधियों, पहलों और योजनाओं तथा कार्यक्रमों के कार्यान्वयन रणनीतियों पर विस्तार से चर्चा करने के लिए एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में केंद्रीय पंचायती राज और मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी राज्य मंत्री प्रो. एस. पी. सिंह बघेल ने भाग लिया। 

पंचायती राज मंत्रालय के सचिव श्री विवेक भारद्वाज ने मंत्रालय की पहलों और प्रयासों का व्यापक अवलोकन किया, जिसमें प्रमुख हस्तक्षेपों और प्राथमिकता वाले क्षेत्रों पर प्रकाश डाला गया। केंद्रीय मंत्री को पंचायती राज मंत्रालय द्वारा शुरू की गई योजनाओं और पहलों के बारे में जानकारी दी गई। केंद्रीय मंत्रियों ने सभी योजनाओं के कार्यान्वयन की मौजूदा स्थिति की बारीकी से समीक्षा की और भविष्य की कार्ययोजना पर विस्तार से चर्चा की।

ब्रीफिंग मीटिंग में अतिरिक्‍त सचिव डॉ. चंद्र शेखर कुमार, संयुक्त सचिव श्री आलोक प्रेम नागर, संयुक्त सचिव श्री विकास आनंद, संयुक्त सचिव श्री राजेश कुमार सिंह, संयुक्त सचिव एवं वित्तीय सलाहकार श्रीमती तनुजा ठाकुर खलखो, आर्थिक सलाहकार डॉ. बिजय कुमार बेहरा, मुख्य लेखा नियंत्रक श्री अखिलेश झा सहित पंचायती राज मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

बैठक के दौरान, केंद्रीय पंचायती राज मंत्री राजीव रंजन सिंह ने सभी हितधारकों के सामूहिक प्रयासों का लाभ उठाने के महत्व पर जोर दिया, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि भारत सरकार की पहलों का ग्रामीण क्षेत्रों में जमीनी स्तर पर परिवर्तनकारी और उल्लेखनीय प्रभाव हो। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सभी हितधारकों के समन्वित और ठोस प्रयासों से, पंचायती राज मंत्रालय प्रधानमंत्री के विकसित भारत विजन के अनुरूप सभी पहलों और हस्तक्षेपों के लक्षित उद्देश्यों को प्राप्त करने में सफल होगा। केंद्रीय मंत्री श्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ​​ललन सिंह ने सभी योजनाओं को एक निश्चित समय सीमा के भीतर लागू करने के संबंध में निर्देश और सुझाव भी दिए।

केंद्रीय पंचायती राज राज्य मंत्री प्रो. एस. पी. सिंह बघेल ने अपने अमूल्य विचार साझा किए और सुझाव दिया कि पंचायती राज संस्थाओं द्वारा पारदर्शिता और दक्षता के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करने, योजनाओं के उचित कार्यान्वयन और सेवाओं की डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकी और ऐप-आधारित वास्तविक समय की निगरानी को अत्यधिक प्रभावी बनाया जाना चाहिए।

Rajiv Ranjan Singh Reviews Panchayati Raj Initiatives, Emphasizes Grassroots Impact and Digital Monitoring

New Delhi

Union Minister of Panchayati Raj and Fisheries, Animal Husbandry & Dairying  Rajiv Ranjan Singh alias Lalan Singh chaired a review meeting today to discuss in detail the various activities, initiatives and implementation strategies of schemes and programmes of the Ministry of Panchayati Raj. 

The meeting was attended by the Union Minister of State for Panchayati Raj and Fisheries, Animal Husbandry and Dairying Prof. S. P. Singh Baghel. Secretary, Ministry of Panchayati Raj Shri Vivek Bharadwaj gave a comprehensive overview of the initiatives and efforts of the Ministry, highlighting the key interventions and priority areas.

The Union Ministers were briefed on the schemes and initiatives undertaken by the Ministry of Panchayati Raj. The Union Ministers closely reviewed the current status of implementation of all the schemes and discussed in detail the future action plan. Senior officials of the Ministry of Panchayati Raj, including Additional Secretary Dr. Chandra Shekhar Kumar, Joint Secretary Shri Alok Prem Nagar, Joint Secretary Shri Vikas Anand, Joint Secretary Shri Rajesh Kumar Singh, Joint Secretary & Financial Advisor Smt. Tanuja Thakur Khalkho, Economic Advisor Dr. Bijaya Kumar Behera, Chief Controller of Accounts Shri Akhilesh Jha were also present at the briefing meeting.

During the meeting, Union Minister of Panchayati Raj Shri Rajiv Ranjan Singh alias Lalan Singh emphasized the importance of leveraging the collective efforts of all stakeholders to ensure that the initiatives of Government of India have a transformative and noticeable impact at the grassroots level across rural areas. 

He expressed confidence that with coordinated and concerted efforts from all stakeholders, the Ministry of Panchayati Raj will be successful in achieving the targeted objectives of all initiatives and interventions, in line with the Viksit Bharat vision of the Prime Minister. Union Minister Shri Rajiv Ranjan Singh alias Lalan Singh also provided instructions and suggestions regarding the implementation of all Schemes within a definite timeframe.

Union Minister of State for Panchayati Raj Prof. S. P. Singh Baghel shared his invaluable insights and suggested that digital technology and app-based real-time monitoring should be made highly effective for the Panchayati Raj Institutions to discharge their responsibilities with transparency and efficiency, ensuring proper implementation of schemes and delivery of services.

 

Tags: Rajiv Ranjan Singh , Prof. S. P. Singh Baghel , BJP , Bharatiya Janata Party

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD