Tuesday, 18 June 2024

 

 

खास खबरें मुख्यमंत्री ने तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत रामलला के दर्शन के लिए बस को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना सी जी सी झंजेड़ी कैंपस में विद्यार्थियों को सड़की नियमों के पालन के लिए जागरूक करने के लिए लिए साप्ताहिक वर्कशाप का समापन लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी की महिला सॉफ्टबॉल टीम ने एआईयू सॉफ्टबॉल महिला टूर्नामेंट में जीत हासिल की जालंधर पश्चिम विधानसभा उपचुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने मोहिंदर भगत को बनाया उम्मीदवार डॉ. एस.पी. सिंह ओबरॉय के प्रयासों से फांसी से बचा युवक सुखवीर रिहाई के बाद अपने वतन लौटा औद्योगिक क्षेत्र में सभी मूलभूत सुविधाएं बेहतर की जाए : नायब सिंह पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित गुरुद्वारा पौंटा साहिब में हुए नतमस्तक पिंजौर में 15 जुलाई से शुरू होगी सेब मंडी : नायब सिंह मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने मिल्कफेड की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ‘इंदिराज हिमाचल-टूवर्ड्ज़ न्यू फ्रंटियर्ज’ प्रदर्शनी का शुभारम्भ किया मण्डी मध्यस्थता योजना के तहत सभी लंबित देनदारियों के निपटारे के लिए 153 करोड़ रुपये जारी : सुखविंदर सिंह सुक्खू वन-मित्रों की भर्ती की जाएगी : नायब सिंह पंजाब पुलिस द्वारा नशों के विरुद्ध विशेष जागरूकता मुहिम की शुरुआत राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने किया चार दिवसीय अंतरराष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव का शुभारम्भ हिमाचल में हमले के शिकार हुए एनआरआई परिवार से अमृतसर के अस्पताल में मिलने पहुंचे मंत्री कुलदीप धालीवाल ड्रग्स मुद्दे पर सुनील जाखड़ के ट्वीट पर आप की प्रतिक्रिया पंजाब में भाजपा की जीरो सीट के लिए सुनील जाखड़ जिम्मेदार : नील गर्ग सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ‘इंदिराज हिमाचल-टूवर्ड्ज़ न्यू फ्रंटियर्ज’ प्रदर्शनी का शुभारम्भ किया कृषि उत्पादकता बढ़ाने के लिए नवाचार अपनाएं अधिकारी : प्रो.चन्द्र कुमार 18वीं लोकसभा आम चुनाव में हरियाणा में भाजपा को कांग्रेस से 3.17 लाख वोट अधिक प्राप्त हुए - एडवोकेट हेमंत कुमार अमित शाह ने जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा परिदृश्य की समीक्षा के लिए एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की

 

भगवान बुद्ध की शिक्षाएं आज और भी अधिक प्रासंगिक: राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल

Shiv Pratap Shukla, Himachal Pradesh, Himachal, Bharatiya Janata Party, BJP, BJP Himachal, Shimla, Raj Bhawan
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

शिमला , 23 May 2024

किन्नौर, लाहौल-स्पीति बौद्ध सेवा संघ शिमला द्वारा इंडो-तिब्बत फ्रेंडशिप सोसायटी शिमला के सहयोग से आज भगवान बुद्ध की 2568वीं जयन्ती के अवसर पर दोर्जे डरैक बौध विहार पंथाघाटी शिमला में समारोह आयोजित किया। इस अवसर पर राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल मुख्यातिथि रहे। राज्यपाल ने बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भगवान बुद्ध द्वारा दी गई करूणा, शांति तथा मोक्ष की शिक्षाएं समय, संस्कृति तथा सरहदों से परे करोड़ों लोगों को आत्मिक शांति तथा सार्वभौमिक भाईचारे के पथ पर चलने के लिए प्ररित कर रही है। 

उन्होंने कहा कि उनका संदेश आज और भी ज्यादा प्रासंगिक है क्यांेकि हम इस आधुनिक संसार में प्रायः मतभेद और भौतिकवाद से जूझ रहे हैं। भगवान बुद्ध का जीवन तथा इनकी शिक्षाएं आत्मविश्लेषण, नैतिक जीवनशैली तथा ज्ञान की खोज की महत्वता पर बल देती है। उनके चार महान सत्य तथा अष्टांगिक मार्ग व्यक्तिगत तथा सामूहिक सौहार्द प्राप्त करने का उत्तम साधन है जो सदैव प्रासंगिक रहेगा। ये सिद्धान्त हमें हमारी पीड़ा का सामना करने, इसके कारण समझने तथा पीड़ा से मुक्ति पाने के मार्ग पर चलने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

उन्होंने कहा कि वर्तमान संदर्भ में ये शिक्षाएं हम में सहनशीलता, सहानुभूति तथा परस्पर सम्मान की भावना जागृत करती हैं। ये हमें सांसारिक लगाव की अनस्थिरता तथा सचेतना व करूणा आधारित जीवन की कीमत को समझने में सहायता करते हैं।

राज्यपाल ने किन्नौर व लाहौल-स्पीति के बौध समुदायों तथा इंडो-तिब्बत फ्रेंडशिप सोसायटी के प्रयासों की सराहना की और कहा कि उनके प्रयास बौध धर्म की समृद्ध विरासत के संरक्षण तथा संवर्धन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। शिव प्रताप शुक्ल ने कहा कि इन समुदायों द्वारा भगवान बुद्ध की शिक्षाओं की आध्यात्मिक तथा सांस्कृतिक महता को बनाए रखने के लिए समर्पण भाव से किए गए प्रयासों की सराहना की। 

उन्होंने कहा कि इनके प्रयासों के कारण शांति, अहिंसा तथा करूणा का महत्व बढ़ रहा है तथा नई पीढ़ी को प्रेरित कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह त्योहार भारत और तिब्बत के लोगों के मध्य गहरी मित्रता और सांस्कृतिक आदान-प्रदान का प्रतीक भी है। इस अवसर पर हमारा साझा इतिहास तथा सांस्कृतिक रिश्ते और मजबूत होते हैं, जिससे पारस्परिक सौहार्द बढ़ता है। उ

न्होंने लोगों से भगवान बुद्ध की शिक्षाओं को दैनिक जीवन में अपनाने के प्रयास करने तथा करूणा, ज्ञान और शांति को प्रोत्साहित करने का आह्वान किया।

राज्यपाल ने इस अवसर पर यांग्सी रिनपोचे को सम्मानित किया।

राज्यपाल ने भारतीय समुदाय से सहायक प्रोफेसर डॉ. श्रवण कुमार तथा तिब्बती समुदाय से भिक्षु शेडुप वांग्याल को भारत-तिब्बत मैत्री सम्मान-2024 प्रदान किया। इससे पूर्व, इंडो-तिब्बत फ्रेंडशिप सोसायटी शिमला के उपाध्यक्ष छेरिंग दोरजे ने राज्यपाल का स्वागत किया। किन्नौर, लाहौल-स्पीति बौध सेवा संघ शिमला के सदस्य ज्ञान देगी ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला में अध्ययनरत लाहौल स्पीति के विद्यार्थियों तथा तिब्बतीयन स्कूल के विद्यार्थियों शिमला द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए। राज्यपाल ने दोर्जे डरैक बौध विहार में प्रार्थना भी की।इस अवसर पर इंडो-तिब्बत फ्रेंडशिप सोसायटी शिमला के अध्यक्ष तथा किन्नौर, लाहौल-स्पीति बौध सेवा संघ के अध्यक्ष वी.एस. नेगी और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

 

Tags: Shiv Pratap Shukla , Himachal Pradesh , Himachal , Bharatiya Janata Party , BJP , BJP Himachal , Shimla , Raj Bhawan

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD