Thursday, 20 June 2024

 

 

खास खबरें राजा वड़िंग को पुलिस विभाग में तबादलों से परेशानी क्यों, क्या इसमें उनके निजी आर्थिक हित जुड़े हैं? - मलविंदर सिंह कंग मुख्यमंत्री ने इंदिरा गांधी प्यारी बहना सुख सम्मान निधि योजना के तहत ऊना जिला की 7,280 महिलाओं को 3.27 करोड़ रुपए जारी किए चेतन सिंह जौड़ामाजरा द्वारा शाहपुर कंडी डैम का निरीक्षण 120 करोड़ की लागत से होगा तुंग ढाब नाले का जीर्णोद्धार - कुलदीप सिंह धालीवाल प्रदेशभर के श्रमिकों को मुख्यमंत्री ने दी बड़ी सौगात, 18 योजनाओं के तहत 1 लाख से अधिक निर्माण श्रमिकों को वितरित की लगभग 80 करोड़ रुपये की राशि मुख्यमंत्री नायब सिंह ने जींद से मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत बस को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना मुख्यमंत्री ने चौ. रणबीर सिंह विश्वविद्यालय परिसर में किया 19.20 करोड़ रुपए की लागत से बने इंटरनेशनल गेस्ट हाऊस का उद्घाटन ब्रम शंकर जिम्पा ने नहरी पानी योजनाओं को समय पर पूरा करने के सख़्त निर्देश किए जारी ख़ुराक, सिविल स्पलाई एंव खपतकार मामले मंत्री लाल चंद कटारूचक्क ने रबी मंडीकरण सीजन को निर्विघ्न और सफ़लापूर्वक पूरा करवाने के विभाग की प्रशंसा की अजनाला के गांवों में जायजा लेने पहुंचे गुरजीत सिंह औजला ग्रीष्मोत्सव की आखिरी सांस्कृतिक संध्या में मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने बतौर मुख्यतिथि की शिरकत 18,000 रुपए रिश्वत मांगने वाला सहायक सब इंस्पेक्टर विजीलैंस ब्यूरो ने किया काबू नीट में घोटाले के खिलाफ आप ने चंडीगढ़ में किया प्रदर्शन एलपीयू के 1100 से अधिक छात्रों को ₹10 लाख से ₹64 लाख तक का पैकेज मिला; शीर्ष छात्रों का औसत ₹12.3 लाख रहा बिकने के बाद भाजपा के गुलाम हुए तीनों निर्दलीय पूर्व विधायक : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू सुखविंदर सिंह बिंद्रा ने केंद्रीय राज्य वित मंत्री पंकज चौधरी से की मुलाकात पीजीआईएमएस रोहतक में शुरू होगा स्टेट ट्रांसप्लांट सेंटर : नायब सिंह पीएम मोदी ने किसानों को किया सशक्त : नायब सिंह मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान ने घग्गर नदी के साथ इलाकों में चल रहे बाढ़ रोकथाम कार्यों का लिया जायज़ा शहर वासियों की समस्याओं का प्राथमिकता से हो समाधान : ब्रम शंकर किपा अब गीला व सूखा कचरा सीधे शहर से बाहर जायेगा : ब्रम शंकर जिम्पा

 

एलपीयू के विद्यार्थियों ने शिक्षा मंत्रालय की राष्ट्रीय रोबोटिक्स और ड्रोन प्रतियोगिता में जीता 5 लाख का अनुदान

भारत सरकार की युक्ति इनोवेशन चैलेंज (YIC) जीतने वाली भारत की 1000 से अधिक टीमों में किया बेहतरीन प्रदर्शन

Lovely Professional University, Jalandhar, Phagwara, LPU, LPU Campus, Ashok Mittal, Rashmi Mittal
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

जालंधर , 16 May 2024

लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) के विद्यार्थियों ने भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय "युक्ति इनोवेशन चैलेंज (वाईआईसी)" 3.0 में चैंपियन बनकर एक बार फिर अपनी इनोवेशन की क्षमता का बेहतरीन प्रदर्शन किया है। एलपीयू टीम, जिसे "इनोवोर्टेक्स" के नाम से जाना जाता है, ने रोबोटिक्स और ड्रोन की स्टूडेंट इनोवेशन श्रेणी में जीत का दावा करने के लिए पूरे भारत की 1,000 से अधिक टीमों को पीछे छोड़ दिया।

शिक्षा मंत्रालय ने भी इन स्टूडेंट्स  के नवीन प्रयासों का समर्थन करने के लिए उन्हें 5 लाख रुपये का अनुदान देकर उनकी असाधारण प्रतिभा को मान्यता दी है। एलपीयू के विद्यार्थियों की यह जीत स्मार्ट इंडिया हैकथॉन-2023 ग्रैंड फिनाले (हार्डवेयर संस्करण) में उनकी हालिया सफलता के बाद आई है, जिसने अनुसंधान और नवाचार में अग्रणी के रूप में एलपीयू की स्थिति को मजबूत किया है।

एलपीयू के स्टूडेंट्स के द्वारा विकसित अभूतपूर्व नवाचार का उद्देश्य सुरंगों और गुफाओं पर विशेष ध्यान देने के साथ निर्माण और उत्खनन प्रक्रियाओं के दौरान टकराव और दुर्घटनाओं के महत्वपूर्ण मुद्दे से निपटना है। उनका रोबोट एक आशाजनक समाधान प्रस्तुत करता है जो इन चुनौतीपूर्ण वातावरणों में सुरक्षा उपायों में क्रांतिकारी बदलाव ला सकता है।

एलपीयू के संस्थापक चांसलर और राज्यसभा के प्रतिष्ठित सदस्य डॉ. अशोक कुमार मित्तल ने स्टूडेंट्स और उनके गुरुओं को हार्दिक बधाई दी। उन्होंने उत्कृष्टता के प्रति उनके समर्पण, कड़ी मेहनत और प्रतिबद्धता की भी सराहना की और उनसे नवाचार के प्रति अपने जुनून को उज्ज्वल बनाए रखने का आग्रह किया। डॉ. मित्तल ने स्टूडेंट्स द्वारा हासिल किए गए महत्वपूर्ण मील के पत्थर पर भी जोर दिया, क्योंकि वे अपने जीवन के शुरुआती  चरण में ही उद्यमशीलता की अपनी सफल यात्रा शुरू कर रहे  हैं।

वाईआईसी में जीत न केवल एलपीयू के स्टूडेंट्स की असाधारण प्रतिभा को उजागर करती है, बल्कि उन्हें अकादमिक संस्थानों द्वारा विकसित विचारों, नवाचारों और स्टार्टअप के राष्ट्रीय भंडार में योगदानकर्ता के रूप में भी अंकित करती है। राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में एलपीयू के स्टूडेंट्स की सफलता नवाचार और अनुसंधान में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए अपने स्टूडेंट्स को पोषित और सशक्त बनाने की विश्वविद्यालय की प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है। 

रचनात्मकता की संस्कृति को बढ़ावा देकर और विद्यार्थियों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करके, एलपीयू खुद को तकनीकी प्रगति और उद्यमशीलता की सफलता के लिए अग्रणी संस्थान के रूप में स्थापित करना जारी रख रहा है। शिक्षा मंत्रालय का इनोवेशन सेल (एमआईसी) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) देश भर के उच्च शिक्षा संस्थानों में नवाचार की संस्कृति को बढ़ावा देने में सहायक रहे हैं।

LPU’s students win 5 lakh grant in Ministry of Education’s national Robotics and Drones competition

Excelled among India’s 1000+ teams to win Government of India’s Yukti Innovation Challenge (YIC)

Jalandhar

Students from Lovely Professional University (LPU) have once again showcased their innovation prowess by emerging as champions in the prestigious national "Yukti Innovation Challenge (YIC)" 3.0, convened by the Government of India's Ministry of Education. The LPU team, known as "Innovortex," surpassed over 1,000 teams from across India to claim victory in the student innovation category of Robotics and Drones.

The Ministry of Education has also recognized the students' exceptional talent by awarding them a grant of Rs 5 Lakhs to support their innovative endeavors. The victory at the YIC comes on the heels of their recent success at the Smart India Hackathon-2023 Grand Finale (Hardware Edition), solidifying LPU's position as a leader in research and innovation

The groundbreaking innovation developed by the LPU students aims to tackle the critical issue of collisions and accidents during construction and excavation processes, with a particular focus on tunnels and caves. Their robot presents a promising solution that can revolutionize safety measures in these challenging environments.

Dr. Ashok Kumar Mittal, the Founder Chancellor of LPU and a distinguished Member of the Rajya Sabha, expressed his heartfelt congratulations to the students and their mentors. He commended their dedication, hard work, and commitment to excellence, urging them to keep their passion for innovation burning bright. Dr. Mittal also emphasized the significant milestone achieved by the students, as they embark on their entrepreneurial journey at such an early stage of their lives.

The victory in the YIC not only honours the exceptional talent of LPU students but also positions them as contributors to the national repository of ideas, innovations, and startups developed by academic institutions. The competition has provided them with invaluable mentoring, training, and handholding activities, facilitating the further development of their innovation into a scalable and sustainable business model.

The success of LPU students in national competitions underscores the university's commitment to nurturing and empowering its students to excel in innovation and research. By fostering a culture of creativity and providing a platform for students to showcase their talent, LPU continues to establish itself as a leading institution driving technological advancements and entrepreneurial success.

The Ministry of Education's Innovation Cell (MIC) and the All India Council for Technical Education (AICTE) have been instrumental in fostering a culture of innovation within higher education institutions across the country. The YIC, a flagship initiative under the YUKTI program, provides comprehensive experiential learning opportunities for innovators. It encompasses market validation, intellectual property generation, refinement, business plan development, and startup formation, among other aspects.

ਐਲਪੀਯੂ ਦੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਨੇ ਸਿੱਖਿਆ ਮੰਤਰਾਲੇ ਦੇ ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਰੋਬੋਟਿਕਸ ਅਤੇ ਡਰੋਨ ਮੁਕਾਬਲੇ ਵਿੱਚ 5 ਲੱਖ ਰੁਪਏ ਦੀ ਗ੍ਰਾਂਟ ਜਿੱਤੀ

ਭਾਰਤ ਸਰਕਾਰ ਦੀ ਯੁਕਤੀ ਇਨੋਵੇਸ਼ਨ ਚੈਲੇਂਜ (YIC) ਜਿੱਤਣ ਵਾਲੀਆਂ 1000 ਤੋਂ ਵੱਧ ਭਾਰਤੀ ਟੀਮਾਂ ਵਿੱਚੋਂ ਵਧੀਆ ਪ੍ਰਦਰਸ਼ਨ ਕੀਤਾ

ਜਲੰਧਰ

ਲਵਲੀ ਪ੍ਰੋਫੈਸ਼ਨਲ ਯੂਨੀਵਰਸਿਟੀ (ਐਲਪੀਯੂ) ਦੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਨੇ ਇੱਕ ਵਾਰ ਫਿਰ ਭਾਰਤ ਸਰਕਾਰ ਦੇ ਸਿੱਖਿਆ ਮੰਤਰਾਲੇ ਦੁਆਰਾ ਆਯੋਜਿਤ ਰਾਸ਼ਟਰੀ "ਯੁਕਤੀ ਇਨੋਵੇਸ਼ਨ ਚੈਲੇਂਜ (YIC)" 3.0 ਵਿੱਚ ਚੈਂਪੀਅਨ ਬਣ ਕੇ ਆਪਣੀ ਨਵੀਨਤਾ ਦੀ ਸਮਰੱਥਾ ਦਾ ਪ੍ਰਦਰਸ਼ਨ ਕੀਤਾ ਹੈ। ਐਲਪੀਯੂ ਟੀਮ, ਜਿਸਨੂੰ "ਇਨੋਵਰਟੈਕਸ" ਵਜੋਂ ਜਾਣਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ, ਨੇ ਰੋਬੋਟਿਕਸ ਅਤੇ ਡਰੋਨਾਂ ਦੀ ਸਟੂਡੈਂਟ ਇਨੋਵੇਸ਼ਨ ਸ਼੍ਰੇਣੀ ਵਿੱਚ ਜਿੱਤ ਦਾ ਦਾਅਵਾ ਕਰਨ ਲਈ ਭਾਰਤ ਭਰ ਦੀਆਂ 1,000 ਤੋਂ ਵੱਧ ਟੀਮਾਂ ਨੂੰ ਹਰਾਇਆ।

ਸਿੱਖਿਆ ਮੰਤਰਾਲੇ ਨੇ ਵੀ ਇਨ੍ਹਾਂ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਦੀ ਅਸਾਧਾਰਨ ਪ੍ਰਤਿਭਾ ਨੂੰ ਮਾਨਤਾ ਦਿੱਤੀ ਹੈ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਨਵੀਨਤਾਕਾਰੀ ਯਤਨਾਂ ਦਾ ਸਮਰਥਨ ਕਰਨ ਲਈ 5 ਲੱਖ ਰੁਪਏ ਦੀ ਗ੍ਰਾਂਟ ਦਿੱਤੀ ਹੈ। ਐਲਪੀਯੂ ਦੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਦੀ ਇਹ ਜਿੱਤ ਸਮਾਰਟ ਇੰਡੀਆ ਹੈਕਾਥਨ-2023 ਗ੍ਰੈਂਡ ਫਿਨਾਲੇ (ਹਾਰਡਵੇਅਰ ਐਡੀਸ਼ਨ) ਵਿੱਚ ਉਹਨਾਂ ਦੀ ਹਾਲੀਆ ਸਫਲਤਾ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਹੈ, ਖੋਜ ਅਤੇ ਨਵੀਨਤਾ ਵਿੱਚ ਇੱਕ ਆਗੂ ਵਜੋਂ ਐਲਪੀਯੂ ਦੀ ਸਥਿਤੀ ਨੂੰ ਮਜ਼ਬੂਤ ਕਰਦੀ ਹੈ।

ਐਲਪੀਯੂ ਦੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਦੁਆਰਾ ਵਿਕਸਤ ਕੀਤੀ ਗਈ ਮਹੱਤਵਪੂਰਨ ਨਵੀਨਤਾ ਦਾ ਉਦੇਸ਼ ਸੁਰੰਗਾਂ ਅਤੇ ਗੁਫਾਵਾਂ 'ਤੇ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਧਿਆਨ ਦੇ ਨਾਲ ਨਿਰਮਾਣ ਅਤੇ ਖੁਦਾਈ ਪ੍ਰਕਿਰਿਆਵਾਂ ਦੌਰਾਨ ਟਕਰਾਅ ਅਤੇ ਹਾਦਸਿਆਂ ਦੇ ਨਾਜ਼ੁਕ ਮੁੱਦੇ ਨਾਲ ਨਜਿੱਠਣਾ ਹੈ। ਉਹਨਾਂ ਦਾ ਰੋਬੋਟ ਇੱਕ ਸ਼ਾਨਦਾਰ ਹੱਲ ਪੇਸ਼ ਕਰਦਾ ਹੈ ਜੋ ਇਹਨਾਂ ਚੁਣੌਤੀਪੂਰਨ ਵਾਤਾਵਰਣਾਂ ਵਿੱਚ ਸੁਰੱਖਿਆ ਉਪਾਵਾਂ ਵਿੱਚ ਕ੍ਰਾਂਤੀ ਲਿਆ ਸਕਦਾ ਹੈ।

ਐਲਪੀਯੂ ਦੇ ਸੰਸਥਾਪਕ ਚਾਂਸਲਰ ਅਤੇ ਰਾਜ ਸਭਾ ਦੇ ਉੱਘੇ ਮੈਂਬਰ ਡਾ: ਅਸ਼ੋਕ ਕੁਮਾਰ ਮਿੱਤਲ ਨੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਅਧਿਆਪਕਾਂ ਨੂੰ ਦਿਲੋਂ ਵਧਾਈ ਦਿੱਤੀ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੇ ਉੱਤਮਤਾ ਪ੍ਰਤੀ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਸਮਰਪਣ, ਸਖ਼ਤ ਮਿਹਨਤ ਅਤੇ ਵਚਨਬੱਧਤਾ ਦੀ ਵੀ ਸ਼ਲਾਘਾ ਕੀਤੀ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਨਵੀਨਤਾ ਲਈ ਆਪਣੇ ਜਨੂੰਨ ਨੂੰ ਬਲਦਾ ਰੱਖਣ ਦੀ ਤਾਕੀਦ ਕੀਤੀ।

ਯੁਕਤੀ ਇਨੋਵੇਸ਼ਨ ਚੈਲੇਂਜ 'ਤੇ ਜਿੱਤ ਨਾ ਸਿਰਫ਼ ਐਲਪੀਯੂ ਦੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਦੀ ਅਸਾਧਾਰਨ ਪ੍ਰਤਿਭਾ ਨੂੰ ਉਜਾਗਰ ਕਰਦੀ ਹੈ, ਸਗੋਂ ਉਹਨਾਂ ਨੂੰ ਅਕਾਦਮਿਕ ਸੰਸਥਾਵਾਂ ਦੁਆਰਾ ਵਿਕਸਿਤ ਕੀਤੇ ਗਏ ਵਿਚਾਰਾਂ, ਨਵੀਨਤਾਵਾਂ ਅਤੇ ਸਟਾਰਟਅੱਪਸ ਦੇ ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਭੰਡਾਰ ਵਿੱਚ ਯੋਗਦਾਨ ਪਾਉਣ ਵਾਲੇ ਵਜੋਂ ਵੀ ਚਿੰਨ੍ਹਿਤ ਕਰਦੀ ਹੈ।

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਤੀਯੋਗਤਾਵਾਂ ਵਿੱਚ ਐਲਪੀਯੂ ਦੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਦੀ ਸਫਲਤਾ ਆਪਣੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਨੂੰ ਨਵੀਨਤਾ ਅਤੇ ਖੋਜ ਵਿੱਚ ਉੱਤਮਤਾ ਪ੍ਰਾਪਤ ਕਰਨ ਲਈ ਪਾਲਣ ਪੋਸ਼ਣ ਅਤੇ ਸ਼ਕਤੀ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕਰਨ ਲਈ ਯੂਨੀਵਰਸਿਟੀ ਦੀ ਵਚਨਬੱਧਤਾ ਨੂੰ ਰੇਖਾਂਕਿਤ ਕਰਦੀ ਹੈ। ਰਚਨਾਤਮਕਤਾ ਦੇ ਸੱਭਿਆਚਾਰ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਿਤ ਕਰਨ ਅਤੇ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਨੂੰ ਆਪਣੀ ਪ੍ਰਤਿਭਾ ਦਾ ਪ੍ਰਦਰਸ਼ਨ ਕਰਨ ਲਈ ਇੱਕ ਪਲੇਟਫਾਰਮ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕਰਕੇ, ਐਲਪੀਯੂ ਆਪਣੇ ਆਪ ਨੂੰ ਤਕਨੀਕੀ ਤਰੱਕੀ ਅਤੇ ਉੱਦਮੀ ਸਫਲਤਾ ਲਈ ਇੱਕ ਮੋਹਰੀ ਸੰਸਥਾ ਵਜੋਂ ਸਥਾਪਤ ਕਰਨਾ ਜਾਰੀ ਰੱਖਦਾ ਹੈ।

ਸਿੱਖਿਆ ਮੰਤਰਾਲੇ ਦਾ ਇਨੋਵੇਸ਼ਨ ਸੈੱਲ (MIC) ਅਤੇ ਆਲ ਇੰਡੀਆ ਕਾਉਂਸਿਲ ਫਾਰ ਟੈਕਨੀਕਲ ਐਜੂਕੇਸ਼ਨ (AICTE) ਨੇ ਦੇਸ਼ ਭਰ ਦੀਆਂ ਉੱਚ ਸਿੱਖਿਆ ਸੰਸਥਾਵਾਂ ਵਿੱਚ ਨਵੀਨਤਾ ਦੇ ਸੱਭਿਆਚਾਰ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਿਤ ਕਰਨ ਵਿੱਚ ਮਹੱਤਵਪੂਰਨ ਭੂਮਿਕਾ ਨਿਭਾਈ ਹੈ। YIC ਅਜਿਹੇ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਦੇ ਤਹਿਤ ਇੱਕ ਪ੍ਰਮੁੱਖ ਪਹਿਲਕਦਮੀ ਹੈ ਜੋ ਨਵੀਨਤਾਕਾਰਾਂ ਲਈ ਵਿਆਪਕ ਅਨੁਭਵੀ ਸਿੱਖਣ ਦੇ ਮੌਕੇ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕਰਦਾ ਹੈ।

 

Tags: Lovely Professional University , Jalandhar , Phagwara , LPU , LPU Campus , Ashok Mittal , Rashmi Mittal

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD