Thursday, 23 May 2024

 

 

खास खबरें बठिंडा मिशन पर मान- हलके के मुद्दों पर लोगों से की बात, गिनाए अपने दो साल के काम, बादलों पर बोला तीखा सियासी हमला ऐसा पंजाब बनाएंगे कि नौकरी के लिए बाहर न जाना पड़े : विजय इंदर सिंगला मोती महल वालों को मोदी भी नहीं लगा पाएंगे बेड़ा पार:एन.के.शर्मा पंजाब और सिखों के सम्मान के लिए मोदी सरकार वचनबद्ध : तरुण चुघ बीजेपी का 400 पार का लक्ष्य पूरा होगा : डा सुभाष शर्मा कांग्रेस की राज्य इकाई ने देश के 60 साल बर्बाद कर दिए : डा. सुभाष शर्मा मीत हेयर ने युवाओं को भड़काने वाले विरोधियों को आड़े हाथों लिया राजा वड़िंग ने चुनाव में भाजपा से बदला लेने का आह्वान किया; अहम कृषि सुधारों का वादा किया लोकसभा चुनाव हिंदुस्तान के भविष्य का चुनाव है क्योंकि पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने 2047 तक विकसित भारत बनाने की बात की है - पूर्व गृह मंत्री अनिल विज एमएसपी और बाढ़ प्रभावित फसलों के मुआवजे पर मान सरकार ने वादाखिलाफी की : डॉ. सुभाष शर्मा देश में दस साल से चल रहा कार्पोरेट घराने का राज : गुरजीत सिंह औजला अमृतसर का बहादुर, मेहनती, ईमानदार और किसान का बेटा है औजला : सचिन पायलट मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बठिंडा से आप उम्मीदवार गुरमीत खुड्डियां के लिए किया प्रचार, बुढलाडा में की जनसभा, कहा - यहां से मेरा काफी पुराना रिश्ता है खनन माफिया ने शुक्र व पुंग खड्ड में क्रशर लगाकर डकार ली खनिज संपदा : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू सांप्रदायिक,घोर जातिवादी व परिवारवादी है कांग्रेस : कंगना रनौत जिला निर्वाचन अधिकारी कुलवंत सिंह ने मतदाता जागरूकता वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया मतदान केंद्रों पर हो व्हील चेयर की व्यवस्था - मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल सीजीसी लांडरां की आईक्यूएसी ने एक्रेडिटेशन के लिए आउटकम-बेस्ड एजुकेशन प्रोग्राम पर शार्ट टर्म कोर्स का आयोजन किया भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में गांव संभालकी में भाजपा ने मांगे वोट मतदाता संकल्प हस्ताक्षर अभियान के अंतर्गत जिले के मतदाताओं को वोटिंग के लिए किया जागरुक अरविंद खन्ना का जनता से वादा अब आएगी हल्के में विकास की सुनामी

 

सीजीसी के बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट ने एफडीपी का आयोजन किया

CGC Landran, Landran, Chandigarh Group Of Colleges, Satnam Singh Sandhu, Rashpal Singh Dhaliwal
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

लांडरां , 01 Mar 2024

डिपार्टमेंट ऑफ़ बायोटेक्नोलॉजी, सीसीटी, सीजीसी लांडरां, ने एडीआई बायोसोल्यूशन्स, मोहाली के सहयोग से एडवांस्ड रिसर्च टूल ‘क्वांटिनोवा का उपयोग करके बायोमेडिकल रिसर्च करने की ट्रेनिंग के लिए, पांच-दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम (एफडीपी) का आयोजन किया। एफडीपी का मुख्य उद्देश्य शिक्षकों के शिक्षण और सीखने के कौशलों को बढ़ावा देना था, साथ ही उन्हें नए रिसर्च टूल पर प्रशिक्षण देना भी था।

इस इवेंट का उद्घाटन एडीआई बायोसोल्यूशन्स के सीईओ मनीत मथारू द्वारा  किया गया।  उन्होंने नवीन और नवाचारी तकनीकों का उपयोग करने पर एक सेशन भी आयोजित किया। सीजीसी लांडरां के बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट की एचओडी डॉ. पाल्की साहिब कौर ने कहा, "यह एफडीपी सीजीसी के शिक्षाविदों के लिए इंटरैक्टिव योग्यताओं और ब्रेनस्टॉर्मिंग सत्रों के माध्यम से नई रिसर्च टेक्निक के बारे में अपनी समझ को विकसित करने का एक अद्वितीय अवसर प्रदान करेगा।

यह उनके कौशल को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा साथ ही उन्हें शिक्षण में एप्लाइड रिसर्च का प्रयोग करने को भी प्रोत्साहित करेगा।“इस पांच दिवसीय एफडीपी में एडीआई बायोसोल्यूशंस के विशेषज्ञों रतन कौर, कामिनी भारद्वाज, संयुक्ता कुमारी और प्रियंका सिंह द्वारा करवाए गऐ तकनीकी सत्रों की श्रृंखला शामिल थी। मेडिकल राइटिंग की प्रमुख रतन कौर ने क्वांटिनोवा अध्ययन उपकरण की एक विस्तृत प्रस्तुति दी और अनुसंधान अध्ययन बनाने के लिए इस उपकरण के सर्वोत्तम उपयोग पर जानकारी भी प्रदान की।

इसके साथ ही अन्य एक्सपर्ट्स ने रिसर्च टॉपिक के सही चयन, साहित्य समीक्षा, फॉर्म बनाना, डेटा संग्रह की बुनियादी बातें, रिकॉर्ड भरना, डेटाबेस लॉक और प्रयोगशाला डेटा के प्रबंधन के विस्तृत सत्रों के बारे में सीजीसी के संकाय सदस्यों को विस्तृत जानकारी दी। टीम ने फैकल्टी सदस्यों को ऑडिट ट्रेल, रिसर्च पहचान के साइंटिफिक राइटिंग और रिसर्च पेपर प्रकाशन के बारे में भी प्रस्तुति दी।

Five-day FDP organised by Biotechnology Department of CGC Landran

Landran

A five-day Faculty Development Programme (FDP) on biomedical research using advanced research tool ‘Quantinova’, was organised by the Department of Biotechnology, CCT, CGC Landran in association with ADI Biosolutions, Mohali. The FDP was focused on enhancing faculty members' teaching and learning skills while also training them on the latest research tools.

The programme was inaugurated by Mr. Maneet Matharu, CEO, ADI Biosolutions who also delivered an introductory session on using innovative & novel techniques to undertake and conduct research. “This FDP would provide a unique opportunity for CGC’s academicians to enhance their understanding of new research techniques through interactive engagements and brainstorming sessions.

It would play a key role in reinforcing their skills apart from encouraging usage of applied research in teaching,” said Dr. Palki Sahib Kaur, HoD, Department of Biotechnology, CCT, CGC Landran. The programme encompassed a series of technical sessions conducted by experts from ADI Biosolutions including Ms. Ratan Kaur, Ms. Kamini Bhardwaj, Ms. Samyukta Kumari and Ms. Priyanka Singh. Ms. Ratan Kaur, Head, medical writing, gave an elaborate demonstration of the Quantinova study tool and how to use it optimally for creating research studies.

The other experts delved into detailed sessions on the correct choice of research topic, literature review, form creation, basics of data collection, record filling, database lock and management analysis of experimental data. The team also focused on enlightening the faculty members about audit trail, modes of research recognition-scientific writing and research paper publications.

ਸੀਜੀਸੀ ਦੇ ਬਾਇਓਟੈਕਨਾਲੋਜੀ ਵਿਭਾਗ ਵੱਲੋਂ ਐਫਡੀਪੀ ਦਾ ਆਯੋਜਨ

ਲਾਂਡਰਾਂ

ਸੀਸੀਟੀ, ਸੀਜੀਸੀ ਲਾਂਡਰਾਂ ਦੇ ਬਾਇਓਟੈਕਨਾਲੋਜੀ ਵਿਭਾਗ ਵੱਲੋਂ ਏਡੀਆਈ ਬਾਇਓਸੋਲਿਊਸ਼ਨਜ਼, ਮੋਹਾਲੀ ਦੇ ਸਹਿਯੋਗ ਨਾਲ ਪੰਜ ਦਿਨਾਂ ਫੈਕਲਟੀ ਡਿਵੈਲਪਮੈਂਟ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ (ਐਫਡੀਪੀ) ਦਾ ਆਯੋਜਨ ਕੀਤਾ ਗਿਆ। ਇਸ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਦਾ ਵਿਸ਼ਾ ਅਡਵਾਂਸਡ ਰਿਸਰਚ ਟੂਲ ਕੁਆਂਟੀਨੋਵਾ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰਕੇ ਬਾਇਓਮੈਡੀਕਲ ਖੋਜ ਕਰਨਾ ਸੀ। ਐਫਡੀਪੀ ਦਾ ਮੁੱਖ ਉਦੇਸ਼ ਫੈਕਲਟੀ ਮੈਂਬਰਾਂ ਦੇ ਅਧਿਆਪਨ ਅਤੇ ਸਿੱਖਣ ਦੇ ਹੁਨਰ ਨੂੰ ਵਧਾਉਣ ਦੇ ਨਾਲ ਨਾਲ ਨਵੀਨਤਮ ਖੋਜ ਸਾਧਨਾਂ ਦੀ ਸਿਖਲਾਈ ਦੇਣ ’ਤੇ ਕੇਂਦ੍ਰਿਤ ਸੀ।ਇਸ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਦਾ ਉਦਘਾਟਨ ਏਡੀਆਈ ਬਾਇਓਸੋਲਿਊਸ਼ਨਜ਼ ਦੇ ਸੀਈਓ ਸ਼੍ਰੀ ਮਨੀਤ ਮਠਾਰੂ ਵੱਲੋਂ ਕੀਤਾ ਗਿਆ, ਜਿਨ੍ਹਾਂ ਨੇ ਸ਼ੁਰੂਆਤੀ ਸੈਸ਼ਨ ਦੌਰਾਨ ਖੋਜ ਕਰਨ ਲਈ ਨਵੀਨਤਾਕਾਰੀ ਤਕਨੀਕਾਂ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰਨ ਸੰਬੰਧੀ ਜਾਣੂ ਕਰਵਾਇਆ।

ਇਸ ਉਪਰੰਤ ਡਾ.ਪਾਲਕੀ ਸਾਹਿਬ ਕੌਰ, ਐਚਓਡੀ, ਬਾਇਓਟੈਕਨਾਲੋਜੀ ਵਿਭਾਗ, ਸੀਜੀਸੀ ਲਾਂਡਰਾਂ ਨੇ ਗੱਲਬਾਤ ਕਰਦਿਆਂ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਇਹ ਐਫਡੀਪੀ ਸੀਜੀਸੀ ਦੇ ਮੈਂਬਰਾਂ ਨੂੰ ਇੰਟਰਐਕਟਿਵ ਗਤੀਵਿਧੀਆਂ ਅਤੇ ਵਿਚਾਰ ਭਰਪੂਰ ਸੈਸ਼ਨਾਂ ਰਾਹੀਂ ਨਵੀਆਂ ਖੋਜ ਤਕਨੀਕਾਂ ਦੀ ਆਪਣੀ ਸਮਝ ਨੂੰ ਵਧਾਉਣ ਦਾ ਇੱਕ ਵਿਲੱਖਣ ਮੌਕਾ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕਰੇਗੀ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਸਿਖਲਾਈ ਦੌਰਾਨ ਅਪਲਾਈਡ ਖੋਜ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਨੂੰ ਬੜਾਵਾ ਦੇਣ ਦੇ ਨਾਲ-ਨਾਲ ਇਹ ਐਫਡੀਪੀ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਹੁਨਰ ਨੂੰ ਹੋਰ ਮਜ਼ਬੂਤ ਕਰਨ ਵਿੱਚ ਮੁੱਖ ਭੂਮਿਕਾ ਨਿਭਾਏਗੀ।ਇਸ ਪੰਜ ਦਿਨਾਂ ਦੀ ਐਫਡੀਪੀ ਵਿੱਚ ਰਤਨ ਕੌਰ, ਕਾਮਿਨੀ ਭਾਰਦਵਾਜ, ਸੰਯੁਕਤਾ ਕੁਮਾਰੀ ਅਤੇ ਪ੍ਰਿਅੰਕਾ ਸਿੰਘ ਸਣੇ ਏਡੀਆਈ ਬਾਇਓਸੋਲਿਊਸ਼ਨ ਦੇ ਮਾਹਿਰਾਂ ਵੱਲੋਂ ਕਰਵਾਏ ਗਏ ਤਕਨੀਕੀ ਸੈਸ਼ਨਾਂ ਦੀ ਇੱਕ ਲੜੀ ਸ਼ਾਮਲ ਸੀ।

ਮੈਡੀਕਲ ਰਾਈਟਿੰਗ ਦੀ ਮੁਖੀ ਸ਼੍ਰੀਮਤੀ ਰਤਨ ਕੌਰ ਨੇ ਕੁਆਂਟੀਨੋਵਾ ਸਟੱਡੀ ਟੂਲ ਦੀ ਇੱਕ ਵਿਸਤ੍ਰਿਤ ਪੇਸ਼ਕਾਰੀ ਦਿੱਤੀ ਅਤੇ ਖੋਜ ਅਧਿਐਨ ਬਣਾਉਣ ਲਈ ਇਸ ਟੂਲ ਦੀ ਸਰਵੋਤਮ ਵਰਤੋਂ ਬਾਰੇ ਜਾਣਕਾਰੀ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕੀਤੀ।ਇਸ ਮੌਕੇ ਹੋਰ ਮਾਹਿਰ ਬੁਲਾਰਿਆਂ ਨੇ ਖੋਜ ਵਿਸ਼ੇ ਦੀ ਸਹੀ ਚੋਣ, ਸਾਹਿਤ ਸਮੀਖਿਆ, ਫਾਰਮ ਸਿਰਜਣਾ, ਡਾਟਾ ਇਕੱਤਰ ਕਰਨ ਦੀਆਂ ਮੂਲ ਗੱਲਾਂ, ਰਿਕਾਰਡ ਭਰਨ, ਡੇਟਾਬੇਸ ਲਾਕ ਅਤੇ ਪ੍ਰਯੋਗਾਤਮਕ ਡੇਟਾ ਦੇ ਪ੍ਰਬੰਧਨ ਵਿਸ਼ਲੇਸ਼ਣ ਸੰਬੰਧੀ ਕਰਵਾਏ ਵਿਸਤ੍ਰਿਤ ਸੈਸ਼ਨਾਂ ਵਿੱਚ ਵਿਚਾਰ ਪੇਸ਼ ਕੀਤੇ। ਇਸ ਦੇ ਨਾਲ ਹੀ ਟੀਮ ਨੇ ਫੈਕਲਟੀ ਮੈਂਬਰਾਂ ਨੂੰ ਆਡਿਟ ਟ੍ਰੇਲ, ਖੋਜ ਮਾਨਤਾ ਵਿਿਗਆਨਕ ਲਿਖਤ ਦੇ ਤਰੀਕੇ ਅਤੇ ਅਤੇ ਖੋਜ ਪੱਤਰ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ਨਾਂ ਬਾਰੇ ਜਾਗਰੂਕ ਕਰਨ ’ਤੇ ਵੀ ਧਿਆਨ ਕੇਂਦਰਿਤ ਕੀਤਾ।

 

Tags: CGC Landran , Landran , Chandigarh Group Of Colleges , Satnam Singh Sandhu , Rashpal Singh Dhaliwal

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD