Monday, 20 May 2024

 

 

खास खबरें एलपीयू के फैशन स्टूडेंट ने गुड़गांव में लाइफस्टाइल वीक में अपना कलेक्शन प्रदर्शित किया जनता की ताकत को चुनौती दे रहे जय रामः सीएम सुखविन्दर सिंह सुक्खू राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने नशा मुक्त भारत अभियान का किया शुभारम्भ चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव लड़े रवि सिंह अपनी टीम समेत आप में हुए शामिल बिकने और खरीदने वालों को सबक सिखायेगी जनताः सीएम सुखविन्दर सिंह सुक्खू दीपशिखा देशमुख ने युवा महिलाओं से मतदान करने का आग्रह किया: उनके विकास का एक सक्षक्त सन्देश हिना खान के साथ 'नामाकूल' पर काम करना रहा कूल और बवाल' साक्षी म्हाडोलकर ढाई सालों में आम आदमी पार्टी की ओर से किए विकास का हिसाब मांगे शहरवासीः बीबा जयइंद्र कौर राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने किया कला प्रदर्शनी का शुभारम्भ जनरल पर्यवेक्षक श्री आनंदपुर साहिब लोकसभा ने गढ़शंकर में ग्रीन चुनाव प्रकिया की करवाई शुरुआत मोनिका ग्रोवर अपने साथियों सहित कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल, बीबा जयंइंद्र कौर ने भाजपा में आने पर किया स्वागत अपने संदूक, अलमारी व लॉकर से निकालें वोटर कार्ड राजनीतिक मंडी में बिके हमीरपुर जिला के तीन विधायक खनन व भू- माफिया : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू दस साल से रेलवे लाइन का राग ही अलाप रहे अनुराग, मंजूरी तक नहीं दिला पाए : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू पंजाबियों से दिल्ली स्थित पार्टियों को खारिज करने की अपील की जो लोगों को बांटने पर तुली हुई हैं: सरदार सुखबीर सिंह बादल राजा वड़िंग ने प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन के लिए एनओसी पर सीएम मान के झूठे वादे को किया उजागर कांग्रेस नेता गुरिंदर सिंह ढिल्लों ने किसानों के लिए एमएसपी की कानूनी गारंटी का समर्थन किया दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र में गुरजीत सिंह औजला के पक्ष में चुनावी रैलियां गुरजीत सिंह औजला ने राजासांसी और अटारी विधानसभा क्षेत्रों में लोगों से मुलाकात की नालागढ़ के आजाद विधायक का नया नाम 'केएल बिके' : सुखविंदर सिंह सुक्खू गुरजीत सिंह औजला ने की प्रवासियों की सराहना

 

PEC त्रिदिवसीय वर्कशॉप का सफलतापूर्वक समापन किया

Punjab Engineering College, Punjab Engineering College Chandigarh, PEC Chandigarh, Kapileshwar Singh
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

चंडीगढ़ , 23 Feb 2024

पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, चंडीगढ़ की इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग ने 21 फरवरी, 2024 से 23 फरवरी, 2024 तक विकसित भारत @2047 के लिए भारतीय विद्युत क्षेत्र में उभरते विकास, चुनौतियों और अवसरों पर कार्यशाला को आज सफलतापूर्वक पूरा किया। इस वर्कशॉप के उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि श्री मनोज त्रिपाठी, अध्यक्ष बीबीएमबी; उनके साथ ही मुख्य वक्ता आईआईटी रूड़की से प्रोफेसर एस.पी. सिंह; PEC के प्रतिष्ठित निदेशक, प्रो. (डॉ.) बलदेव सेतिया जी के साथ प्रो. रिंटू खन्ना (प्रमुख, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग) ने अपनी गरिमामयी उपस्थिति से इस अवसर की शोभा बढ़ाई। 

इस कार्यशाला का समन्वयन डॉ. मनोहर सिंह (एसोसिएट प्रोफेसर, ईईडी) द्वारा और सह-समन्वय डॉ. अजय कुमार (सहायक प्रोफेसर, ईईडी) द्वारा किया गया था।विकसित भारत@2047 के लिए भारतीय विद्युत क्षेत्र के विभिन्न उभरते और चुनौतीपूर्ण मुद्दों पर 3 दिवसीय कार्यशाला के दौरान विभिन्न तकनीकी ट्रैक निर्धारित किए गए थे। इस अवधि के दौरान, सीईए, विद्युत मंत्रालय, एमएनआरई, आईआईटी, ग्रिड कंट्रोलर ऑफ इंडिया, जीई, एनटीपीसी, डीटीएल और पीईसी संकाय से वक्ताओं को आमंत्रित किया गया था।

इस वर्कशॉप के दौरान प्रतिभागियों को नवीकरणीय ऊर्जा संसाधनों के उपयोग, हरित परिवहन की चुनौतियाँ और भविष्य, सौर ऊर्जा की चुनौतियाँ और भविष्य, भारतीय विद्युत क्षेत्र की प्रगति और चुनौतियाँ, और सबसे महत्वपूर्ण रूप से भारतीय विद्युत क्षेत्र में शैक्षणिक संस्थानों की भूमिका पर अंतर्दृष्टि प्राप्त करने का अवसर मिला। आज के सत्र का समापन डॉ. मनीष जिंदल द्वारा किया गया।वर्कशॉप का सफल समापन ज्ञान को आगे बढ़ाने, सहयोग को बढ़ावा देने और उद्योग की चुनौतियों के लिए पेशेवरों को तैयार करने के लिए पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज की प्रतिबद्धता की पुष्टि भी करता है।

Successful Completion of 3-day Workshop on Indian Power Sector for Viksit Bharat @2024

Chandigarh

Electrical Engineering of Punjab Engineering College, Chandigarh successfully completed the workshop on Emerging Development, Challenges and Opportunities Ahead in Indian Power Sector for Viksit Bharat @2047 initiated from 21st February, 2024 to 23rd February, 2024. 

The Chief Guest of the Inaugural Session was Shri. Manoj Tripathi, Chairman BBMB; Keynote Speaker Prof. S. P. Singh, from IIT Roorkee; Esteemed Director of PEC, Prof. (Dr.) Baldev Setia along with Prof. Rintu Khanna (Head, Electrical Engineering Department) graced the occasion with their esteemed presence. 

This workshop was coordinated by Dr. Manohar Singh (Associate Professor, EED) and Co-coordinated by Dr. Ajay Kumar (Assistant Professor, EED).Various technical tracks were scheduled during the 3-day workshop on various emerging & challenging issues of Indian Power Sector for Viksit Bharat@2047. 

During this period, the speakers were invited from CEA, Ministry of Power, MNRE, IIT, Grid Controller of India, GE, NTPC, DTL and PEC Faculty. Participants get the opportunity to gain insights on the usage of Renewable Power Resources, Challenges & Future of Green Transport, Challenges & Future of Solar Power, Advance & Challenges of Indian Power Sector, and most importantly Role of Academic Institutions in Indian Power Sector. 

The Valedictory Session was concluded with a vote of thanks by Dr. Manish Jindal. The successful conclusion of the workshop reaffirms the commitment of Punjab Engineering College to advancing knowledge, fostering collaboration, and preparing professionals for the challenges of the Industry. 

PEC ਨੇ ਤਿਨ ਦਿਨਾਂ ਦੀ ਵਰਕਸ਼ਾਪ ਦਾ ਅੱਜ ਸਫਲਤਾ ਨਾਲ ਸਮਾਪਨ ਕੀਤਾ  

ਚੰਡੀਗੜ੍ਹ

ਪੰਜਾਬ ਇੰਜਨੀਅਰਿੰਗ ਕਾਲਜ, ਚੰਡੀਗੜ੍ਹ ਦੀ ਇਲੈਕਟ੍ਰੀਕਲ ਇੰਜਨੀਅਰਿੰਗ ਵਿਭਾਗ ਨੇ 21 ਫਰਵਰੀ, 2024 ਤੋਂ 23 ਫਰਵਰੀ, 2024 ਤੱਕ ਵਿੱਕਸ਼ਿਤ ਭਾਰਤ @2047 ਲਈ ਭਾਰਤੀ ਬਿਜਲੀ ਖੇਤਰ ਵਿੱਚ ਉੱਭਰਦੇ ਵਿਕਾਸ, ਚੁਣੌਤੀਆਂ ਅਤੇ ਅਵਸਰਾਂ ਬਾਰੇ ਵਰਕਸ਼ਾਪ ਨੂੰ ਸਫਲਤਾਪੂਰਵਕ ਪੂਰਾ ਕੀਤਾ। ਉਦਘਾਟਨੀ ਸੈਸ਼ਨ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮਹਿਮਾਨ ਸ੍ਰੀ. ਮਨੋਜ ਤ੍ਰਿਪਾਠੀ, ਚੇਅਰਮੈਨ ਬੀਬੀਐਮਬੀ; ਆਈਆਈਟੀ ਰੁੜਕੀ ਤੋਂ ਮੁੱਖ ਬੁਲਾਰੇ ਪ੍ਰੋ.ਐਸ.ਪੀ. ਸਿੰਘ; ਪੀ.ਈ.ਸੀ. ਦੇ ਮਾਨਯੋਗ ਡਾਇਰੈਕਟਰ, ਪ੍ਰੋ. (ਡਾ.) ਬਲਦੇਵ ਸੇਤੀਆ ਜੀ  ਅਤੇ ਪ੍ਰੋ. ਰਿੰਟੂ ਖੰਨਾ (ਮੁਖੀ, ਇਲੈਕਟ੍ਰੀਕਲ ਇੰਜੀਨੀਅਰਿੰਗ ਵਿਭਾਗ) ਨੇ ਇਸ ਮੌਕੇ ਆਪਣੀ ਹਾਜ਼ਰੀ ਭਰੀ। 

ਇਸ ਵਰਕਸ਼ਾਪ ਦਾ ਕੋਆਰਡੀਨੇਸ਼ਨ ਡਾ. ਮਨੋਹਰ ਸਿੰਘ (ਐਸੋਸੀਏਟ ਪ੍ਰੋਫੈਸਰ, ਈ.ਈ.ਡੀ.) ਅਤੇ ਡਾ. ਅਜੇ ਕੁਮਾਰ (ਸਹਾਇਕ ਪ੍ਰੋਫੈਸਰ, ਈ.ਈ.ਡੀ.) ਦੁਆਰਾ ਕੋਆਰਡੀਨੇਟ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਸੀ। Viksit Bharat@2047 ਲਈ ਭਾਰਤੀ ਪਾਵਰ ਸੈਕਟਰ ਦੇ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਉਭਰ ਰਹੇ ਅਤੇ ਚੁਣੌਤੀਪੂਰਨ ਮੁੱਦਿਆਂ 'ਤੇ 3-ਦਿਨਾ ਵਰਕਸ਼ਾਪ ਦੌਰਾਨ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਤਕਨੀਕੀ ਟਰੈਕਾਂ ਨੂੰ ਤਹਿ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਸੀ। ਇਸ ਸਮੇਂ ਦੌਰਾਨ, ਸੀਈਏ, ਬਿਜਲੀ ਮੰਤਰਾਲੇ, ਐਮਐਨਆਰਈ, ਆਈਆਈਟੀ, ਗਰਿੱਡ ਕੰਟਰੋਲਰ ਆਫ਼ ਇੰਡੀਆ, ਜੀਈ, ਐਨਟੀਪੀਸੀ, ਡੀਟੀਐਲ ਅਤੇ ਪੀਈਸੀ ਫੈਕਲਟੀ ਤੋਂ ਬੁਲਾਰਿਆਂ ਨੂੰ ਬੁਲਾਇਆ ਗਿਆ ਸੀ।

ਭਾਗੀਦਾਰਾਂ ਨੂੰ ਨਵਿਆਉਣਯੋਗ ਊਰਜਾ ਸਰੋਤਾਂ ਦੀ ਵਰਤੋਂ, ਹਰੀ ਆਵਾਜਾਈ ਦੀਆਂ ਚੁਣੌਤੀਆਂ ਅਤੇ ਭਵਿੱਖ, ਸੌਰ ਊਰਜਾ ਦੀਆਂ ਚੁਣੌਤੀਆਂ ਅਤੇ ਭਵਿੱਖ, ਭਾਰਤੀ ਪਾਵਰ ਸੈਕਟਰ ਦੀਆਂ ਅਗਾਊਂ ਅਤੇ ਚੁਣੌਤੀਆਂ, ਅਤੇ ਸਭ ਤੋਂ ਮਹੱਤਵਪੂਰਨ ਭਾਰਤੀ ਪਾਵਰ ਸੈਕਟਰ ਵਿੱਚ ਅਕਾਦਮਿਕ ਸੰਸਥਾਵਾਂ ਦੀ ਭੂਮਿਕਾ ਬਾਰੇ ਸਮਝ ਪ੍ਰਾਪਤ ਕਰਨ ਦਾ ਮੌਕਾ ਵੀ ਮਿਲਿਆ। ਅੱਜ ਦੇ ਸੈਸ਼ਨ ਦੀ ਸਮਾਪਤੀ ਡਾ: ਮਨੀਸ਼ ਜਿੰਦਲ ਵੱਲੋਂ ਕੀਤੀ ਗਈ। ਵਰਕਸ਼ਾਪ ਦੀ ਸਫ਼ਲ ਸਮਾਪਤੀ ਪੰਜਾਬ ਇੰਜਨੀਅਰਿੰਗ ਕਾਲਜ ਦੇ ਗਿਆਨ ਨੂੰ ਅੱਗੇ ਵਧਾਉਣ, ਸਹਿਯੋਗ ਵਧਾਉਣ ਅਤੇ ਉਦਯੋਗ ਦੀਆਂ ਚੁਣੌਤੀਆਂ ਲਈ ਪੇਸ਼ੇਵਰਾਂ ਨੂੰ ਤਿਆਰ ਕਰਨ ਦੀ ਵਚਨਬੱਧਤਾ ਦੀ ਪੁਸ਼ਟੀ ਵੀ ਕਰਦੀ ਹੈ।

 

Tags: Punjab Engineering College , Punjab Engineering College Chandigarh , PEC Chandigarh , Kapileshwar Singh

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD