Monday, 15 April 2024

 

 

खास खबरें फिल्म "शायर" में सतिंदर सरताज और नीरू बाजवा अभिनीत सुपरहिट रोमांटिक जोड़ी सत्ता और सीरो को देखना न भूलें! असम के सोनितपुर लोकसभा क्षेत्र के आप उम्मीदवार के पक्ष में मान ने किया रोड शो राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने प्रदेश की प्रगति में योगदान देने वाले हाई फ्लायर्स को सम्मानित किया मलायका और नारीफर्स्ट की एकता ने डॉ. रूपिंदर और ईशा को प्रदान की ज्वेल ऑफ इंडिया ट्रॉफी ज़ी पंजाबी सितारे केपी सिंह और ईशा कलोआ टाइम्स फूड एंड नाइटलाइफ़ अवार्ड्स 2024 में अतिथि के रूप में शामिल हुए एलपीयू ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2024 में शीर्ष स्थान हासिल किये इंडस पब्लिक स्कूल में वैसाखी पर लगी रौनकें, छात्रों ने पेश किए रंगारंग प्रोग्राम किड्जी बेला ने बैसाखी का त्योहार पारंपरिक हर्षोल्लास के साथ मनाया इलेक्ट्रिक व्हीकल होंगे सस्ते, पॉवरफुल और अधिक सुरक्षित PEC स्टूडेंट्स ने सास उद्योग का जश्न मनाते हुए, भारत सास यात्रा में लिया हिस्सा डोल्से गब्बाना ड्रेस और रोलेक्स घड़ी में नजर आईं उर्वशी रौतेला ने लोगों का दिल जीता केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की मौजूदगी में फ़िल्म "गौरैया लाइव" का शानदार प्रीमियर एआई की दुनिया मे आयी एक क्रांति! रोबॉटिक मशीन चंद मिनटों में खाना बनाकर कर देगा आपको हैरान असम में आप उम्मीदवारों के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जनसभा करते की अपील ,1 नंबर वाला झाड़ू का बटन दबा कर असम में लाएं बदलाव बोली टप्पों के साथ मलोया में महिलाओं के जत्थे ने किया भाजपा प्रत्याशी संजय टंडन का प्रचार प्रसार बढ़ रहा है भाजपा परिवार- यह देखकर खुशी हो रही है कि पूरे पटियाला जिले से सैकड़ों लोग रोजाना हमारे साथ जुड़ रहे हैं: परनीत कौर सीजीसी लांडरां में हर्षोल्लास के साथ मनाई गई बैसाखी विजीलैंस ब्यूरो ने बीडीपीओ को 30 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए किया गिरफ्तार पारंपरिक मेलों की तरह लोकतंत्र के पर्व में भी जरूर लें हिस्सा: डी.सी. हेमराज बैरवा किसानों के लिए किसी ने गारंटी दी और उस गारंटी को पूरा किया वो चौधरी देवीलाल ने किया: अभय सिंह चौटाला भाजपा को अरविंद केजरीवाल से डर लगता है, वे राष्ट्रपति शासन के जरिए दिल्ली में पिछले दरवाजे से प्रवेश चाहते हैं: आप

 

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने मौसम के पूर्वानुमान के लिए अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी आधारित प्रणाली विकसित करने पर बल दिया

हेल्पलाइन नंबर 1100 को भी आपदा हेल्पलाइन में जोड़ा जाएगा

Sukhvinder Singh Sukhu, Himachal Pradesh, Himachal, Congress, Indian National Congress, Himachal Congress, Shimla, Chief Minister of Himachal Pradesh
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

शिमला , 26 Aug 2023

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू की अध्यक्षता में आज यहां हिमाचल प्रदेश राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण की 8वीं बैठक आयोजित की गई। मुख्यमंत्री ने आपदा के समय जान-माल को कम से कम नुकसान के दृष्टिगत अग्रसक्रिय रूप से कार्यवाही पर बल दिया। बैठक में प्राकृतिक आपदाओं से निपटने और इसके लिए तैयारियों से संबंधित विभिन्न उपायों पर विस्तार से चर्चा की गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारी बारिश के कारण होने वाले नुकसान को कम करने के दृष्टिगत वर्तमान में वास्तविक समय के आधार पर मौसम संबंधी पूर्वानुमान के लिए एक सुदृढ़ और अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी आधारित प्रणाली विकसित करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हिमाच्छादित क्षेत्रों में पांच स्वचालित मौसम पुर्वानुमान प्रणालियां स्थापित करना प्रस्तावित है। 

उन्होंने कहा कि वर्तमान में जलवायु परिवर्तन हमारे समक्ष सबसे बड़ी चुनौती है और इस समस्या से पार पाने के लिए समुचित कदम उठाना बेहद आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ग्लेशियरों के पिघलने से बनने वाली अस्थायी झीलों की निरंतर निगरानी की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि बरसात के दौरान बांधों से पानी छोड़ने के लिए समुचित प्रणाली की अनुपालना सुनिश्चित की जानी चाहिए और बांधों से पानी रूक-रूक कर छोड़ा जाना चाहिए ताकि निचले क्षेत्रों में होने वाले नुकसान को सीमित किया जा सके। 

उन्होंने क्षमता निर्माण उपायों पर बल देते हुए कहा कि राज्य में 47390 स्वयंसेवियों को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है और आपदा प्रभावित क्षेत्रों में उनकी सेवाएं सुनिश्चित की जाएंगी।ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि आपदा संबंधी हेल्पलाइन नंबर 1077 और 1070 के अतिरिक्त एक अन्य हेल्पलाइन नंबर 1100 को भी इसमें जोड़ा जाना चाहिए ताकि आपदा के समय प्रभावितों को समय पर समुचित सहायता उपलब्ध करवाई जा सके। 

उन्होंने नागरिक सुरक्षा ढांचे को सुदृढ़ करने पर भी बल दिया और कहा कि इसके लिए युवा पीढ़ी को प्रशिक्षित किया जाना चाहिए ताकि आपदा के समय एकजुट प्रतिक्रिया सुनिश्चित की जा सके।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में राजीव गांधी राजकीय डे-बोर्डिंग स्कूल योजना के तहत भवनों के निर्माण में भूकंपरोधी तकनीक का उपयोग सुनिश्चित किया जाएगा। 

उन्होंने बादल फटने की घटनाओं की पूर्व सूचना से संबंधित प्रणाली विकसित करने पर भी बल दिया ताकि इससे होने वाले नुकसान को न्यून किया जा सके। उन्होंने प्रदेश में बादल फटने की बढ़ती घटनाओं पर अध्ययन करने के भी निर्देश दिए।ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि हिमाचल प्रदेश भूकंप, भू-स्खलन, बाढ़ और बादल फटने जैसी विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं के लिए अति संवेदनशील है और आपदा संबंधित जोखिम को कम करने के लिए ऐसी घटनाओं से प्राप्त डाटा का संकलन और इसकी निरंतर निगरानी आवश्यक है। 

उन्होंने कहा कि राज्य में सभी सरकारी विभाग भी सुरक्षित निर्माण सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि भूमि उपयोग आधारित योजना, पाठशालाओं, अस्पतालों सहित अन्य संवेदनशील भवनों की रेट्रोफिटिंग अनिवार्य की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पहाड़ी ढलानों के कटान, मलबा प्रबन्धन और निर्माण से निकलने वाले मलबे के लिए निर्धारित बिन्दुओं की पहचान सुनिश्चित की जानी चाहिए और जल निकासी व्यवस्था पर भी विशेष ध्यान केन्द्रित किया जाना चाहिए।

बैठक में राजस्व मंत्री जगत सिंह नेगी, मुख्य सचिव प्रबोध सक्सेना, प्रधान सचिव राजस्व ओंकार चंद शर्मा, प्रधान सचिव देवेश कुमार, वित्त सचिव अक्षय सूद, सचिव शिक्षा अभिषेक जैन, पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू, विशेष सचिव राजस्व डी.सी. राणा, विशेष सचिव लोक निर्माण हरबंस सिंह ब्रसकॉन और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

Tags: Sukhvinder Singh Sukhu , Himachal Pradesh , Himachal , Congress , Indian National Congress , Himachal Congress , Shimla , Chief Minister of Himachal Pradesh

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD