Wednesday, 24 July 2024

 

 

खास खबरें विजिलेंस ब्यूरो ने पी.एस.आई.ई.सी. प्लॉट आवंटन घोटाले में शामिल उप-मंडल इंजीनियर को किया गिरफ्तार मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने केंद्रीय बजट को निराशाजनक और किसान विरोधी बताया गरीब कल्याण को समर्पित बजट से अर्थव्यवस्था को मिलेगी नई रफ्तार : संजय टंडन ‘सरकार बचाओ-महंगाई बढ़ाओ’ वाला है मोदी सरकार का बजट- आप मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने विद्यार्थियों की कम संख्या वाले स्कूलों के विलय की संभावनाएं तलाशने के निर्देश दिए राज्य एकल खिड़की स्वीकृति एवं अनुश्रवण प्राधिकरण की 29वीं बैठक में 2216.93 करोड़ रुपये के प्रस्तावित निवेश एवं 25 परियोजना प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान सी जी सी झंजेड़ी कैंपस में नए सत्र की शुरुआत के दौरान विद्यार्थियों के लिए एक सप्ताह का इंडक्शन प्रोग्राम आयोजित किया गया हरचंद सिंह बरसट ने पौधे लगाकर किया मिनी जंगल का उद्घाटन 'खतरों के खिलाड़ी' की कड़ी तैयारी के तहत निमृत कौर अहलूवालिया ने MMA, किक बॉक्सिंग की शुरुआत की धारकंडी क्षेत्र के विकास के लिए तत्परता से किया जाएगा कार्य : केवल सिंह पठानिया बेहतर भविष्य के लिए युवा नेता: लुधियाना के छात्र ‘यंग चैंपियंस फॉर क्लीन एयर प्रोग्राम’ के माध्यम से वायु गुणवत्ता वकालत में निभाएंगे अग्रणी भूमिका डेढ़ साल में 25 हज़ार करोड़ क़र्ज़ लेने वाले मुख्यमंत्री बताएं कहां खर्च किया पैसा : जयराम ठाकुर मलविंदर कंग ने पूर्व हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर को भारत रत्न देने की मांग की डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल ने मासिक बैठक में अलग-अलग विभागों के कार्यो की समीक्षा की प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध : मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू डॉ. एसएस आहलूवालिया ने पटियाला क्षेत्र के अंतर्गत चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की विकास कार्यों को जल्द पूरा करने के अधिकारियों को दिए निर्देश कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने नंद किशोर महामंत्र संकीर्तन मंडल को दिया 3 लाख रुपए का चैक दिल्ली पेटर्न पर हाउसिंग बोर्ड अलाटियों की समस्या को हल करवाएंगे : संजय टंडन शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने नवनिर्वाचित विधायकों को शुभकामनाएं दीं 25 जुलाई को होगा ड्राफ्ट मतदाता सूचियों का प्रकाशन समाधान शिविरों में परिवार पहचान पत्र से संबंधित 91 प्रतिशत शिकायतों का समाधान : टी.वी.एस.एन. प्रसाद

 

निर्मला सीतारामन ने 'वैश्विक अर्थव्यवस्था: चुनौतियां, अवसर और आगे की राह' विषय पर जी-20 फाइनेंस ट्रैक सेमिनार में मुख्य वक्तव्य दिया

"हम एक सुरक्षित और गतिशील वित्तीय वातावरण प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जो सभी देशों को लाभान्वित करता है और समावेशी विकास को बढ़ावा देता है"

Nirmala Sitharaman, Union Minister for Finance & Corporate Affairs, BJP, Bharatiya Janata Party
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

मुंबई , 11 Aug 2023

केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारामन ने आज कहा कि भारत के जी20 अध्यक्षता एजेंडे में एक आम बात यह है कि 'सभी के लिए बेहतर कल की तैयारी कैसे करें'।वित्त ट्रैक में बड़ी संख्या में परिणाम सामने आए हैं, जिनमें से अधिकांश वर्तमान और उभरती वैश्विक आर्थिक चुनौतियों का समाधान करने में योगदान देंगे।  उन्होंने कहा कि भारत द्वारा जी-20 की अध्यक्षता संभालने के बाद आठ महीने से अधिक समय में भारत ने विभिन्न ट्रैक पर बड़ी मात्रा में काम किया है। 

उन्होंने आगे कहा, "अब तक हमने यह सुनिश्चित किया है कि भू-राजनीतिक मतभेद अंतरराष्ट्रीय सहयोग के मूल जी20 जनादेश को प्रभावित न करें।" केंद्रीय वित्त मंत्री वर्चुअल माध्यम से, वैश्विक अर्थव्यवस्था: चुनौतियां, अवसर और आगे की राह' विषय पर संयुक्त रूप से आयोजित सेमिनार में मुख्य वक्तव्य दे रही थीं। आर्थिक मामलों के विभाग, वित्त मंत्रालय और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा आज मुंबई में भारत के जी-20 प्रेसीडेंसी के फाइनेंस ट्रैक के तत्वावधान में इसे आयोजित किया गया। 

सितंबर 2023 में जी-20 नेताओं के शिखर सम्मेलन से पहले, अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संरचना (आईएफए) और भारत के जी-20 अध्यक्षता के तहत फ्रेमवर्क वर्किंग ग्रुप के एक भाग के रूप में आयोजित इस संगोष्ठी में तीन सत्र थे: 'विकास वित्तपोषण ' 21वीं सदी और वैश्विक सार्वजनिक वस्तुओं के वित्तपोषण के लिए', 'वैश्विक ऋण कमजोरियों का प्रबंधन' और 'प्रमुख वैश्विक जोखिम: मुद्रास्फीति, वित्तीय स्थिरता और जलवायु परिवर्तन'।

वित्त मंत्री ने कहा कि 2023 में भारतीय जी-20 अध्यक्षता का प्राथमिक ध्यान बहुपक्षीय विकास बैंकों (एमडीबी) को मजबूत करना है, ताकि 21वीं सदी की साझा वैश्विक चुनौतियों का समाधान किया जा सके, जिनका वे सामना कर रहे हैं। लेकिन, एमडीबी को अपने मूल विकास अधिदेशों से परे अपने ऋण संचालन का विस्तार करने के लिए दाता और उधार लेने वाले देशों की बढ़ती मांगों का भी सामना करना पड़ रहा है, हालाँकि, एमडीबी वर्तमान में अपने संसाधनों की इस बढ़ती मांग को पर्याप्त रूप से हल करने के लिए तैयार नहीं हैं। जी-20 फाइनेंस ट्रैक में चर्चा का अन्य मुद्दा 'कमजोर अर्थव्यवस्थाओं में ऋण मुद्दों का बढ़ना' है, जो उनके सतत विकास के लिए महत्वपूर्ण आर्थिक जोखिम पैदा करता है। 

भारतीय जी-20 अध्यक्षता ने वैश्विक ऋण कमजोरियों के प्रबंधन को बहुत महत्व दिया है। वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि, जी-20 भारतीय अध्यक्षता के तहत, डिजिटल सार्वजनिक बुनियादी ढांचे को उत्पादकता बढ़ाने और वित्तीय समावेशन में तेजी लाने की क्षमता को पहचानने के लिए सदस्य देशों के साथ जी-20 चर्चाओं में एकीकृत किया गया है।

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि "आईएमएफ और एफएसबी द्वारा विकसित आगामी विश्लेषण पत्र, एक रोडमैप के साथ क्रिप्टो-परिसंपत्तियों के लिए भविष्य के नियामक उपायों को आकार देने में सहायक होगा"।

 

Tags: Nirmala Sitharaman , Union Minister for Finance & Corporate Affairs , BJP , Bharatiya Janata Party

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD