Sunday, 14 April 2024

 

 

खास खबरें राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने प्रदेश की प्रगति में योगदान देने वाले हाई फ्लायर्स को सम्मानित किया मलायका और नारीफर्स्ट की एकता ने डॉ. रूपिंदर और ईशा को प्रदान की ज्वेल ऑफ इंडिया ट्रॉफी ज़ी पंजाबी सितारे केपी सिंह और ईशा कलोआ टाइम्स फूड एंड नाइटलाइफ़ अवार्ड्स 2024 में अतिथि के रूप में शामिल हुए एलपीयू ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2024 में शीर्ष स्थान हासिल किये इंडस पब्लिक स्कूल में वैसाखी पर लगी रौनकें, छात्रों ने पेश किए रंगारंग प्रोग्राम किड्जी बेला ने बैसाखी का त्योहार पारंपरिक हर्षोल्लास के साथ मनाया इलेक्ट्रिक व्हीकल होंगे सस्ते, पॉवरफुल और अधिक सुरक्षित PEC स्टूडेंट्स ने सास उद्योग का जश्न मनाते हुए, भारत सास यात्रा में लिया हिस्सा डोल्से गब्बाना ड्रेस और रोलेक्स घड़ी में नजर आईं उर्वशी रौतेला ने लोगों का दिल जीता केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की मौजूदगी में फ़िल्म "गौरैया लाइव" का शानदार प्रीमियर एआई की दुनिया मे आयी एक क्रांति! रोबॉटिक मशीन चंद मिनटों में खाना बनाकर कर देगा आपको हैरान असम में आप उम्मीदवारों के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जनसभा करते की अपील ,1 नंबर वाला झाड़ू का बटन दबा कर असम में लाएं बदलाव बोली टप्पों के साथ मलोया में महिलाओं के जत्थे ने किया भाजपा प्रत्याशी संजय टंडन का प्रचार प्रसार बढ़ रहा है भाजपा परिवार- यह देखकर खुशी हो रही है कि पूरे पटियाला जिले से सैकड़ों लोग रोजाना हमारे साथ जुड़ रहे हैं: परनीत कौर सीजीसी लांडरां में हर्षोल्लास के साथ मनाई गई बैसाखी विजीलैंस ब्यूरो ने बीडीपीओ को 30 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए किया गिरफ्तार पारंपरिक मेलों की तरह लोकतंत्र के पर्व में भी जरूर लें हिस्सा: डी.सी. हेमराज बैरवा किसानों के लिए किसी ने गारंटी दी और उस गारंटी को पूरा किया वो चौधरी देवीलाल ने किया: अभय सिंह चौटाला भाजपा को अरविंद केजरीवाल से डर लगता है, वे राष्ट्रपति शासन के जरिए दिल्ली में पिछले दरवाजे से प्रवेश चाहते हैं: आप हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने दिल्ली में श्री लाल कृष्ण आडवाणी से की मुलाकात पात्र व्यक्ति 26 अप्रैल तक बनवा सकते हैं वोट : जिला निर्वाचन अधिकारी राहुल हुड्डा

 

चितकारा यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय अकादमिक कांफ्रेंस डेलकान-2023 का आयोजन

इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग के दिल्ली सेक्शन द्वारा आयोजित यह सम्मेलन

Chitkara University, Banur, Rajpura, Dr. Ashok K Chitkara,Chitkara Business School, Dr. Madhu Chitkara
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

बनूड़ /राजपुरा , 06 Mar 2023

अकादमिक कांफ्रेंस शोध को बढ़ावा देने, ज्ञान को साझा करने और नेटवर्किंग के अवसरों को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाती  हैं।  इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए  चितकारा यूनिवर्सिटी ने इंस्टिट्यूट ऑफ इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर्स (आई.ई.ई.ई.) दिल्ली सेक्शन ओर से प्रायोजित डेलकान 2023 का आयोजन किया। इस कांफ्रेस में  दुनिया भर के 350 से अधिक लोगों ने भाग लिया। 

आई.ई.ई.ई.  4 लाख से अधिक सदस्यों वाले तकनीकी पेशेवरों की दुनिया का सबसे बड़ा संगठन है। दिल्ली सेक्शन  भारत में 13 आई.ई.ई.ई सेक्शनों  में से एक है और चितकारा यूनिवर्सिटी के साथ यह पिछले एक दशकसे जुड़ा हुआ है।  डेलकान 2023 सम्मेलन का  दूसरा संस्करण था जिसकी थीम टेक्लानाजिकल एडवांस्डमेंट इन करंट टाइम्स फार द बेनिफिट आफ ह्यूमिटी था।  इस थीम की प्रेरणा आई.ई.ई.ई. की टैगलाइन सेमिली।

सम्मेलन के उद्घाटन समारोह मे जिन लोगों ने हिस्सा लिया उनमें  डॉ. मधु चितकारा प्रो-चांसलर, चितकारा यूनिवर्सिटी, और  डॉ. अर्चना मंत्री वाइस चांसलर  चितकारा यूनिवर्सिटी, पंजाब के अलावा  आई.ई.ई.ई. दिल्ली की जानी मानी हस्तियों जैंसे  सुब्रत मुखोपाध्याय (आजीवन सदस्य,  आई.ई.ई.ई.), डॉ. अब्दुल क्यू अंसारी (अध्यक्ष,  आई.ई.ई.ई.  दिल्ली सेक्शन ), और डॉ. रचना गर्ग (इमिजिएट पास्ट चैयर आई.ई.ई.ई.  दिल्ली सेक्शन) मौजूद थे ।

डॉ मंत्री ने सभी प्रतिनिधियों का स्वागत किया और उन्हें चितकारा यूनिवर्सिटी के रिसर्च इकोसिस्टम के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यूनिवर्सिटी की उपलब्धियों  में 4000 से अधिक अनुसंधान प्रकाशन, 2200 पेटेंट , विशाल बौद्धिक संपदा द्वारा समर्थित है 80 करोड़ से अधिक की रिसर्च फंडिंग 200 के करीब इनक्यूबेटेड  स्टार्ट-अप है।

प्रो. अंसारी ने अपने संबोधन में चितकारा यूनिवर्सिटी को इस शानदार आयोजन करने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा  कि उन्होंने आज़ादी का अमृत महोत्सव और भारत के G20 की अगुवाई के उत्सव को  डेलकॉन 2023 के उद्घाटन समारोह में देखा। प्रो. रचना गर्ग ने आई.ई.ई.ई.  दिल्ली सेक्शन  गतिविधियों पर प्रकाश डाला और उल्लेख किया कि आई.ई.ई.ई.ई  दिल्ली सेक्शन  भारत के 13 सेक्शनों में से एक हैं।  

आई.ई.ई.ई.  एशिया पेसिफिक रीजन के इमिडिएट पास्ट डायरेक्टर   श्री दीपक माथुर ने बताया कि आई.ई.ई.ई.  दिल्ली सेक्शन की लीडरशिप टीम प्रोफेशनल गतिविधियाँ का आयोजन करके बहुत ही उत्कृष्ट कार्य कर रही है।  उन्होंने कहा कि  चितकारा यूनिवर्सिटी  का प्रबंधन हमेशा आई.ई.ई.ई.  की सभी मुहिमों  को बढ़ावा देता है और आई.ई.ई.ई.  दिल्ली सेक्शन के साथ मिलकर काम करता है। 

डॉ देवव्रत दास (चेयर, इंडिया काउंसिल)  ने डेलीगेट् के ज्ञान को बढ़ाने में डेलकान जैसी कांफ्रेसों के आयोजन के महत्व पर प्रकाश डाला और उन्होंने इसके आयोजन करने के लिए  चितकारा यूनिवर्सिटी का धन्यवाद दिया। कार्यक्रम का समापन सम्मानीय अतिथियों के स्वागत के साथ डॉ. मधु चितकारा द्वारा डेलकान 2024 की बैटन बी.वी.आई.सी.ए.एम नई दिल्ली को सौंपने के साथ संपन्न हुआ। 

अपने समापन भाषण में मधु चितकारा ने डेलकान जैसी कांफ्रेसों के माध्यम से  छात्रों और युवा शोधकर्ताओं को दिग्गजों से सीखने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने चितकारा कहा कि चितकारा  यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल भागीदारी इसलिए संभव होसकीहैं क्योंकि यूनिवर्सिटी का संयुक्त शैक्षणिक कार्यक्रम, अनुसंधान कार्यक्रम, छात्रों के आदान-प्रदान कार्यक्रम आदि के जरिए 200 से अधिक विदेशी यूनिवर्सिटियों के साथ साझेदारी  है। 

अंत में, उन्होंने  चितकारा यूनिवर्सिटी की डेलकान  2023 की मुख्य स्थानीय आयोजन टीम जिसमें डॉ. रजनीश शर्मा (प्रो वीसी, एकेडमिक अफेयर्स), सागर जुनेजा (असिस्टेंट डीन, रिसर्च) और डॉ. रिशु छाबड़ा (डीन, सीएसई) शामिल हैं,  को एक सफल सम्मेलन आयोजित करने के लिए बधाई दी ।

उद्घाटन समारोह का मुख्य भाषण इंडियन इंस्टीट्यूट आफ दिल्ली के प्रोफेसर एमेरिटस, डॉ. शिबन कौल - प्रोफेसर द्वारा दिया गया। उन्होंने अत्याधुनिक एप्लीकेंशंस के बारेमें बात की जो कि बहुत ही ज्यादा हाई रेडियो फ्रीक्वेंसी पर चलती  हैं। कांफ्रेस में दूसरे दिन पांच  प्रमुख शोधकर्ताओं द्वारा भाषण दिए गए।

सम्मेलन में देश के लगभग सभी राज्यों के  साथ-साथ विदेशों से  कुल 288 शोधपत्र प्राप्त हुए जिनकी 165 विभिन्न संस्थानों से आने वाले अनुभवी शोधकर्ताओं द्वारा समीक्षा की गई थी। इनमें से 108 पेपरों  को शॉर्टलिस्ट किया गया था जो कि कांफ्रेस के दौरान 17 ट्रैक में प्रस्तुत किए गए । 34 सत्रों में मूल्यांकन के आधार पर प्रत्येक ट्रैक में एक पेपर को सर्वश्रेष्ठ पेपर प्रस्तुति पुरस्कार से सम्मानित किया गया। डेलकान 2023 ने 300 से अधिक विभिन्न संस्थानों से आए 1000 से अधिक लोगों को प्रभावित किया।

 

Tags: Chitkara University , Banur , Rajpura , Dr. Ashok K Chitkara , Chitkara Business School , Dr. Madhu Chitkara

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD