Tuesday, 05 March 2024

 

 

खास खबरें PEC में जुलाई 2024 से शुरू होंगे 3 नए प्रोग्राम, सीनेट में पास हुए कई अहम प्रस्ताव समय पर मुकम्मल किए जाएं जल जीवन मिशन के अंर्तगत किए गए कार्यः कोमल मित्तल राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने पर्वतीय पारिस्थितिकी तंत्र के अनुसंधान पर दिया बल मुख्यमंत्री ने नेरवा में 73.43 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए विकास कार्यों के लिए आवंटित धनराशि को शीघ्र करें खर्च: डी सी हेमराज बैरवा मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा बजट 2024-25 की सराहना; राज्य के व्यापक विकास के लिए ’रंगला पंजाब’ बनाने की दिशा की तरफ अहम कदम बताया जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिये स. हरचंद सिंह बरसट ने किसान बाजार के किसानों से की मुलाकात मीत हेयर ने विकासमुखी और लोक पक्षीय बजट के लिए मुख्य मंत्री और वित्त मंत्री की प्रशंसा की भाजपा पंजाब महिला मोर्चा ने पटियाला में नारी शक्ति वंदन यात्रा निकाली मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने 1962 मोबाइल पशु चिकित्सा सेवा का शुभारम्भ किया मान सरकार किसानों के कल्याण के लिए वचनबद्ध, बजट में सिंचाई प्रणाली की मज़बूती के लिए 2107 करोड़ रुपए रखे: चेतन सिंह जौड़ामाजरा सी जी सी झांजेड़ी कैंपस में हैकथॉन 2024 का आयोजन किया गया सिनेमा में 19 साल की कड़ी मेहनत ने दिलाई तमन्ना भाटिया को ग्लोबल पहचान 2024 में दक्षिणी सिनेमाई क्रांति में पहली बार चमकेंगे यह 7 बॉलीवुड सितारे ‘होशियारपुर नेचर फेस्ट-2024’: कुलविंदर बिल्ला के गीतों पर झूमे होशियारपुर वासी मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने एशियन रिवर राफ्टिंग चैम्पियनशिप का शुभारंभ किया एस. एस. एफ. ने पहले महीने 389 सैकण्ड के रिकार्ड समय में 1053 सडक़ हादसों में प्रदान की प्राथमिक सहायता; 574 गंभीर ज़ख्मियों को पहुँचाया अस्पताल सरकार ने पूरी की पांचवीं चुनावी गारंटी राज्यपाल के भाषण से भाग जाने पर विरोधी पक्ष पर जम कर बरसे मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान कैबिनेट मंत्री जिंपा ने ‘मुख्य मंत्री तीर्थ यात्रा स्कीम’ के अंतर्गत होशियारपुर से बस को दिखाई हरी झंडी भाजपा का किसान विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर, किसान के हत्यारे के पिता अजय मिश्रा को फिर से दिया टिकट: आप

 

सीबीआई ने पटना में राबड़ी देवी के आवास पर मारा छापा

Central Bureau of Investigation, CBI, Former Bihar Chief Minister, Rabri Devi, Land Of Job Scam, Raid, CBI Raid
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नई दिल्ली , 06 Mar 2023

सीबीआई ने सोमवार को बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के पटना स्थित आवास पर नौकरी के लिए जमीन घोटाले के सिलसिले में छापेमारी की। सीबीआई के एक सूत्र ने कहा, हम मामले में जांच कर रहे हैं। केंद्रीय जांच एजेंसी को मामले में पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद के खिलाफ अभियोजन की मंजूरी मिल गई है। 

जनवरी में, एजेंसी ने संबंधित अदालत के समक्ष अभियोजन स्वीकृति पत्र प्रस्तुत किया था। सीबीआई ने पिछले साल अक्टूबर में लालू प्रसाद, राबड़ी देवी और उनकी बेटी हेमा यादव सहित मामले में 16 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था। सीबीआई ने कहा था कि जांच के दौरान यह पाया गया है कि आरोपियों ने मध्य रेलवे के तत्कालीन महाप्रबंधक और केंद्रीय रेलवे के सीपीओ के साथ साजिशकर जमीन के बदले में अपने या अपने करीबी रिश्तेदारों के नाम पर लोगों को नियुक्त किया था। 

यह जमीन प्रचलित स*र्*ल रेट से कम और बाजार दर से काफी कम कीमत पर अधिग्रहित की गई थी। सीबीआई ने चार्जशीट में आरोप लगाया है, उम्मीदवारों ने गलत टीसी का इस्तेमाल किया है और रेल मंत्रालय को झूठे प्रमाणित दस्तावेज जमा किए हैं।सीबीआई को जांच में पता चला है कि राबड़ी देवी और हेमा यादव को नौकरी चाहने वालों द्वारा घोटाले के सिलसिले में जमीन उपहार में दी गई थी, जिन्हें बाद में रेलवे में नियुक्त किया गया था। 

मामले में रेलवे कर्मचारी हरिदयानंद चौधरी और पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव के तत्कालीन ओएसडी भोला यादव को पहले सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। भोला 2004 से 2009 के बीच लालू के ओएसडी थे। सीबीआई ने यादव, तत्कालीन केंद्रीय रेल मंत्री लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, दो बेटियों और अज्ञात लोक सेवकों और निजी व्यक्तियों सहित 15 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया। 

अधिकारी ने कहा, 2004-2009 की अवधि के दौरान यादव ने रेलवे के विभिन्न क्षेत्रों में समूह 'डी' पद पर नियुक्तियों के एवज में अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर जमीन-जायदाद के हस्तांतरण के रूप में आर्थिक लाभ प्राप्त किया था। पटना के कई निवासियों ने स्वयं या अपने परिवार के सदस्यों के माध्यम से लालू यादव परिवार के सदस्यों द्वारा नियंत्रित एक निजी कंपनी के पक्ष में शहर में अपनी जमीन बेच दी या उपहार में दे दी। 

जोनल रेलवे में ऐसी नियुक्ति के लिए कोई विज्ञापन या कोई सार्वजनिक नोटिस जारी नहीं किया गया था, फिर भी कई लोगों को मुंबई, जबलपुर, कोलकाता, जयपुर और हाजीपुर में स्थित विभिन्न क्षेत्रीय रेलवे में नियुक्त किया गया था। सीबीआई अधिकारी ने कहा, पटना में स्थित लगभग 1,05,292 वर्ग फुट भूमि व अचल संपत्तियों को लालू यादव और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा पांच बिक्री पत्र और दो उपहार पत्रों के माध्यम से अधिग्रहित किया गया था, इसमें अधिकांश में विक्रेता को किए गए भुगतान को दर्शार्या गया था।

 

Tags: Central Bureau of Investigation , CBI , Former Bihar Chief Minister , Rabri Devi , Land Of Job Scam , Raid , CBI Raid

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD