Friday, 29 September 2023

 

 

खास खबरें मुख्य सचिव अनुराग वर्मा ने नशों की रोकथाम के लिए संबंधित पक्षों को परिणामोन्मुखी कार्य करने के लिए कहा डॉ. एस. पी. सिंह ओबराय के प्रयासों से जंडियाला गुरु के युवक का शव भारत पहुंचा राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन का ज़िला मैनेजर विधवा मुलाज़िम से 7000 रुपए की रिश्वत लेता विजीलैंस ब्यूरो द्वारा रंगे हाथों काबू राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने हरित एवं स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में एकजुट प्रयासों पर बल दिया मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने पोषण पर पुस्तिका का विमोचन किया हृदय स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए फोर्टिस लुधियाना ने साइक्लोथॉन का आयोजन किया शहीद भगत सिंह का जीवन और दर्शन नौजवानों को हमेशा निस्वार्थ होकर देश की सेवा करने के लिए प्रेरित करता रहेगा: मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान कांग्रेस सरकार के समय ही सुखपाल खैरा पर एफआईआर दर्ज हुआ था, अब वे इसे राजनीतिक बदलाखोरी बता रहे हैं - जगतार संघेड़ा पंजाब सरकार किसानों के फगवाड़ा चीनी मिल से जुड़े सभी मसलों का जल्द हल करेगी: गुरमीत सिंह खुडियां शहीद भगत सिंह के जन्मदिवस पर श्रद्धा सुमन किए भेंट स्वास्थ्य मंत्री डा. बलबीर सिंह ने बाँझपन के कारणों का पता लगाने के लिए अध्ययन के आदेश लोकपाल पंजाब द्वारा सुपरीटेंडैंट हरजीत सिंह को सेवानिवृत्ति पर बधाई मछली पालन विभाग में भरे जा रहे हैं खाली पद: गुरमीत सिंह खुड्डियां मीत हेयर ने स्वर्ण पदक विजेता अर्जुन चीमा को दी मुबारकबाद पीएम नरेंद्र मोदी ने अपना पूरा जीवन देश और इसके लोगों की सेवा के लिए समर्पित कर दिया: अरुण सूद स्वास्थ्य मंत्री डॉ.धनी राम शांडिल ने प्रदेश में टेली मानस कार्यक्रम का शुभारम्भ किया सांसद मनीष तिवारी ने गढ़शंकर विधानसभा क्षेत्र के अलग-अलग गांवों का किया दौरा अनुराग सिंह ठाकुर ने आज नई दिल्ली में 19वें एशियाई खेलों के पदक विजेताओं का स्वागत किया उपराज्यपाल गाजीपुर में माता तेतारा देवी सचिदानंद गर्ल्स डिग्री कॉलेज में सार्वजनिक समारोह में षामिल हुए मनाली के लिए वॉल्वो बस सेवा का परिचालन पुनः आरम्भ समाज में रेबीज के प्रभाव से निपटने हेतु सभी हितधारकों के सहयोगात्मक प्रयास समय की आवश्यकता है : राजीव राय भटनागर

 

केन्‍द्रीय मंत्री डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने कहा, प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी से प्रेरणा लेते हुए हम सभी को निःसंकोच हिन्‍दी में बोलना और काम करना चाहिए

डा. जितेन्‍द्र सिंह ने विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की हिन्‍दी सलाहकार समिति की संयुक्त बैठक की अध्यक्षता की

Dr Jitendra Singh, Dr. Jitendra Singh, Bharatiya Janata Party, BJP, Union Earth Sciences Minister
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नई दिल्ली , 26 Dec 2022

केन्‍द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी; पृथ्वी विज्ञान; प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने हिन्‍दी माध्यम या अन्य स्थानीय भाषाओं में पढ़ाई करने के इच्छुक छात्रों और विद्वानों के लाभ के लिए विज्ञान जर्नलों और पत्रिकाओं सहित विज्ञान साहित्य के अनुवाद के महत्व पर जोर दिया है।

विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की हिन्‍दी सलाहकार समिति की संयुक्त बैठक की अध्यक्षता करते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के निर्देश के बाद, नियमित अंतराल पर बैठकें हो रही हैं और परिणाम देखने योग्य हैं।डॉ. जितेंद्र सिंह ने राज्यसभा सांसद संगीता यादव और हिन्‍दी सलाहकार समिति के सदस्यों को बताया कि सचिव, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय, डॉ. एम रविचंद्रन, सचिव, डीएसटी श्री एस. चंद्रशेखर, सचिव डीएसआईआर, डॉ. एन. कलैसेल्वी, सचिव, डीबीटी डॉ. राजेश गोखले गैर-हिन्‍दी  पृष्ठभूमि से हैं, लेकिन वे हमेशा हिन्‍दी में बोलना पसंद करते हैं और हिन्‍दी काम को प्रोत्साहित करते हैं।

मंत्री ने यह भी सुझाव दिया कि उनके सुझाव पर गठित हिन्‍दी सलाहकार समिति की उप-समितियों की बैठक हर तीसरे महीने चयनित विषय पर होनी चाहिए और बाद में समीक्षा बैठक में ऐसी बैठकों के परिणामों को ध्यान में रखा जाना चाहिए।उन्होंने समिति के सदस्यों से कुछ अच्छे विशेषज्ञों के सुझाव देने को भी कहा, जिन्हें विज्ञान मंत्रालयों द्वारा विज्ञान जर्नलों, पत्रिकाओं और अन्य दस्तावेजों के गुणवत्तापूर्ण अनुवाद कार्य में लगाया जा सकता है।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने बताया कि इस साल अक्टूबर में, केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री, अमित शाह ने एमबीबीएस पाठ्यक्रम की किताबें हिन्‍दी में शुरू कीं - जिससे मध्य प्रदेश भाषा में चिकित्सा शिक्षा देने वाला पहला राज्य बन गया।श्री अमित शाह ने पहल को भारत में शिक्षा क्षेत्र के लिए "पुनर्जागरण और पुनर्निर्माण" का क्षण बताया।

यह कहते हुए कि भाषाएं लोगों को बांधती हैं, तब तक उन्हें अलग नहीं करती, जब तक उन्हें जबरन लागू नहीं किया जाता है, डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, हम सभी को मातृभाषा और आधिकारिक भाषा हिन्‍दी दोनों के लिए निरंतर काम करना चाहिए और अधिक भाषाओं को सीखने का प्रयास करना चाहिए।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि वह पूर्वोत्तर राज्यों में हिन्‍दी शिक्षकों की नियुक्ति जारी नहीं होने का मुद्दा उठाएंगे जिनकी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कहने पर नियुक्ति‍ की गई थी। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र से बड़ी संख्या में युवा पर्यटन और विमानन क्षेत्रों में काम कर रहे हैं और हिंदी के ज्ञान ने उनका रोजगार सुरक्षित करने में मदद की है।मंत्री ने कहा, जब भाषा को नौकरियों या व्यवसायों से जोड़ा जाता है, तो यह वृद्धि और विकास का अपना रास्ता खोज लेती है।

 

Tags: Dr Jitendra Singh , Dr. Jitendra Singh , Bharatiya Janata Party , BJP , Union Earth Sciences Minister

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2023 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD