Tuesday, 23 April 2024

 

 

खास खबरें हरियाणा में लोकसभा चुनाव के लिए 29 अप्रैल को की जाएगी अधिसूचना जारी-अनुराग अग्रवाल वोटर इन क्यू एप से पता चलेगी मतदान केन्द्र पर लाइन की जानकारी - अनुराग अग्रवाल जिला प्रशासन का अनूठा प्रयास- युवा मतदाताओं को यूथ इलेक्शन अंबेसडर बना कर चुनाव प्रक्रिया की दी गई विशेष ट्रेनिंग सेफ स्कूल वाहन पालिसी के अंतर्गत 8 स्कूलों की बसों की हुई चैकिंग सीजीसी लांडरां ने आईपीआर सेल की स्थापना की प्रभु श्रीराम व माता कौशल्या का मंदिर निर्माण मेरे जीवन का अहम फैसला:एन.के.शर्मा भाजपा के अच्छे दिन बना सपना, अब कांग्रेस लाएगी खुशहाली के दिन - गुरजीत औजला डिश टीवी द्वारा 'डिशटीवी स्मार्ट प्लस ' सर्विसेज' के साथ मनोरंजन इंडस्ट्री में आई क्रांति प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के लिए जो किया है वो किसी ने नहीं किया होगा - अनिल विज एचपीएनएलयू, शिमला ने पृथ्वी दिवस 2024 के अवसर पर "प्लास्टिक रीसाइक्लिंग और ग्रीन शेड्स का अनावरण" विषय पर इंट्रा-यूनिवर्सिटी वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया भाजपा प्रत्याशी संजय टंडन पर मनीष तिवारी की टिप्पणी,भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने दिया जवाब भाजपा महामंत्री तरुण चुग से बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने की शिष्टाचार भेंट पंजाब की विरासत की झलक दर्शाता आदर्श पोलिंग बूथ बना आकर्षण का केंद्र मतदाता जागरूकता के लिए घर-घर तक पहुंचेगा थीम सॉंग राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने परवाणु में जल जनित रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण संबंधी उपायों की समीक्षा की एलपीयू के इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों को इसरो समर्थित राष्ट्रीय प्रतियोगिता में टॉप स्पेस इन्नोवेटरज़ के रूप में चुना भारी मतों के अंतर से जीतेंगे एन.के.शर्मा:जोनी कोहली मानव को एकत्व के सूत्र में बांधता - मानव एकता दिवस शास्त्री मार्केट में कारोबारियों से मिलने पहुंचे गुरजीत सिंह औजला 'आप' समर्थकों ने IPL मैच में किया अनोखा प्रदर्शन, अरविंद केजरीवाल की फोटो वाली टी-शर्ट पहन लगाए नारे, मैं भी केजरीवाल फरीदकोट और खडूर साहिब में 'आप' को मिली मज़बूती, अकाली दल, कांग्रेस और भाजपा को लगा बड़ा झटका!

 

सुप्रीम कोर्ट के फैसले तक विवादित सीमावर्ती इलाके को घोषित किया जाए केंद्र शासित प्रदेश : उद्धव ठाकरे

Uddhav Thackeray, Former Chief Minister Of Maharashtra, Shiv Sena, Nagpur
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नागपुर , 26 Dec 2022

महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद जारी रहने के बीच पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को मांग की कि उच्चतम न्यायालय का फैसला आने तक सीमाओं के आसपास के विवादित क्षेत्रों को 'केंद्र शासित प्रदेश' घोषित किया जाना चाहिए। महाराष्ट्र विधान परिषद में बोलते हुए शिवसेना (यूबीटी) अध्यक्ष ने कहा कि मामले में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने आक्रामक रुख अख्तियार किया है, लेकिन महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे चुप हैं। 

ठाकरे ने कहा, जब तक शीर्ष अदालत इस मामले में फैसला नहीं लेती, बेलगावी (बेलगाम), कारवार, निप्पानी के क्षेत्रों को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया जाना चाहिए। इस बिंदु को विधायिका में पारित प्रस्ताव में शामिल किया जाना चाहिए। इस मुद्दे पर जवाब देते हुए, उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आश्वासन दिया कि किसी भी परिस्थिति में महाराष्ट्र विवादित सीमा क्षेत्रों में रहने वाले हमारे लोगों को नहीं छोड़ेगा।

फडणवीस ने घोषणा की, हम केंद्र या शीर्ष अदालत के साथ एक-एक इंच जमीन के लिए लड़ेंगे, हम नरम नहीं पड़ेंगे और वहां रहने वाले लोगों के साथ हुए अन्याय से निपटेंगे। बाद में सदन के बाहर मीडिया से बात करते हुए ठाकरे ने कर्नाटक पर सीमाओं पर मराठी भाषी आबादी के उत्पीड़न का आरोप लगाया, जो कि महाराष्ट्र में कन्नड़ भाषी लोगों के साथ कभी नहीं हुआ।

पूर्व सीएम ने कहा, यह केवल दो भाषाओं का नहीं, बल्कि मानवता का सवाल है। सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले लोग दशकों और पीढ़ियों से पीड़ित हैं। केंद्र के लिए यह सही समय है कि वह हस्तक्षेप करे और प्रभावित लोगों की शिकायतों को हल करने के लिए ठोस कदम उठाए। 

विपक्षी महा विकास अघाड़ी की सहयोगी कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और सेना (यूबीटी) और विपक्ष के नेता अजीत पवार शिंदे-फडणवीस सरकार पर सीमा समस्या पर कर्नाटक के प्रति नरम होने का आरोप लगा रहे हैं।

 

Tags: Uddhav Thackeray , Former Chief Minister Of Maharashtra , Shiv Sena , Nagpur

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD