अगर कश्मीरी पंडितों पर हो रहे हमलों को रोकना है तो 'द कश्मीर फाइल्स' को बैन करो: फारूख अब्दुल्ला

Friday, 01 March 2024

 

 

खास खबरें सीजीसी के बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट ने एफडीपी का आयोजन किया एलपीयू ने खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स की ओवरऑल फर्स्ट रनर अप ट्रॉफी जीती PEC के फैकल्टी मेंबर को बॉम्बे आर्ट सोसाइटी द्वारा किया गया सम्मानित डा. बी. आर. अम्बेडकर स्टेट इंस्टीट्यूट आफ मैडीकल सायंसज़ मोहाली को जल्द मिलेगा 6 बैडों वाला आई. सी. यू. मुख्यमंत्री ने कसौली विधानसभा क्षेत्र में 88.78 करोड़ रुपये की 13 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए सांसद संजीव अरोड़ा ने डीसी के साथ लुधियाना के विकास कार्यों पर की चर्चा राज्यपाल का भाषण रोकने का यत्न करके कांग्रेस ने पवित्र सदन का अपमान किया : हरपाल सिंह चीमा 8 हजार रुपए रिश्वत लेता ए.एस.आई. विजीलैंस ब्यूरो ने किया गिरफ्तार हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल के निर्णय कांग्रेस की सरकार खो चुकी है बहुमत, अपने कर्मों से हुई है उसकी यह स्थिति : जयराम ठाकुर सरूप रानी महिला महाविधालय मे करवाया जिला स्तरीय पड़ोस युवा संसद कार्यक्रम का आयोजन खेल से होता है बच्चों का मानसिक एवं शारीरिक विकास : हरचंद सिंह बरसट संजीव अरोड़ा ने हरचंद सिंह बरसट, डॉ. गोसल और अन्य के साथ मातृभाषा पंजाबी पर प्रकाश डालते हुए महत्वपूर्ण कार्य किये शुरू डिप्टी स्पीकर जय कृष्ण सिंह रौढ़ी ने 11.79 करोड़ रुपए की लागत से माहिलपुर में पानी व सीवरेज के प्रोजैक्ट की करवाई शुरुआत ‘आप दी सरकार आप दे दुआर’- कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने गांव शेरगढ़ में लगे कैंप का लिया जायजा अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी पंजाब ने लोक सभा चुनाव 2024 की तैयारियों का लिया जायजा अकाली और कांग्रेसी सरकारों ने सोची-समझी साजिश के अंतर्गत पंजाब की सरकारी संस्थाएं तबाह की : भगवंत सिंह मान बादल परिवार ने अपने निजी लाभों के लिए पंजाब के लोगों के करोड़ों रुपए लूटे : भगवंत सिंह मान स्वास्थ्य सेवा में क्रांतिकारी बदलाव लाई है आम आदमी क्लीनिकः ब्रम शंकर जिंपा एलपीयू ने खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स की ओवरऑल फर्स्ट रनर अप ट्रॉफी जीती फ़र्ज़ी विजीलैंस अधिकारी बन कर किसान के साथ धोखाधड़ी करने के मामले में भगौड़ा मुलजिम पिन्दर सोढी विजीलैंस ब्यूरो द्वारा गिरफ़्तार

 

अगर कश्मीरी पंडितों पर हो रहे हमलों को रोकना है तो 'द कश्मीर फाइल्स' को बैन करो: फारूख अब्दुल्ला

Farooq Abdullah , National Conference , Jammu and Kashmir , Kashmir , Kashmiri Pandits, The Kashmir Files, The Kashmir Files OTT Release
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

कश्मीर , 16 May 2022

जम्मू-कश्मीर में फिर से हालात बगड़ते जा रहे हैं। 4 दिन पहले आतंकियों ने सरेआम एक कश्मीरी पंडित की गोली मारकर हत्या कर दी थी। आतंकियों ने ऑफिस में धुसकर गोली मारी थी। उसके बाद से कश्मीर में बवाल हो रहा है। इसी बीच  जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला ने कश्मीरी पंडितों पर हो रहे हमलों के पीछे फिल्म द कश्मीर फाइल्स को बड़ा कारण बताया है। फारूक अब्दुल्ला ने कहा है कि अगर कश्मीरी पंडितों पर हो रहे हमलों को रोकना है तो सरकार को इस फिल्म पर पर बैन लगाना होगा।  देश में मुस्लिमों के खिलाफ नफरत का माहौल है। इसी वजह से कश्मीर के युवा गुस्से में हैं।फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि मैंने सरकार से कहा कि क्या फिल्म सच है? क्या एक मुसलमान पहले एक हिंदू को मारेगा फिर उसका खून चावल में डालकर उसकी पत्नी से कहेगा कि तुम यह खाओ, क्या ऐसा हो सकता है? क्या हम इतने गिरे हुए हैं? यह बेबुनियाद फिल्म है जिसने मुल्क में नफरत पैदा की है इसलिए इसे बैन करना चाहिए।

कश्मीर में हिंदुओं पर हो रहे हमलों को रोकना है तो इस फिल्म पर रोक लगानी जरूरी है।आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीते दिनों कश्मीर में कश्मीरी पंडितों पर होने वाले हमले अचानक बढ़ गए हैं। इसको देखते हुए घाटी में कश्मीरी पंडितों के घरों के बाहर उपराज्यपाल के ऑर्डर से बाहर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। हमलों के बीच रविवार को लश्कर-ए-इस्लाम ने धमकी भी दी थी। कहा गया था कि कश्मीरी पंडित या तो घाटी छोड़ दें या फिर मरने को तैयार रहें। पोस्टर में लिखा गया है,  सभी प्रवासी और RSS एजेंट कश्मीर छोड़ दो या मौत का सामना करने के लिए तैयार रहो। ऐसे कश्मीर पंडित जो कश्मीर एक और इजरायल चाहते हैं और कश्मीरी मुस्लिमों को मारना चाहते हैं, उनके लिए यहां कोई जगह नहीं है। अपनी सुरक्षा दोहरी या तिहरी कर लो, टारगेट किलिंग के लिए तैयार रहो। तुम मरोगे।बता दें कि कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद से ही कश्मीरी पंडितों की घर वापसी के दावे किए जा रहे हैं, लेकिन पिछले तीन सालों की हकीकत यह है कि जो कश्मीरी पंडित पहले से वहां रह रहे थे, उनको भी रहने नहीं दिया जा रहा है। उनकी हत्या हो रही है। कुछ दिन पहले ही आतंकियों ने कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की उनके ऑफिस में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी थी। राहुल भट्ट की मौत के बाद कश्मीरी पंडितों में खूब रोज है और वह अपनी आवाज उठाने के लिए सड़कों पर उतर रहे हैं।

 

Tags: Farooq Abdullah , National Conference , Jammu and Kashmir , Kashmir , Kashmiri Pandits , The Kashmir Files , The Kashmir Files OTT Release

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD