Tuesday, 27 February 2024

 

 

खास खबरें कान्स और टाइम्स स्क्वायर के बाद, सोनिया कोहली की फिल्म 'क़ैद- नो वे आउट' ने मचाई पंजाब में धूम जल आपूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री ब्रह्म शंकर जिम्पा ने विभाग के प्रमुख प्रोजेक्टों का लिया जायज़ा मिशन समरथ के नतीजे उत्साहजनक: हरजोत सिंह बैंस अमृतसर इम्प्रूवमेंट ट्रस्ट के जेई और क्लर्क को विजिलेंस ब्यूरो ने 50 हजार रुपये रिश्वत लेते पकड़ा PEC के छात्रों ने IIT जोधपुर में नृत्य का किया बेहतरीन प्रदर्शन इंडस पब्लिक स्कूल में सालाना खेल दिवस का आयोजन किसानों के साथ मजबूती के साथ खड़ी है कांग्रेस: सांसद मनीष तिवारी पठानकोट को विशेष औद्योगिक और व्यापारिक पैकेज देने की संभावना तलाशेंगे : भगवंत सिंह मान व्यापारियों की समस्याओं का मौके पर ही समाधान करने का अवसर बनी सरकार-व्यापार मिलनी पठानकोट में उद्योग और पर्यटन को उत्साहित करने के लिए पंजाब सरकार की प्रशंसा की पंजाब साईबर क्राइम डिवीजऩ ने साईबर वित्तीय धोखाधड़ी को रोकने के लिए बैंकों को पुलिस के साथ तालमेल करने के लिए नोडल अफ़सर नियुक्त करने के लिए कहा संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के ‘प्रोजेक्ट अमृत’ का सफल आयोजन मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने लाहौल शरद उत्सव का शुभारम्भ किया 2.42 लाख महिलाओं को प्रतिमाह 1500 रुपये मिलेगी पेंशन : सुखविंदर सिंह सुक्खू उर्वशी रौतेला ने बनाया विश्व रिकॉर्ड स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिए पंजाब सरकार नहीं छोड़ रही कोई कमी : ब्रम शंकर जिम्पा गांव खटकड़ कलां में अयोजित कबड्डी कप में शामिल हुए सांसद मनीष तिवारी सरकारी स्कूल शिक्षा में उत्कृष्टता के उच्च मानक कर रहे स्थापित : रोहित ठाकुर सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी हर क्षेत्र में अव्वल बुटेल ने किए 3 करोड़ की विकास परियोजनाओं के शिलान्यास-उद्घाटन एलपीयू के11वें दीक्षांत समारोह में ऑस्ट्रेलियाई के पूर्व प्रधान मंत्री टोनी एबॉट मुख्य अतिथि रहे नरेंद्र मोदी ने संगरूर में पीजीआईएमईआर के 300 बिस्तरों वाले सैटेलाइट सेंटर को राष्ट्र को समर्पित किया

 

डीएसपी (जेल) का पंजाब पुलिस द्वारा उत्पीड़न: एनसीएससी ने 23 मई को पंजाब पुलिस के डीजीपी व डीजीपी जेल को दिल्ली बुलाया

एनसीएससी 23 मई को डीएसपी (जेल) के उत्पीड़न मामले की सुनवाई करेगा

Vijay Sampla, Bharatiya Janata Party, BJP, Chairman National Commission for Scheduled Castes, NCSC, National Commission for Scheduled Castes
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

चंडीगढ़ , 13 May 2022

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग को पंजाब पुलिस के डीएसपी (जेल) अमर सिंह द्वारा पंजाब पुलिस, जिला संगरूर, के खिलाफ अपने और अपने परिवार के उत्पीड़न के संबंध में दी गई शिकायत का कड़ा संज्ञान लेते हुए, एनसीएससी के चेयरमैन विजय सांपला ने पंजाब पुलिस के डीजीपी और डीजीपी (जेल) के साथ 23 मई को नई दिल्ली में एनसीएससी के राष्ट्रीय मुख्यालय में हीयरिंग  इन पर्सन / व्यक्तिगत  सुनवाई करने का निर्णय लिया है। एनसीएससी ने पंजाब पुलिस को सुनवाई की तारीख से पहले ताजा स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश भी दिया।

एनसीएससी के अध्यक्ष विजय सांपला को लिखित शिकायत दर्ज करते हुए, डीएसपी (जेल) अमर सिंह ने कहा, “मैं एससी श्रेणी से संबंधित हूं और मैं पंजाब के शहीद भगत सिंह नगर का निवासी हूं। जब मैं अपनी ड्यूटी कर रहा था, तब डीआईजी सुरिंदर सिंह सैनी और एडीजीपी पीके सिन्हा ने मेरे खिलाफ दो झूठी प्राथमिकी दर्ज की थी और मेरी पदोन्नति को रोकने के लिए कई आरोप लगाए थे। मैंने इस मामले को एनसीएससी (चंडीगढ़ कार्यालय) के समक्ष भी उठाया था, जिन्होंने निदेशक ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन, पंजाब को मामले की निष्पक्ष जांच करने और रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया था, पर अभी इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई है।"“इस बीच, संगरूर पुलिस नियमित रूप से मेरे आवास पर छापा मार रही है और मेरे परिवार के सदस्यों को परेशान कर धमकी भी दे रही है। 

इसी साल 5 मई को पंजाब पुलिस के एक एस.एच.ओ ने बिना संबंधित मजिस्ट्रेट की अनुमति के मेरे घर पर छापा मारा और मेरी पत्नी और भाई के साथ बदसलूकी की | पुलिस ने उन्हे झूठे केस में फंसाने की भी धमकी दी। इतना ही नहीं, पुलिस अधिकारियों ने फिर मेरे परिवार के सदस्यों से तीन मोबाइल फोन छीन लिए और भाग गए”, डीएसपी अमर ने आगे कहा।एनसीएससी के रुल्स ऑफ प्रोसीजर के सेक्शन (7) को लागू करते हुए, पंजाब पुलिस को सूचित किया कि अमर सिंह, डीएसपी, जेल, पर शहर संगरूर के थाने में दर्ज एफआईआर संख्या 5/21 और 35/22 का मामला  आयोग के पास विचाराधीन है, इसलिए इस केस में यथास्थिति बनाए रखी जाए |एनसीएससी ने पंजाब पुलिस को चेतावनी दी है कि याचिकाकर्ता और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ पंजाब  पुलिस कोई कारवाई नहीं करेगी और अगर उन्होंने ऐसी गलती की तो आयोग प्रीवेन्शन ऑफ अट्रासिटी ऐक्ट 1989 के तहत दोषी पुलिस अधिकारियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करेगा।एनसीएससी ने दोनों अधिकारियों को संबंधित फाइलों, केस डायरी आदि सहित सभी प्रासंगिक दस्तावेजों के साथ एक अप-टू-डेट कार्रवाई रिपोर्ट लाने के लिए भी कहा है।

 

Tags: Vijay Sampla , Bharatiya Janata Party , BJP , Chairman National Commission for Scheduled Castes , NCSC , National Commission for Scheduled Castes

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD