Tuesday, 23 July 2024

 

 

खास खबरें चंडीगढ़ कॉलेज ऑफ फार्मेसी, लांडरां ने आईएनऐसटी क्विज कम्पटीशन में पहला स्थान हासिल किया मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने संकटमोचन मंदिर में पूजा-अर्चना की सांसद अरोड़ा ने एमसी और सीए ग्लाडा संदीप ऋषि से शहर के ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा की हरचंद सिंह बरसट ने कवर शैड और फड़ों का किया उद्घाटन डिप्टी स्पीकर जय कृष्ण सिंह रौढ़ी ने केंद्रीय जेल होशियारपुर का किया औचक दौरा बी.एल.डब्ल्यू (बनारस) के महाप्रबंधक श्री अभय बाकरे का पटियाला लोकोमोटिव वर्क्स पटियाला का दौरा एलपीयू ने रचनात्मक एंत्रप्रेन्योर पर ध्यान केंद्रित करने के लिए स्टार्टअप इकोसिस्टम इनेबलर्स मीट का आयोजन किया डिप्टी कमिश्नर होशियारपुर कोमल मित्तल ने राष्ट्रीय आम दिवस 2024 को समर्पित डाक्यूमेंट्री रिलीज की मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने देहरा विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न प्रतिनिधिमंडलों से भेंट की लंगर-भंडारे लगाने वाले तो बहुत हैं, परंतु जरूरत मुफ्त स्वास्थ्य सेवा करने वालों की ज्यादा है : संत बलबीर सीचेवाल पंजाब विश्वविद्यालय और सप्तसिंधु निवेदिता ट्रस्ट द्वारा पंजाबी लेखक और कवि पद्मश्री स्वर्गीय डॉ. सुरजीत पातर की स्मृति में स्मारक कार्यक्रम का आयोजन कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने मानवता मंदिर स्कूल की नई ईमारत का किया उद्घाटन शहर के वार्डों की मांग के अनुसार किए जा रहे हैं विकास कार्य : ब्रम शंकर जिम्पा कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने मोह्याल सभा को दिया 2 लाख रुपए का चैक समाज में एकता और भाईचारे के रिश्ते को मजबूत करता है राहगीरी : नायब सिंह सैनी मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने सिकंदरपुर डेरे में किया एक पेड़ माँ के नाम अभियान का शुभारंभ मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने किया विपक्ष पर कड़ा प्रहार कृषि मंत्री कंवरपाल ने जगाधरी में 52 लाख रुपये के विकास कार्यों का शुभारंभ किया तापसी पन्नू के लिए क्यों खास है अगस्त महीना नगर निकायों में पार्किंग, फुटपाथ तथा शौचालय बनाने पर करें फोक्स: हेमराज बैरवा प्लानिंग के तहत विकास कार्यों के यूसी पोर्टल पर करें अपलोड : हेमराज बैरवा

 

देश-दुनिया के सैलानियों का इंतज़ार खत्म! माउंट आबू में शुरू होने जा रहा है समर फेस्टिवल

Mount Abu,Rajasthan, Tourism,Aravalli Range, Sirohi,#ChaloChaleinMountAbu, #MountAbu, #Rajasthan, #RajasthanTourism, #ExploreRajasthan
Listen to this article

5 Dariya News

5 Dariya News

5 Dariya News

10 May 2022

साल भर का इंतज़ार आखिरकार खत्म होने को है, क्योंकि कुछ ही दिनों में राजस्थान स्थित माउंट आबू की शान, समर फेस्टिवल शुरू होने जा रहा है। राजस्थान का एकमात्र हिल स्टेशन माउंट आबू गर्मियों में देश-दुनिया के सैलानियों के आकर्षण का बड़ा केंद्र होता है। हर वर्ष मई और जून के महीने में यहाँ समर फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है, जिसे देखने के लिए दूर-दराज से पर्यटक शामिल होते हैं। समर फेस्टिवल लोक और शास्त्रीय संगीत का पर्व है और यह राजस्थान के आदिवासी जीवन और संस्कृति की झलक देता है।माउंट आबू में इस वार्षिक उत्सव का आयोजन आगामी 13 मई से होने जा रहा है और यह 15 मई तक चलेगा। तीन दिन के इस फेस्टिवल में कई सांस्कृतिक और पारंपरिक झलकियाँ देखने को मिलेंगी। इसकी जानकारी राजस्थान टूरिज़्म ने स्वदेशी सोशल मीडिया मंच, कू ऐप के अपने आधिकारिक हैंडल के माध्यम से दी है, जिसके बाद कला प्रेमियों का उत्साह दोगुना हो गया है।

कू ऐप के माध्यम से जानकारी देते हुए राजस्थान टूरिज़्म ने कहा है:

एक गाथागीत का गायन, मंत्रमुग्ध कर देने वाला नृत्य प्रदर्शन, मनोरंजक कलाकार, साहसिक खेल और संगीत, जो आत्मा को छू जाता है!

सब एक ही स्थान पर!

राजस्थान के सबसे बड़े ग्रीष्मकालीन त्यौहारों में से एक के लिए तैयार हो जाइए-

समर फेस्टिवल, माउंट आबू

13-15 मई

कहीं देर न हो जाए! अभी अपना सामान पैक कर लें!

खास बात यह है कि माउंट आबू में यह समर फेस्टिवल हर वर्ष बुद्ध पूर्णिमा के दौरान आयोजित किया जाता है, जिसकी शुरुआत एक भव्य गाथागीत के साथ होती है। इसके बाद मंत्रमुग्ध कर देने वाला लोक नृत्य होता है। इस फेस्टिवल के दौरान नक्की झील में बोट रेस और पूरे माउंट आबू में जुलूस का भी आयोजन किया जाता है।

बोर होने का कोई चांस नहीं

इस फेस्टिवल के दौरान इतनी सांस्कृतिक गतिविधियाँ होती हैं कि सैलानियों के पास बोर होने का कोई विकल्प नहीं रहता है। फिर इसके बाद दिल जीतने के लिए माउंट आबू की सुंदरता ही काफी है। माउंट आबू को खड़ी चट्टानों, शांत झीलों, सुरम्य वातावरण और बेहतरीन मौसम के लिए जाना जाता है। इस हिल स्टेशन का मौसम स्थानीय कलाकारों की ऊर्जा को लोक नृत्य, शास्त्रीय संगीत और नृत्य, आतिशबाजी, कलाकृतियों समेत विविध रूपों में व्यक्त करने में मदद करता है। यहाँ आने वाले पर्यटक यहाँ की संस्कृति और जीवनशैली से बहुत आकर्षित होते हैं।

फेस्टिवल में क्या-क्या होता है?

माउंट आबू समर फेस्टिवल की शुरुआत प्रेम गीत और पारंपरिक जुलूस निकालकर होती है जिसमें राजस्थानी और गुजराती लोक नृत्य और लोक संगीत का समागम होता है। इसके बाद दिन आगे बढ़ते-बढ़ते कई तरह की प्रतियोगिताएँ, सांस्कृतिक कार्यक्रम और मनोरंजक कार्यक्रम भी होते हैं। इस फेस्टिवल में ढेरों एक्टिविटीज, जैसे- घोड़ों की रेस, नक्की झील में बोट रेस, मटका रेस, रस्साकशी, स्केटिंग रेस, बैंड शो जैसी ढेरों दिलचस्प गतिविधियाँ शामिल है। इवेंट की खासियत शाम-ए-कव्वाली होती है, जिसमें कई मशहूर कव्वाली गायक शामिल होते हैं। फेस्टिवल के आखिर में जबरदस्त आतिशबाजी होती है और इसके साथ ही माउंट आबू समर फेस्टिवल का समापन हो जाता है।

गर्मी के लिहाज से सर्वश्रेष्ठ है माउंट आबू

माउंट आबू में खड़ी ढाल वाले पहाड़, शांत और स्थिर झील, हर ओर प्रकृति से भरपूर मनोरम दृश्य और यहाँ का बेहतरीन मौसम, इसे गर्मी के लिहाज से सर्वश्रेष्ठ स्थान बना देता है। इस समर फेस्टिवल में लोकनृत्य, लोक संगीत, शास्त्रीय संगीत, राजस्थान के आर्ट एंड क्राफ्ट का अनोखा संगम देखने को मिलता है। साथ ही इस फेस्टिवल के जरिए आप राजस्थान के जनजातीय लोगों के जीवन और संस्कृति को बेहद करीब से देख और समझ सकते हैं।

 

Tags: Mount Abu , Rajasthan , Tourism , Aravalli Range , Sirohi , #ChaloChaleinMountAbu , #MountAbu , #Rajasthan , #RajasthanTourism , #ExploreRajasthan

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD