Monday, 04 March 2024

 

 

खास खबरें राज्यपाल के भाषण से भाग जाने पर विरोधी पक्ष पर जम कर बरसे मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान कैबिनेट मंत्री जिंपा ने ‘मुख्य मंत्री तीर्थ यात्रा स्कीम’ के अंतर्गत होशियारपुर से बस को दिखाई हरी झंडी भाजपा का किसान विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर, किसान के हत्यारे के पिता अजय मिश्रा को फिर से दिया टिकट: आप सांसद मनीष तिवारी ने की पार्टी कार्यकर्ताओं से बैठक सीजीसी लांडरां में रेणुकारमा वूमेन एचीवर अवार्ड का हुआ आयोजन पीईसी में ड्रोन अनुप्रयोगों पर 6 दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन चेयरमैन हरचंद सिंह बरसट ने गांव मेहमदपुर में नई फल एवं सब्जी मंडी स्थापित की पर्यटन की दृष्टि से होशियारपुर में असीमित संभावनाएं: कोमल मित्तल भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष जय इंदर कौर ने भारत सरकार की महिला समर्पित योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए पटियाला में नारी शक्ति वंदन मैराथन का आयोजन किया एलपीयू के विद्यार्थी सकारात्मक और खुशहाल जीवन जीने के लिए हुए प्रेरित प्रीत बाठ, किरण शेरगिल, सब्बी सूरी स्टारर फिल्म 'मजनू' का ट्रेलर जारी भाजपा ने देश को सिर्फ धोखा दिया: सांसद मनीष तिवारी शिमला के त्रिदेव और पंच परमेश्वर सम्मेलन में बोल नेता प्रतिपक्ष डॉ. बलजीत कौर ने शुभकरन सिंह के परिवार के साथ दुख किया सांझा पोलियो जैसी ना-मुराद बीमारी को ख़त्म करना सभी की प्राथमिक जिम्मेदारी: ब्रम शंकर जिम्पा पंजाब के विवेकशील वित्तीय प्रबंधन स्वरूप जी. एस. टी में 16 प्रतिशत और आबकारी राजस्व में 12 प्रतिशत की बढ़ोतरी : हरपाल सिंह चीमा पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय में आयोजित स्प्रिंट कार्यक्रम के दौरान पांच स्टार्टअप उद्यमियों को 23 लाख की फंडिंग प्रदान की गई स्वास्थ्य मंत्री ने किया पोलियो टीकाकरण अभियान का शुभारम्भ नर्सिंग एसोसिएशन और पुका पंजाब में नर्सिंग काउंसिल अध्यक्ष का स्वागत किया भगवंत मान और अरविन्द केजरीवाल ने पंजाब के 13 स्कूल ऑफ एमिनेंस लोगों को किये समर्पित ’आप’ को लोक सभा की सभी 13 सीटें देकर पंजाब और पंजाबियों के अपमान का बदला लो : अरविन्द केजरीवाल

 

डा.ओबराए के प्रयासों से 37 वर्षीय रणजीत सिंह का पार्थिव शव दुबई से वतन लौटा

18 जनवरी को आना था वापिस पंजाब, 17 को हो गई थी मौत

Sarbat Da Bhala Trust Amritsar, Sarbat Da Bhala, Sarbat Da Bhala Trust, Sarbat Da BhalaTrust Patiala, S P Singh Oberoi, DR. S. P. Singh Oberoi
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

अजनाला AMRITSAR , 30 Jan 2022

अपने परिवारों को आर्थिक मंदहाली में से निकालने के लिए अपने घर, ज़मीनें गहने रखकर खाड़ी मुल्कों में मेहनत मज़दूरी करने गए लोगों की हर मुश्किल घड़ी में रहबर बन सेवा रूपी मदद करने वाले दुबई के प्रसिद्ध कारोबारी और सरबत का भला ट्रस्ट चैरिटेबल ट्रस्ट के सरप्रस्त डा. एस.पी.सिंह ओबराए के प्रयासों से अमृतसर ज़िले की सरहदी तहसील अजनाला के साथ सबंधित 37 वर्षीय रणजीत सिंह पुत्र अमर सिंह का पार्थिव शव उस के पैतृक गांव मोहन भंडारियां में पहुंचने उपरांत आज उस का अंतिम ससकार किया गया।इस सम्बन्धित जानकारी सांझी करते सरबत का भला चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक डा.एस.पी.सिंह ओबराए ने बताया कि रणजीत सिंह अपने परिवार के आर्थिक हालातों को सुधारने की कोशिश में कुछ वर्ष पहले दुबई मेहनत मज़दूरी करने के लिए गया था। उन्होंने बताया कि वह दुबई की एक कंपनी में बतौर चालक काम करता था परन्तु कोरोना महामारी के चलते पैदा हुए हालातों में उस की कंपनी ने उसे काम से जवाब दे दिया था। जिस कारण उस ने वापिस पंजाब अपने घर आने के लिए गत 18 जनवरी की टिकट भी खरीद ली थी परन्तु काम न होने के कारण भारी परेशानी का सामना कर रहा रणजीत सिंह 16 जनवरी को अचानक चक्कर खाकर ज़मीन पर गिर पड़ा, जिस की 17 जनवरी को अस्पताल में दिमाग़ की नाड़ी फटने के कारण मौत हो गई थी। 

उन्होंने बताया कि इस घटना सम्बन्धित उन के साथ रणजीत के सबंधियों ने संपर्क करके पीडित परिवार की पतली आर्थिक हालत का हवाला देते मृतक देह भारत पहुंचाने में सहयोग करने के लिए कहा था। जिस पर उन्होंने दुबई बीच वाले भारतीय दूतावास के सहयोग सदका रणजीत सिंह के पार्थिव शव को दुबई से भारत उस के पैतृक गांव मोहन भंडारियां में भेजा गया है। इस पूरी कार्रवाई दौरान डा. ओबराए के निजी सचिव बलदीप सिंह चाहल की भी विशेष भूमिका रही है। पीड़ित परिवार के साथ दुख सांझा करने पहुंचे ट्रस्ट के वरिष्ठ अधिकारी डा. सतनाम सिंह निझ्झर, मनप्रीत सिंह संधू चमियारी, नवजीत सिंह घई ने बताया कि परिवार की आर्थिक हालत देखते ट्रस्ट प्रमुख डा.ओबराए की तरफ से मृतक की पत्नी को 2500 रुपए जब कि उस की बुज़ुर्ग माता को 1000 रुपए मासिक पैंशन देने का फ़ैसला लिया है। जिस का पहला चैक आज ही पीड़ित परिवार को सौंप दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि डा. ओबराए के प्रयासों सदका अब तक 289 बदनसीब लोगों के पार्थिव शव  उन के परिजनों तक पहुंचाए जा चुके हैं।इस दौरान मृतक रणजीत सिंह की बुज़ुर्ग विधवा मां नरिन्दर कौर, पत्नी मनप्रीत कौर, ताया सूबा सिंह, चाचा गुरमीत सिंह, भाई बिकरमजीत सिंह, जसबीर सिंह, राजबीर सिंह हैपी पूर्व सरपंच, कुलविन्दर सिंह और दूसरे इलाका निवासियों ने उसकी मृतक देह लेकर आने के लिए बड़ा सहयोग करने पर डा.एस.पी.सिंह ओबराए का तह दिल से शुकराना करते कहा कि डा.ओबराए की वजह से ही उन को रणजीत के अंतिम दर्शन नसीब हो सके हैं। उनहोंने यह भी कहा कि डा.ओबराए की तरफ से परिवार को मासिक पैंशन के रूप में दी जाने वाली आर्थिक मदद के साथ मृतक रणजीत सिंह के छोटे-छोटे बच्चों का पालन पोषण हो सकेगा।

 

Tags: Sarbat Da Bhala Trust Amritsar , Sarbat Da Bhala , Sarbat Da Bhala Trust , Sarbat Da BhalaTrust Patiala , S P Singh Oberoi , DR. S. P. Singh Oberoi

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD