Saturday, 15 June 2024

 

 

खास खबरें ब्रम शंकर जिम्पा ने राजस्व विभाग में व्यापक स्तर पर सुधार करने के लिए उच्च अधिकारियों को सख़्त निर्देश जारी किए आप सांसद मलविंदर कंग ने शेर सिंह घुबाया के बयान की निंदा की, कहा - जनता को धमकी देना अमर्यादित और अलोकतांत्रिक मोदी 3 में केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया से मिले सुखविंदर सिंह बिंद्रा शिमला, चंबा, सिरमौर, मंडी और कुल्लू में स्थापित होंगी एनडीआरएफ की छोटी टुकड़ियां पंजाब विधान सभा के स्पीकर कुलतार सिंह संधवां ने अमृतसर हेरिटेज स्ट्रीट के नवीनीकरण की ज़रूरत पर ज़ोर दिया आने वाली पीढ़ीयों के लिए वातावरण की रक्षा करना हमारा अहम फर्ज - लाल चंद कटारूचक्क चुनाव आयोग द्वारा हरियाणा के संबंध में जारी वोटरों के आंकड़ों एवं मतगणना में ई.वी.एम. से प्राप्त वोटों में अंतर महाराजा अग्रसेन हिसार हवाई अड्डे से प्रदेश की राजधानी चंडीगढ़ समेत 5 प्रदेशों के लिए अगस्त से शुरू होगी उड़ान : नायब सिंह पुलिस महानिदेशक ने सीसीटीएनएस तथा आईसीजेएस प्रणाली को लेकर स्टेट एंपावर्ड कमेटी के सदस्यों के साथ की समीक्षा बैठक अब करनाल में डोमेस्टिक एयरपोर्ट बनाने की परियोजना पर काम करेगी सरकार - डॉ. कमल गुप्ता शहरों में कृषि भूमि की खरीद -फरोख्त में एन.डी.सी. की आवश्यकता नहीं -सुभाष सुधा असीम गोयल ने जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में सुनी आमजन की समस्याएं डीजीपी पंजाब गौरव यादव द्वारा फील्ड अधिकारियों को राज्य से ड्रग्स और गैंगस्टर संस्कृति को खत्म करने का निर्देश मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने बल्क ड्रग पार्क के स्थापना कार्य की प्रगति की समीक्षा की कुलतार सिंह संधवां ने महान कोष को संशोधन कर पुन: प्रकाशित करने संबंधी अलग-अलग सिख संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ किया विचार-विमर्श मैं चुनौतीपूर्ण रोल्स अपनाने के लिए तैयार हूँ: ज़रीन खान विश्व बैंक की टीम ने बागवानी मंत्री जगत सिंह नेगी से भेंट की पैरिस ओलम्पिक्स में हिस्सा लेने जाने वाले प्रत्येक पंजाबी खिलाड़ी को मिलेंगे 15 लाख रुपए : मीत हेयर यूटी प्रशासक द्वारा शहरवासियों को मुफ्त पानी देने के प्रस्ताव को खारिज करना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण: डॉ. एसएस आहलूवालिया मनसुख मांडविया ने युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय का पदभार संभाला रक्षा निखिल खडसे ने युवा कार्यक्रम एवं खेल राज्यमंत्री का कार्यभार संभाला

 

राज्य के पुलिस प्रमुख के रूप में अपराधियों से आदेश लेने के लिए चटटोपध्याय के खिलाफ एफ.आई.आर दर्ज की जाए: सुखबीर सिंह बादल

टेप से साबित होता है कि डी.जी.पी ड्रग तस्करों के साथ मिलकर काम कर रहा था

Sukhbir Singh Badal, Shiromani Akali Dal, SAD, Akali Dal
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

मोहाली , 24 Jan 2022

शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आज राज्य के पुलिस प्रमुख के रूप में कार्य करते हुए आपराधियों से आदेश लेने के लिए डी.जी.पी एस. चटटोपध्याय के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने की मांग की है।अकाली दल अध्यक्ष मोहाली के उम्मीदवार परमिंदर सिंह सोहाना के प्रचार अभियान के दौरान एक दैनिक अखबार में किए गए एक खुलासे का जिक्र कर रहे थे। उन्होने कहा कि एक टेप सामने आया है, जिसमें डीजीपी, भोला ड्रग्स मामले में एक भगोड़े से बात कर रहे हैं। इस बातचीत के दौरान पुलिस अधिकारी ने डी.जी.पी को कुछ पुलिस अधिकारियों के ट्रांसफर और पोस्टिंग , कुख्यात कैदियों को एक जेल से दूसरे जेल में शिफ्ट करने और मोहाली में अवैध डिटेंशन सेंटर बनाने के निर्देश दिए। यह कहते हुए कि एस. चटटोपध्याय के ड्रग तस्कर जगदीश भोला के साथ सौहार्द्रपूर्ण संबंध अब  सबके सामने आ गए हैं, कहते हुए अकाली दल अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ यह स्पष्ट हो गया है कि यह पुलिस अधिकारी ड्रग तस्करों के साथ साथ दागी पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा था। उसके खिलाफ कानून के अनुसार उचित कार्रवाई की जानी चाहिए।

सरदार बादल ने कहा कि अब यह स्पष्ट हो गया है कि मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने चटटोपध्याय को राज्य का डीजीपी नियुक्त करने के लिए हद से भी बाहर गए, जबकि वह इस इस पद पर रहने के योग्य भी नही था। ‘‘ चन्नी भी इस अवैध गतिविधियों में शामिल है, जो उसके भांजे के घर से भारी मात्रा में नकदी और सोने की बरामदगी से भी साबित होता है। यह भी साफ है कि उन्हे चटटोपध्याय के मामलों के बारे में जानकारी थी और उनके खिलाफ भी उचित कार्रवाई की जानी चाहिए।सरदार बादल ने यह भी सवाल किया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू एक अधिकारी के खिलाफ सबूत मिलने के बावजूद भी चुप क्यों हैं,जिसे उन्होने व्यक्तिगत रूप से चुना था ताकि शीर्ष अकाली लीडर  के खिलाफ झूठे मामले दर्ज किए जाएं। ‘‘ सिद्धू को यह बताना चाहिए कि उन्होने एक अधिकारी को अनुमति क्यों दी जो पहले भी राज्य पुलिस का नेतृत्व करने के लिए  अपने व्यक्तिगत बदलाखोरी पूरे करने के लिए जाना जाता था  और वे चटटोपध्याय की अवैध गतिविधियों के बारे में चुप्पी क्यों साधे रहे’’।अकाली दल अध्यक्ष ने सार्वजनिक क्षेत्र में आई टेप रिकॉर्डिंग की निष्पक्ष जांच की मांग की। ‘‘ इस मामले में क्षेत्र में नशीली दवाओं के व्यापार दूरगामी परिणाम हैं। डीजीपी और उनके राजनीतिक आकाओं के अलावा कई अन्य भी हैं जो इन नशीले पदार्थों की तस्करी में शामिल हैं। उनकी भी पहचान कर मामला दर्ज किया जाना चाहिए और गहन जांच के बाद सलाखों के पीछे डाल दिया जाना चाहिए’’।

 

 

Tags: Sukhbir Singh Badal , Shiromani Akali Dal , SAD , Akali Dal

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD