Friday, 26 July 2024

 

 

खास खबरें अंतराष्ट्रीय मेरा वृक्ष दिवस अभियान- जुलाई अंतिम रविवार को है 15 वां अंर्तराष्ट्रीय माई ट्री डे अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन EMSD-2024 का उद्घाटन आज PEC द्वारा NABI, मोहाली के सहयोग से किया गया मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने ‘एक रिफ्यूजी सांइटिस्ट’ आत्मकथा का विमोचन किया रिकॉर्ड पेरिस ओलंपिक 2024 में भारत का प्रतिनिधित्व करेगें 24 एलपीयू छात्र प्रदेश के युवा अत्याधुनिक पाठ्यक्रमों से हो रहे हैं प्रशिक्षितः राजेश धर्माणी शिकायत निवारण कैंप का उद्देश्य सरकारी सेवाओं को अधिक पारदर्शी और सुलभ बनानाः डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जालंधर पश्चिम में 'आप' की ऐतिहासिक जीत के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी विधायक डॉ अजय गुप्ता ने अपने नए घर में गृह प्रवेश किया, पंजाब के तीन कैबिनेट मंत्री शुभकामना देने पहुंचे राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने ‘पहाड़ पर इंद्रधनुष’ पुस्तक का विमोचन किया आरबीआई के क्षेत्रीय निदेशक ने राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल से भेंट की मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खु ने विश्व पैराग्लाडिंग कप की आधिकारिक वेबसाइट का शुभारंभ किया आप सांसद राघव चड्ढा ने संसद में महाराजा रणजीत सिंह के शाही सिंहासन को वापिस लाने की माँग रखी भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. सुभाष शर्मा ने महाराजा अज्ज सरोवर का किया दौरा भाजपा नेता सेक्टर-11 राजकीय कालेज और सेक्टर-17 में किया पौधारोपण आदित्य सील ने 'खेल खेल में' में अक्षय कुमार, तापसी पन्नू सहित सबसे विविध अभिनेताओं के साथ काम करने अनुभव साझा किया केंद्रीय बजट सिर्फ लंगड़ी सरकार को बचाने पर केंद्रित: हरचंद सिंह बरसट हरियाणा पुलिस के जवान विकट परिस्थितियों में धैर्य के साथ कर रहे हैं कर्तव्यों का निर्वहन : नायब सिंह सैनी गरीब के सर पर छत उपलब्ध करवाने में बजट होगा मददगार हरियाणा के 19 जिलों में सड़क सुरक्षा को मजबूत करने के लिए सिटी सर्विलांस सिस्टम का विस्तार हरियाणा में स्कूल मैनेजमेंट समितियां स्कूलों के उत्थान और उद्धार के लिए निरंतर तत्पर : शिक्षा मंत्री सीमा त्रिखा प्रदेश के स्कूलों में मिड-डे-मील योजना के तहत परोसे जाने वाले भोजन की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें : सीमा त्रिखा

 

ओलंपिक (भाला फेंक) : व्यक्तिगत ओलंपिक स्वर्ण जीतने वाले दूसरे भारतीय बने नीरज चोपड़ा

Sports News, Tokyo Olympics, Tokyo Olympic Games, Olympic Games, Team India, Tokyo 2020, Cheer 4 India, #TeamIndia, #Cheer4India, #Tokyo2020, #TokyoOlympics, Javelin, Neeraj Chopra
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

टोक्यो , 07 Aug 2021

नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक में शनिवार को भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। वह देश के लिए व्यक्तिगत स्वर्ण जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी और पहले ट्रैक एंड फील्ड एथलीट हैं। नीरज की इस सफलता के साथ भारत 1 स्वर्ण, 2 रजत और चार कांस्य के साथ टोक्यो ओलंपिक का समापन किया है। नीरज ने अपने दूसरे प्रयास में 87.58 मीटर की दूरी के साथ पहला स्थान हासिल किया। 86.67 मीटर के साथ चेक गणराज्य के याकुब वाल्देज दूसरे स्थान पर रहे जबकि उनके ही देश के विटेस्लाव वेसेली को 85.44 मीटर के साथ कांस्य मिला।नीरज से पहले अभिनव बिंद्रा ने 13 साल पहले बीजिंग ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता था। अभिनव ने हालांकि यह स्वर्ण निशानेबाजी में जीता था। यहां टोक्यो में नीरज ने जो किया है वह ऐतिहासिक है क्योंकि इससे पहले भारत को ओलंपिक में एथलेटिक्स इवेंट्स में कभी कोई पदक नहीं मिला।बिंद्रा के नाम कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स और ओलंपिक में पदक जुड़ गया है। वह तीनों इवेंट्स में मौजूदा चैम्पियन हैं।नीरज ने अपने पहले प्रयास में 87.03 की दूरी नापी और लीडरबोर्ड में पहले स्थान पर पहुंच गए। दूसरे प्रयास में नीरज ने 87.58 भाला फेंका और लीडरबोर्ड पर खुद को मजबूत किया और एक लिहाज से पदक पक्का कर लिया।

तीसरे प्रयास में हालांकि वह 76.79 मीटर की ही दूरी नाप सके। उनका चौथा प्रयास फाउल रहा। नीरज का पांचवां प्रयास भी फाउल रहा।दूसरी ओर, जर्मनी के जूलियन वेबर ने पहले प्रयास में 85.30 मीटर की दूरी नापी और लीडरबोर्ड पर दूसरे स्थान पर काबिज हो गए। दूसरे प्रयास में हालांकि वह 77.90 मीटर की ही दूरी नाप सके।चेक गणराज्य केवेसेली ने हालांकि अपने तीसरे प्रयास में 85.44 मीटर की अपनी सीजन बेस्ट दूरी नाम वेबर को तीसरे स्थान पर धकेल दिया।वेसेली का चौथा प्रयास नाकाम रहा और इसी बीच उनके ही देश के वाल्देज ने पांचवें प्रयास में 86.67 मीटर के सीजन बेस्ट दूरी के साथ वेसेली को तीसरे स्थान पर धकेल दिया।खिताब के दावेदार माने जा रहे वेबर पांचवें स्थान पर खिसक गए थे लेकिन वह भी पांचवें प्रयास में सीजन बेस्ट 85.30 मीटर के साथ चौथे स्थान पर आ गए।नीरज को इन सबसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा था। उनका स्थान सुरक्षित था। अब उनका सामना सीधे वेसेली और वाल्देज से था। इन दोनों के अंतिम प्रयास नाकाम रहे और इसी के साथ नीरज को एक प्रयास के बिना ही स्वर्ण मिल गया।यह ऐतिहासिक स्वर्ण है। भारत ने इससे पहले एथलेटिक्स में कोई पदक नहीं जीता था लेकिन अब जब पदक आया तो वह सीधे स्वर्ण। इससे पहले, मिल्खा सिंह (1960) और पीटी ऊषा (1984) में अपने-अपने इवेंट्स में चौथे स्थान पर रहे थे। लेकिन अब भारतीय एथलेटिक्स के इतिहास में नया अध्याय शुरू हो गया है।

 

Tags: Sports News , Tokyo Olympics , Tokyo Olympic Games , Olympic Games , Team India , Tokyo 2020 , Cheer 4 India , #TeamIndia , #Cheer4India , #Tokyo2020 , #TokyoOlympics , Javelin , Neeraj Chopra

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD