Thursday, 23 May 2024

 

 

खास खबरें शहर के बीचों-बीच बाजारों में चले गुरजीत सिंह औजला प्रधानमंत्री मोदी की फतेह रैली का गवाह बने पटियाला के एक लाख से अधिक लोग पंजाब में बिजली को लेकर हाहाकार : विजय इंदर सिंगला आम आदमी पार्टी के प्रदेश सचिव संजीव राही सहित सुपर्णा शर्मा व कई नेता भाजपा में शामिल पंजाब में लगातार मजबूत हो रही आप, शिरोमणि अकाली दल और कांग्रेस को बड़ा झटका! कई बड़े नेता आप में शामिल भगवंत मान जी, महिलाओं को एक हजार रुपये महीना कब मिलेगा? : गुरजीत सिंह औजला प्रधानमंत्री को लोगों को उनकी पार्टी के लिए मतदान के लिए डराने के बजाय यह बताना चाहिए कि वे देश को आगे कैसे लेकर जाएंगी : सुखबीर सिंह बादल लुधियाना पूर्वी में चुनाव अभियान के दौरान राजा वड़िंग ने बदलाव की वकालत की 'जुमलेबाजों' और उनकी 'जुमलेबाजी' से सावधान रहें : अमरिन्दर सिंह राजा वड़िंग श्री आनंदपुर साहिब की आवाज संसद में उठाऊंगा: डा. सुभाष शर्मा श्री आनंदपुर साहिब के बहुमुखी विकास के लिए डॉ. सुभाष शर्मा ने जारी किया संकल्प पत्र इंडोनेशियाई प्रतिनिधि सभा और अंतर-संसदीय संघ द्वारा 10वें विश्व जल मंच पर संसदीय बैठक का आयोजन किया गया जीनगर समाज के लिए कलस्टर बनाकर रोजगार को देंगे बढ़ावा:एन.के.शर्मा मैं आज जो कुछ भी हूं वह सभी बरनाला निवासियों के सहयोग और समर्थन के कारण हूं: मीत हेयर आने वाले समय में हमारा देश अन्नदाता से ऊर्जा दाता,ईंधन दाता बनेगा-गडकरी राइटरस अकसर नजरअंदाज हो जाते हैं - अभिनय देओ भगवान बुद्ध की शिक्षाएं आज और भी अधिक प्रासंगिक: राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल कमीशनिंग प्रक्रिया के बाद स्ट्रांग रूम में रखी जाएंगी ईवीएम-वीवीपैट: डी.सी. हेमराज बैरवा पीओके हमारा है और वहां तिरंगा फहराना हैःजतिंदर पाल मल्होत्रा भुट्टो ने पैसे के लालच में बेची विधायकी, हर बार पीएमजीएसवाई के टेंडर मांगते थे : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू दीपशिखा देशमुख और धीरज देशमुख द्वारा पिता बेटी के खूबसूरत रिश्ते को दर्शाता हुआ वीडियो हुआ वायरल

 

विश्व राष्ट्रीय व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य दिवस

कोरोना से करूणा की ओर मुड़ें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती

Dharmik, Religious, Haridwar, Uttarakhand, Haridwar News, Uttarakhand News
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

ऋषिकेश , 28 Apr 2021

आज विश्व राष्ट्रीय व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि ''कोविड-19 महामारी ने राष्ट्रों, सरकारों, नियोक्ताओं, श्रमिकों और सामान्य आबादी को अत्यंत प्रभावित किया है। भारत में वर्तमान स्थिति हृदयविदारक है। कोरोना वायरस का पूरी दुनिया के कार्यालयों पर बड़ा भारी प्रभाव पड़ा है। कार्यस्थलों पर स्वास्थ्य की सुरक्षा एक महत्वपूर्ण विषय है, इस महामारी के दौरान अक्सर ऐसा देखने में आया कि अगर कोई एक व्यक्ति कोरोना वायरस से प्रभावित हुआ तो उसके साथ कई बार पूरे कार्यालय के लोग भी प्रभावित हुये हैं इसलिये हमें व्यावसायिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा प्रणालियों को मजबूत बनाने की आवश्यकता है ताकि भविष्य में इस तरह के संकटों का सामना न करना पड़े। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पूरी दुनिया ने जिस दर्द, डर और सिसकियों को महसूस किया और कर रही है, वह सचमुच हृदयविदारक है। इस महामारी ने कार्यस्थल में वायरस के संचरण के जोखिम को बढ़ा दिया है, इसलिये हम सभी को अपने कार्य करने के तरीकों में बदलाव लाने की जरूरत है, हम सभी को ऑनलाइन प्लेटफार्म के माध्यमों पर अपनी व्यापक निर्भरता को भी बढ़ाना होगा। 

स्वामी जी ने देश के युवाओं का आह्वान करते हुये कहा कि देश में ऑनलाइन प्रोफेशनल फ्रेमवर्क तैयार करने और उसे स्थापित करने में सहयोग प्रदान करें ताकि राष्ट्र में ऑनलाइन कार्य प्रणालियों को और अधिक मजबूत बनाया जा सके। सुरक्षित और स्वस्थ कार्य प्रणालियों को विकसित करने के साथ-साथ मानवीय गुणों, आध्यत्मिक मूल्यों और व्यवहार में शुचिता का होना भी नितांत आवश्यक है। आज  चारों ओर जो वातावरण निर्मित है उसके शमन के लिये प्रोफेशनल कार्यप्रणाली के साथ मानवता का होना और भी बहुत ज्यादा जरूरी है। आपसी करूणा, मानवीय सद्व्यवहार और एकजुटता के भरोसे ही कोरोना से जंग लड़ पायेंगे। स्वामी जी ने कहा कि मानवीय मूल्यों तथा आस्था, सहानुभूति, ईमानदारी, दया, प्रेम, संयम आदि की प्रगति ही मानव को कल्याणकारी मार्ग पर ले जा सकती है। पृथ्वी पर मानवता के विकास हेतु मानवीय मूल्यों का होना बहुत जरूरी है। जिस प्रकार एक अच्छा जीवन जीने हेतु अच्छे स्वास्थ्य का होना बहुत जरूरी है उसी प्रकार एक अच्छे समाज के निर्माण के लिये मानवीय गुणों का होना नितांत आवश्यक है। जरूरी नहीं कि मानवीय गुण सभी लोगों में विकसित हों परन्तु यह जरूरी है कि कम से कम मेरे पास मानवता और मानवीय गुणों का भण्डार हो; मैं स्वयं उच्च मानवीय भावनाओं और उद्देश्यों के साथ लोगों के बीच पहुचूँ। मानवीय गुणों से युक्त व्यक्तित्व न केवल किसी राष्ट्र की बल्कि पूरी समष्टि की आत्मा होती है, उनका संदेश न केवल एक युग के लिये बल्कि युगों-युगों तक जनसमुदाय का मार्गदर्शन करता है।

 

Tags: Dharmik , Religious , Haridwar , Uttarakhand , Haridwar News , Uttarakhand News

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD