Friday, 24 May 2024

 

 

खास खबरें डीड राइटर और उसका सहायक 22,5000 रुपए की रिश्वत लेने के दोष अधीन विजीलैंस ब्यूरो द्वारा गिरफ़्तार एक्टिंग चीफ़ जस्टिस द्वारा इंडियन लॉ रिपोर्ट्स के फ़ैसलों की आसानी से खोज के लिए ई-एच.सी.आर वैबसाईट का उद्घाटन आप का पीएम मोदी पर पलटवार, कहा - मुख्यमंत्री भगवंत मान तीन करोड़ पंजाबियों की पसंद 82 संपत्तियों की खरीद में लगा सुधीर का काला धन : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जालंधर से आप उम्मीदवार पवन कुमार टीनू के लिए किया प्रचार प्रवासियों के खिलाफ है कांग्रेस : संजय टंडन अग्निपथ योजना पर कांग्रेस का दोहरा मापदंड : संजय टंडन शहर के बीचों-बीच बाजारों में चले गुरजीत सिंह औजला प्रधानमंत्री मोदी की फतेह रैली का गवाह बने पटियाला के एक लाख से अधिक लोग पंजाब में बिजली को लेकर हाहाकार : विजय इंदर सिंगला आम आदमी पार्टी के प्रदेश सचिव संजीव राही सहित सुपर्णा शर्मा व कई नेता भाजपा में शामिल पंजाब में लगातार मजबूत हो रही आप, शिरोमणि अकाली दल और कांग्रेस को बड़ा झटका! कई बड़े नेता आप में शामिल भगवंत मान जी, महिलाओं को एक हजार रुपये महीना कब मिलेगा? : गुरजीत सिंह औजला प्रधानमंत्री को लोगों को उनकी पार्टी के लिए मतदान के लिए डराने के बजाय यह बताना चाहिए कि वे देश को आगे कैसे लेकर जाएंगी : सुखबीर सिंह बादल लुधियाना पूर्वी में चुनाव अभियान के दौरान राजा वड़िंग ने बदलाव की वकालत की 'जुमलेबाजों' और उनकी 'जुमलेबाजी' से सावधान रहें : अमरिन्दर सिंह राजा वड़िंग श्री आनंदपुर साहिब की आवाज संसद में उठाऊंगा: डा. सुभाष शर्मा श्री आनंदपुर साहिब के बहुमुखी विकास के लिए डॉ. सुभाष शर्मा ने जारी किया संकल्प पत्र इंडोनेशियाई प्रतिनिधि सभा और अंतर-संसदीय संघ द्वारा 10वें विश्व जल मंच पर संसदीय बैठक का आयोजन किया गया जीनगर समाज के लिए कलस्टर बनाकर रोजगार को देंगे बढ़ावा:एन.के.शर्मा मैं आज जो कुछ भी हूं वह सभी बरनाला निवासियों के सहयोग और समर्थन के कारण हूं: मीत हेयर

 

आजादी के पुरोधाओं की शौर्य गाथाएं युवा पीढ़ी तक पहुंचें : शांता कुमार

क्रांतिकारी साहित्यकार यशपाल के व्यक्तित्व और कृतित्व पर की चर्चा

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

धर्मशाला , 03 Dec 2019

देश की आजादी में अहम योगदान देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों तथा रणबांकुरों की गौरवमयी शोर्य गाथाओं के बारे में युवा पीढ़ी को अवगत करवाना अत्यंत जरूरी है ताकि युवाओं में देश भक्ति का जज्बा कायम हो सके। यह उद्गार पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने धर्मशाला के डीआरडीए सभागार में भाषा एवं संस्कृति विभाग हिमाचल प्रदेश द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय यशपाल जयंती समारोह में बतौर मुख्यातिथि व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि यशपाल ने देश की आजादी की लड़ाई में बढचढ़ कर भाग लिया तथा तमाम सुख सुविधाओं को त्याग कर देश की खातिर जेल यात्रा भी करनी पड़ी इसके साथ ही आजादी के पश्चात कलम के पुरोधा के रूप में अपनी कहानियों और उपन्यासों के माध्यम से समाज को जागरूक करने में भी अहम भूमिका का निर्वहन किया है।समारोह के प्रथम सत्र की अध्यक्षता यशपाल के सुपुत्र आनंद यशपाल ने करते हुए कहा कि भाषा एवं संस्कृति विभाग यशपाल के उपर डाक्यूमेंटरी तैयार करें व उनके कार्यक्रमों में न केवल प्रदेश बल्कि प्रदेश के बाहर से भी कवियों/साहित्यकारों को भी सम्मलित किया जाए।। इसके साथ विशिष्ठ अथिति विशाल नैहरिया ने भाषा और संस्कृति विभाग की सहराना करते हुए कहा कि यह हमारे लिए गर्व की बात है कि राज्य स्तरीय यशपाल जयंती का आयोजन धर्मशाला में कराया जा रहा है और भविष्य में विभाग द्वारा ऐसे ओर कार्यक्रम कांगड़ा जिला और धर्मशाला में आयोजित किए जाएंगे। इस अवसर पर डा कुंवर दिनेश सिंह की अंग्रेजी काव्य संग्रह दी फ्रास्टेड ग्लास पुस्तक का विमोचन भी किया गया।

इस अवसर पर सर्व प्रथम डा. राजेंद्र राजन द्वारा यशपाल के जीवन व साहित्य पर लघु फिलम दिखाई गई। उसके बाद राजन द्वारा ही पापा आर यू ओके कहानी पाठ किया गया। डा. कुंवर दिनेश ने क्रांतिकारी साहित्य का यशपालः व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर शोध पत्र पड़ा गया तथा आमंत्रित विद्वानों सुशील कुमार फुल्ल, के.आर भारती, प्रेम लाल गौतम व डा. गौतम व्यथित आदि ने इस पर चर्चा की। दूसरे सत्र में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता के.के तुर ने की। सुशील गौतम ने ‘‘माना कि हम सब मानुष है, हमारी भी सीमाएं हैं’’, दुर्गेश नंदन ने ‘‘क्या सच में यह आस्था है या आस्था के नाम पर व्यापार है?’’, डा. अदिति गुलेरी ने ‘‘इश्वा प्रदत्त कर्मों का तरपन’’, डा. कमल के. प्यासा ‘‘मुखोटाधारी मदारी भरतर झोली’’, कृष्ण चंद्र महादेविया ‘‘अम्मा चाची कहे कुछ न, नयन भरे हर बार’’, गंगाराम राजी ने ‘‘बताओ मलाई कौन खाएगा’’, चंद्ररेखा ढडवाल ने ‘‘मेरी आंखों में इक प्यास का बादल यारा’’ पर कविता पाठ किया। इसके अतिरिक्त हरिकृष्ण मुरारी, प्रताप जरयाल, टी.सी सावन, अल्का कुमारी, दीपक वर्मा, अमरनाथ धीमान, डा. प्रत्यूष गुलेरी, प्रभात शर्मा, शिवा पंचकरण, राजेंद्र ठाकुर, डा. गंगा राम राजर, सूशील गौतम, बल्विंद्र सिंह धनारी समेत लगभग 40 कवियों ने कविता पाठ किया। इस अवसर पर यशपाल की भतीजि गोगी यशपाल भाषा अधिकारी शिमला कुसुल संघाई, ममता वर्मा, सरोजना, जिला भाषा अधिकारी सुरेश राणा भी मौजूद रहे। अंत में सहायक निदेशक त्रिलोक सूर्यवंशी द्वारा सभी गणमान्य व्यक्यिों का धन्यवाद किया गया।

 

Tags: Shanta Kumar

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD