Saturday, 24 February 2024

 

 

खास खबरें मुख्यमंत्री भगवंत सिंह द्वारा मुकेरियाँ से अपनी किस्म की पहली सरकार-व्यापार मिलनी की शुरुआत बांस उत्पादकों के लिए प्रदेश सरकार बनाएगी सोसायटी बीजेपी और कांग्रेस के नेता सिर्फ मेवात के लोगों के वोट लेने आते हैं, लेकिन विकास खुद का करते हैं : अभय सिंह चौटाला मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा श्री गुरु रविदास जी का 650वां प्रकाश उत्सव व्यापक स्तर पर मनाने का ऐलान सफाई कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए मिलें बेहतर सुविधाएं : अंजना पंवार विकास कार्य़ो की गति में लाई जाए तेजीः सोम प्रकाश एस बी एस पब्लिक स्कूल में हुआ पैनासॉनिक “हरित उमंग- जॉय ऑफ़ ग्रीन” का सफल आयोजन PEC त्रिदिवसीय वर्कशॉप का सफलतापूर्वक समापन किया PEC स्टूडेंट निशिता ने स्वरचित रचना से जीता IGNUS 24 फेस्ट में दूसरा स्थान IIT रोपड़ के टेक्निकल फेस्ट में PEC छात्रों ने अपने नाम किये कई ईनाम 'PEC में दोबारा आना एक यादगारी अनुभव है' : कपिलेश्वर सिंह बीजेपी हम पर इंडिया गठबंधन छोड़ने का दबाव बना रही है, वे जल्द अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की योजना बना रहें : आप पंजाब द्वारा दुबई में ‘गल्फ-फूड 2024’ के दौरान फूड प्रोसेसिंग की उपलब्धियाँ और संभावनाओं का प्रदर्शन, निवेश के लिए न्योता कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने 27 फार्मासिस्टों व 28 को क्लीनिक असिस्टेंटों को सौंपे नियुक्ति पत्र 1900 रुपए मानदेय बढ़ाने के लिए कंप्यूटर अध्यापकों ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का आभार व्यक्त किया ब्रिटिश उच्चायोग और हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से भेंट की 'क़ैद - नो वे आउट' - प्यार, दुर्व्यवहार और उस से बाहर निकलने की एक मनोरंजक कहानी चितकारा यूनिवर्सिटी में "चितकारा लिट फेस्ट 2024"' विद्युत जामवाल की ''क्रैक- जीतेगा तो जियेगा' एक्शन फिल्मों की सूची में सबसे ऊपर मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पंजाब मंत्रिमंडल द्वारा एक मार्च से 15 मार्च तक बजट सत्र बुलाने की मंजूरी पंजाब में स्वास्थ्य सेवाओं में आया क्रांतिकारी बदलावः ब्रम शंकर जिंपा

 

इस वर्ष सब्सिडी के बिना रिकॉर्ड संख्‍या में दो लाख भारतीय मुस्लिम हज जाएंगे : मुख्‍तार अब्‍बास नकवी

सरकार ने हज यात्रियों की सुरक्षा और बेहतर सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए प्रभावी कदम उठाए; किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्‍त नहीं

Listen to this article

5 Dariya News

नई दिल्ली , 25 Jun 2019

केन्‍द्रीय अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्री श्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने आज नई दिल्‍ली में हज 2019 के प्रतिनिधियों के लिए ओरीएन्‍टेशन और प्रशिक्षण कार्यक्रम’ की शुरूआत की। श्री नकवी ने कहा कि केन्‍द्र सरकार ने ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ हज सब्सिडी में होने वाला छल-कपट समाप्‍त कर दिया है। आजादी के बाद पहली बार इस वर्ष सब्सिडी के बिना रिकॉर्ड संख्‍या में दो लाख भारतीय मुस्लिम हज जाएंगे।दो दिवसीय कार्यक्रम का उद्धाटन करते हुए श्री नकवी ने कहा कि इस ईमानदार और पारदर्शी प्रणाली ने सुनिश्चित किया है कि हज सब्सिडी हटा देने के बाद भी हज यात्रियों पर किसी प्रकार का अनावश्‍यक वित्‍तीय बोझ न पड़े।श्री नकवी ने कहा कि केन्‍द्र सरकार ने हज यात्रियों की सुरक्षा और उनके लिए बेहतर सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए प्रभावी कदम उठाए हैं। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि  इस संबंध में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।श्री नकवी ने कहा कि हज यात्रियों की सहायता के लिए 620 हज समन्‍वयक, सहायक हज अधिकारी, हज सहायक, डॉक्‍टर, चिकित्‍सा सहायक तैनात किए गए हैं। इन प्रतिनिधियों में बड़ी संख्‍या में महिलाएं शामिल हैं।श्री नकवी ने कहा कि देश के 21 स्‍थानों से 500 उड़ानों के जरिए इस वर्ष बिना सब्सिडी के रिकॉर्ड संख्‍या में दो लाख भारतीय मुसलमान हज जाएंगे। एक लाख 40 हजार हज यात्री हज समिति के जरिए, 60 हजार हज यात्री हज समूह संगठनों के जरिए हज यात्रा पर जाएंगे। सभी हज समूह संगठनों को हज समिति द्वारा निर्धारित दरों पर दस हजार हज यात्रियों को ले जाना होगा।श्री नकवी ने जानकारी दी कि हज यात्रियों की सहूलियत और पारदर्शिता बनाए रखने के लिए इस वर्ष एचजीओ का एक पोर्टल  http://haj.nic.in/pto/ (हज समूह संगठनों के लिए पोर्टल) विकसित किया गया है, जिसमें एचजीओ, उसके पैकेज आदि के बारे में पूरा विवरण है। 

इस वर्ष कुल 725 एचजीओ हज यात्रियों को ले जाएंगे।उन्‍होंने बताया कि मेहराम (पुरुष साथी) के बिना इस वर्ष हज यात्रा पर जाने वाली महिलाओं की संख्‍या पिछले वर्ष की तुलना में दोगुनी है। इस वर्ष ‘मेहराम’ के बिना भारत से 2,340 मुस्लिम महिलाएं हज के लिए जाएंगी, जबकि पिछले वर्ष ‘मेहराम’ के बिना 1180 महिलाओं ने हज किया था। इस वर्ष भी अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्रालय ने लॉटरी प्रणाली के बिना इन महिलाओं को हज भेजने की व्‍यवस्‍था की है। दो लाख भारतीय हज यात्रियों में करीब 48 प्रतिशत महिलाएं हैं।  हज 2019 के लिए उड़ानें 4 जुलाई, 2019 से शुरू होंगी। 4 जुलाई को दिल्‍ली, गया, गुवाहाटी और श्रीनगर से उड़ाने शुरू होंगी। इसके अलावा हज यात्री बेंगलुरु (7 जुलाई), कालीकट (7 जुलाई),कोच्चि (14 जुलाई), गोवा (13 जुलाई), मंगलौर (17 जुलाई), मुंबई (14 और 21 जुलाई), श्रीनगर (21 जुलाई) से जाएंगे। दूसरे चरण में उड़ानें अहमदाबाद (20 जुलाई), औरंगाबाद (22 जुलाई), भोपाल (21जुलाई), चेन्‍नई (31 जुलाई), हैदराबाद (26 जुलाई), जयपुर(20 जुलाई), कोलकाता (25 जुलाई), लखनऊ (20 जुलाई), नागपुर (25 जुलाई), रांची(21 जुलाई) और वाराणसी (29 जुलाई) से रवाना होंगी।श्री नकवी ने कहा कि सउदी अरब द्वारा भारत का हज कोटा बढ़ाकर 2 लाख कर देने से यह तय हो गया है कि आजादी के बाद पहली बार उत्‍तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, बिहार जैसे सभी बड़े राज्‍यों से आवेदन करने वाले सभी हाजी 2019 के हज के लिए जाएंगे, क्‍योंकि हज कोटा बढ़ने के कारण प्रतीक्षा सूची खत्‍म हो गई है।कुल 19 स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र (मक्‍का में 16 और मदीना में 3) स्‍थापित किए गए हैं। इसके अलावा मक्‍का में 3 और मदीना में एक अस्‍पताल स्‍थापित किया गया है, ताकि हज यात्रियों को उचित स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं मिल सकें। दो दिन के प्रशिक्षण कार्यक्रम में हज प्रतिनिधियों को हज यात्रा, मक्‍का और मदीना में ठहरने, परिवहन, स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं, सुरक्षा उपायों आदि के बारे में सभी जानकारियां दी जाएंगीं।     

 

 

Tags: Mukhtar Abbas Naqvi

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD