Wednesday, 29 May 2024

 

 

खास खबरें चंडीगढ़ में बोले अरविंद केजरीवाल - अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी जी जाने वाले हैं भाजपा की मजबूत चुनावी रणनीति से पहली जून को चित होंगे तिवारी : संजय टंडन लोगों ने फैसला कर लिया है, सर्वे आ चुका है कि आप 13-0 से जीत रही है : भगवंत मान पंजाब के लोग 1 जून को अमित शाह की धमकी का जवाब देंगे, भाजपा की जमानत जब्त कराएंगे : अरविंद केजरीवाल आप सरकार में पहली बार पंजाब में बिना किसी सिफारिश और रिश्वत के नौजवानों को सरकारी नौकरी मिली - अरविंद केजरीवाल पंजाब के लोग जब नादिर शाह के सामने नहीं झुके तो अमित शाह क्या चीज है - संजय सिंह पंजाब की शांति किसी भी कीमत पर भंग नही होने दूंगा : सुखबीर सिंह बादल राहुल गांधी ने किसानों के लिए कर्ज माफी; एमएसपी पर कानूनी गारंटी की घोषणा की गरीब परिवारों के लिए 8500 रुपये मासिक नकद सहायता कांग्रेस अच्छे दिन नहीं बल्कि पुराने दिन वापस लाएगी : गुरजीत सिंह औजला गुरजीत सिंह औजला ने किया सिद्धू मूसेवाले को याद पंजाब में क्राइम कंट्रोल होता तो आज सिद्धू मूसेवाला जिंदा होता: विजय इंदर सिंगला मुरझाए हुए फूल से चुनाव लड़ रहे बिकाऊ विधायक : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू वड़िंग को मिली और बढ़त; लुधियाना दक्षिणी से भाजपा के दूसरे स्थान पर रहे ताजपुरी कांग्रेस में शामिल केंद्र में यदि कांग्रेस की बनी सरकार तो पत्रकारों की सुरक्षा व पेंशन के लिये बनाई जाएगी नई नीति ,हिमाचल के पत्रकारों को भी मिलेगी पेंशन- पवन खेड़ा मीत हेयर ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर किए गए काम पर वोट मांगे अकाली दल को बड़ा झटका, कांग्रेस को समर्थन श्री आनंदपुर साहिब के लोगों से मान की अपील: अब हम तलवारों के बजाए अपने वोटों से अन्याय और जुल्म के खिलाफ लड़ रहे हैं, हमारा साथ दें भारत को भय, भूखमरी, आंतकवाद, भ्रष्टाचार मुक्त करने का संकल्प पूरा करेंगे : नितिन गडकरी अरविंद केजरीवाल ने जालंधर में व्यापारियों कारोबारियों के साथ की मीटिंग, कहा - इस बार आम आदमी पार्टी को सभी 13 सीटें जिताएं परनीत कौर की जीत में पटियाला के दुकानदारों निभाएँगे अहम जिम्मेदारीः बीबा जयइंद्र कौर कांग्रेस ने पहले पंजाब को बांटा, अब देश को बांटना चाहती है: स्मृति ईरानी

 

गठबंधन पर केजरीवाल ने 'ओवर स्मार्ट' बनने की कोशिश की : कपिल सिब्बल

Listen to this article

5 Dariya News

नई दिल्ली , 06 May 2019

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा है कि पार्टी से गठबंधन की कोशिश करते वक्त आम आदमी पार्टी(आप) के नेता अरविंद केजरीवाल 'ओवर स्मार्ट' बनने की कोशिश कर रहे थे और यह चुनाव बताएगा कि 'दिल्ली में उनकी वास्तविक स्थिति क्या है।'दिल्ली के चांदनी चौक के पूर्व सांसद सिब्बल ने कहा कि गठबंधन से आप और कांग्रेस दोनों को फायदा होता, अगर यह दिल्ली तक 'सीमित' होता।पूर्व केंद्रीय मंत्री ने आईएएनएस से कहा, "लेकिन उन्हें रुचि नहीं थी। वास्तव में यह सारा तिकड़म दिल्ली से बाहर उनके आधार को बढ़ाने के लिए किया गया था। यह एक राजनीतिक उद्देश्य के लिए था। इस चुनाव से पता चलेगा कि दिल्ली में उनकी वास्तविक स्थिति क्या है।"उन्होंने कहा कि आप ओवर स्मार्ट बनने की कोशिश कर रही थी। वे दिल्ली में गठबंधन के साथ अन्य प्रदेशों में गठबंधन चाह रहे थे।सिब्बल से पूछा गया था कि अगर कांग्रेस आप से चुनाव पूर्व गठबंधन कर लेती तो यह पार्टी के लिए कितना महत्वपूर्ण होता।दोनों पार्टियों के बीच संभावित गठबंधन को लेकर लंबे समय तक बात चली थी।सिब्बल ने कहा कि कांग्रेस यहां की सात सीटों में से 4-3 के अनुपात में सीट बंटवारे के समझौते पर पहुंचना चाहती थी।उन्होंने कहा, "फिर वे(आप) पंजाब, गोवा के बारे में बात करने लगे। तब फिर वे गोवा और पंजाब को छोड़ हरियाणा पर बात करने लगे।"कांग्रेस नेता ने कहा, "उनकी हरियाणा में कोई उपस्थिति नहीं है। हम हरियाणा में उनके साथ क्यों सहमत हो जाते? उनका नई पार्टी जननायक जनता पार्टी के साथ गठबंधन था। यह ओवर स्मार्ट बनने की कोशिश करना था।"सिब्बल ने पहले चांदनी चौक सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी, जहां से पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को चुनाव मैदान में उतारा है।यह पूछे जाने पर कि वह इसबार चुनाव मैदान में क्यों नहीं है? उन्होंने कहा, "मेरे पास अगले तीन वर्षों के लिए राज्यसभा सीट है। अगर मैं चुनाव जीत जाता तो कांग्रेस को वह राज्यसभा सीट नहीं मिल पाती और राज्यसभा में संख्या बहुत महत्वपूर्ण है।"उन्होंने कहा, "दूसरा कारण यह है कि मैं शीर्ष अदालत में कई मामलों को देख रहा हूं, जिसकी सुनवाई सर्वोच्च न्यायालय में आज भी हो रही है। इसलिए मैं उन मामलों को देख नहीं पाता..अगर मैं सुनवाई में शामिल नहीं हो पाता तो, वकील बदल दिया जाता।"सिब्बल ने कहा, "तीसरा कारण यह है कि मैं चुनाव प्रचार के लिए अन्य राज्यों में जा रहा हूं। मैं गुजरात गया था। मैं मुंबई गया था और कई अन्य जगहों पर जा रहा हूं। इसलिए मेरे ऊपर कई जिम्मेदारियां हैं..मैं सभी को नहीं निभा सकता। इसलिए मैंने पार्टी नेतृत्व से कह दिया था कि मैं लड़ने के लिए तैयार हूं, लेकिन इसपर निर्णय आपको करना है।"

 

Tags: Kapil Sibal

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD