Sunday, 19 May 2024

 

 

खास खबरें 2024 लोकसभा चुनाव ऐतिहासिक : पवन खेड़ा अमृतपाल को बंदी सिंह की श्रेणी में नही रखा जा सकता : सुखबीर सिंह बादल शिरोमणी अकाली दल ने चुनाव आयोग से किसानों को धमकाने के लिए हंसराज हंस के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने लुधियाना में बदलाव के लिए विजन डॉक्यूमेंट 'ड्राइव इट' पेश किया मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कुरुक्षेत्र से 'आप' उम्मीदवार डॉ. सुशील गुप्ता के लिए किया प्रचार महिला सशक्तिकरण तो दूर महिलाओं का सम्मान तक नहीं करते "आप" नेता : जय इंद्र कौर वर्ल्ड क्लॉस की स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए वचनबद्ध : विजय इंदर सिंगला इलेक्शन लोकतंत्र है और यहां हथियारों की नहीं बल्कि विचारों की लड़ाई होनी चाहिए : गुरजीत सिंह औजला अकाली दल के घोषणा पत्र में पंथक और क्षेत्रीय मजबूती का आहवाहन परिवर्तन की सरकार ने किया पंजाब को कर्जदार - गुरजीत औजला डॉ. एस.पी. सिंह ओबेरॉय के प्रयासों से जालंधर जिले के युवक का शव पहुंचा भारत दो साल में हमारी सरकार और मेरे काम को देखें, फिर तय करें कि आपको क्या चाहिए: मीत हेयर सीपीआई एम.एल. (लिबरेशन) ने की गुरजीत औजला के पक्ष में चुनावी रैली सनौर में अकाली दल प्रत्याशी के कार्यालय का उदघाटन खरड़ में निर्माणाधीन श्री राम मंदिर का दौरा करने के लिए माननीय राज्यपाल पंजाब को अनुरोध पत्र परनीत कौर व गांधी पटियाला हलके के लिए कोई प्रोजैक्ट नहीं लाए:एन.के.शर्मा मलोया में 20 मई को योगी आदित्य नाथ की विशाल चुनावी जनसभा-प्रदेशाध्यक्ष जतिंदर पाल मल्होत्रा फिल्म 'करतम भुगतम ' को ऑडियंस का प्यार और बॉक्स ऑफिस पर मिली सफलता लोक सभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग की हिदायतों का पूरा पालन किया जाए: जनरल पर्यवेक्षक जिला निर्वाचन अधिकारी कोमल मित्तल की देखरेख में वोटिंग मशीनों का पूरक रैंडमाइजेशन किया गया फिल्म कुड़ी हरियाणे वल दी / छोरी हरियाणे आली के टीजर में जट्ट और जाटनी के रूप में चमके एमी विर्क और सोनम बाजवा

 

एस.टी. दर्जे से वंचित गद्दी जातियों को भी शामिल करवाएगी भाजपा : शांता कुमार

गद्दियों की आवाज बनेंगे कृष्ण कपूर, सुधीर शर्मा के वक्तव्य पर उठाये सवाल

Listen to this article

5 Dariya News

पालमपुर (मनोज रत्न) , 29 Apr 2019

हिमाचल प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री और कांगडा-चम्बा से वर्तमान लोकसभा सदस्य शांता कुमार ने कहा है कि कांग्रेस की ओर से पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा ने गददी समुदाय की कुछ अन्य जातियों को एस.टी. का दर्जा दिलवाने के संबंध में एक वक्तव्य दिया है। उन्होंने कहा कि किसी कारण यह जातियां रह गई। परन्तु भाजपा सरकार ने ही नये हिमाचल के गददी-गुजर समुदाय को एस.टी. का दर्जा दिलवाया था जबकि भाजपा तो थोड़ा समय ही सत्ता में रही। उन्होंने पूछा कि कांग्रेस तो 50 साल तक सत्ता में रही. सुधीर षर्मा मंत्री रहे तब यह काम उन्होने क्यों नहीं किया? उन्होने कहा कि वह केन्द्र में मंत्री थे। कांगड़ा से कृष्ण कपूर, दूलोराम तथा कुछ और गददी कार्यकर्ता दिल्ली आये और उनसे मिल कर सारी बात बताईं। पता करने पर पता चला कि भारत सरकार के सर्वे की एक रिपोर्ट में कह दिया था कि नये हिमाचल के गदिदयों व भरमौर के गदिदयों के साथ आर्थिक और सामाजिक स्तर नहीं मिलता इसलिए अब यह बिलकुल संभव नहीं है।शांता कुमार ने आगे कहा कि उन्होने अपने कार्यालय के एक योग्य अधिकारी कलकत्ता भेजा और उनके प्रयास से एक कमेटीबनाई गयी। कमेटी कांगड़ा में आई।कमेटी ने हमारे अनूकूल रिपोर्ट दी। सारी रिपोर्ट भारत सरकार के एस.टी. कमिश्नर  के पास भेजी गई। 

शांता कुमार स्वयं उनसे मिले। रिपोर्ट मंत्रालय के पास आईं उस समय श्री जोअल ओराम मंत्री थे। मैं उनको मिला। उन्होने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सहमति के बिना यह काम करना कठिन था इसलिए वे स्वयं उनसे मिले। इस मांग को पूर्ण करवाने में बडी कठिनाई आई थी। अन्य प्रदेशों  से भी इस प्रकार की मांग आ रही थी। मांग ही नही आन्दोलन हुए गोलियां भी चली थी। मुझे यह कहा जाता था कि ऐसी स्थिति में इस समुदाय के लिए अलग से कानून नहीं बन सकता। मुझे गदिदयों के पक्ष में सारे तथ्यो को लेकर इन सब नेताओं से मिलना पड़ा। मंत्री ने रिपोर्ट भेजी। रिपोर्ट मंत्रीमण्डल में आई। मैं स्वयं मंत्री था। मुझे अपनी बात रखने का मौका मिला। अटल बिहारी वाजपेयी पहले ही मुझ से सहमत हो चुके थे। उसके बाद संविधान संशोधन बिल संसद में आया। वे संसद में इस विषय  पर बोले। उसके बाद भारत सरकार के राष्ट्रपति ने संविधान संशोधन बिल को स्वीकार किया।उन्होने कहा कि दिल्ली में मंत्री रहते हुए किसी भी काम को करवाने में इतना संघर्ष और परिश्रम नहीं करना पडा था। उन्हे प्रसन्नता है कि आज भी कई प्रदेशों में ऐसे मामले लम्बित पडे हुए है, आन्दोलन तक होते रहे है। हिमाचल के गददी गुजर भाईयो को यह वरदान भाजपा सरकार व अटल बिहारी वाजपेयी के कारण मिला था।उन्होने कहा कि कुछ गददी जातियां रह गईं वे लोग मुझे मिले थे। मैंने उस संबंध में भी सरकार को पत्र लिखा था। उनका मामला भी भारत सरकार में विचाराधीन है। हमारा सौभाग्य होगा कि कृष्ण कपूर दिल्ली पहुंचेगे तो वे उनकी सहायता करूंगा। हम रह गई जातियों को यह लाभ देने का पूरा प्रयत्न करेंगे।

 

Tags: Shanta Kumar

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD