Monday, 15 April 2024

 

 

खास खबरें चंडीगढ़ की जनता की अपेक्षा के अनुरूप बनाया जाएगा भाजपा का संकल्प पत्र - शक्ति प्रकाश देवशाली अंबेडकर नवयुवक दल द्वारा संविधान निर्माता डा. बी.आर अंबेडकर के 133वें जन्मदिवस पर विशाल शोभा यात्रा का आयोजन हर वोट होता है कीमती, कभी-कभार मामूली अंतर से भी हो जाती है जीत: अनुराग अग्रवाल मोदी सरकार में वंचितों की सेवा सर्वोपरि : डॉ राजीव बिंदल पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज चंडीगढ़ ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर को श्रद्धांजलि दी राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर को श्रद्धांजलि दी एसएचएम शिपकेयर ने ओएनजीसी के लिए भारत का पहला फास्ट क्रू बोट वेसल-सी स्टैलियन-I लॉन्च किया देश को एकता के सूत्र में पिरोने में बाबा साहिब की विशेष भूमिका: डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल चुनाव के पर्व पर बैसाखी पर सादकी चौकी पर लगी रौनक बाबा साहब की जयंती पर राष्ट्र भर में कार्यक्रम आयोजित कर रही है भाजपा-भाजपा प्रदेशाध्यक्ष जितेंद्र पाल मल्होत्रा शाही शहर में होगी कमेरों व लुटेरों में सीधी जंग : एन.के.शर्मा फिल्म "शायर" में सतिंदर सरताज और नीरू बाजवा अभिनीत सुपरहिट रोमांटिक जोड़ी सत्ता और सीरो को देखना न भूलें! असम के सोनितपुर लोकसभा क्षेत्र के आप उम्मीदवार के पक्ष में मान ने किया रोड शो राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने प्रदेश की प्रगति में योगदान देने वाले हाई फ्लायर्स को सम्मानित किया मलायका और नारीफर्स्ट की एकता ने डॉ. रूपिंदर और ईशा को प्रदान की ज्वेल ऑफ इंडिया ट्रॉफी ज़ी पंजाबी सितारे केपी सिंह और ईशा कलोआ टाइम्स फूड एंड नाइटलाइफ़ अवार्ड्स 2024 में अतिथि के रूप में शामिल हुए एलपीयू ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2024 में शीर्ष स्थान हासिल किये इंडस पब्लिक स्कूल में वैसाखी पर लगी रौनकें, छात्रों ने पेश किए रंगारंग प्रोग्राम किड्जी बेला ने बैसाखी का त्योहार पारंपरिक हर्षोल्लास के साथ मनाया इलेक्ट्रिक व्हीकल होंगे सस्ते, पॉवरफुल और अधिक सुरक्षित PEC स्टूडेंट्स ने सास उद्योग का जश्न मनाते हुए, भारत सास यात्रा में लिया हिस्सा

 

फिर क्या हुआ अगर सरहदी किसान हूँ तो

फाजिल्का के फलों ने प्रांतीय और केंद्रीय राजधानी तक जमाई धांक

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

फाजिल्का , 06 Dec 2018

डिप्टी कमिशनर मनप्रीत सिंह छत्तवाल ने जिले के सरहदी किसानों को रवायती खेती के चक्कर में से निकल कर बागबानी धंधो के साथ जुडऩे की अपील की है। उन्होंने किसानों को कम पानी वाली फसलों के साथ-साथ आर्गेनिक खेती करने पर भी जोर दिया है। उन्होंने जिले में आर्गेनिक खेती के साथ जुड़े किसान रवि धींगड़ा की भी भरपूर प्रशंसा की है जिनकी तरफ से भारत -पाक सरहद के बिल्कुल नजदीक बागों की आर्गेनिक तरीको के साथ खेती करके अपना और जिले का नाम चमकाया जा रहा है। डिप्टी कमिशनर छत्तवाल ने कहा कि जिले के दूसरे किसानों को भी प्रगतिशील सोच के मालिक किसानों से शिक्षा लेनी चाहिए, जो खेती के साथ-साथ सहायक धंधे अपना रहे हैं और अनावश्यक खादों का प्रयोग न करके खेती खर्चे कम करके अपनी आय में भी विस्तार कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे आर्गेनिक तरीको के साथ खेती करने वाले किसानों को जिला प्रशासन की तरफ से स्वतंत्रता और गणतंत्रता दिवस मौके विशेष तौर पर सम्मानित किया जाएगा। भारत -पाक सरहद नजदीक पड़ते गाँव मुहंमद पीर में फलों की खेती करके फाजिल्का का नाम बागबाना की दुनिया में चमका रहे प्रगतिशील सोच के मालिक किसान रवि धींगड़ा ने बताया कि वह १९६८ से ही फलों की खेती कर रहा है। इस बागबान का यह भी कहना है कि उस की तरफ से पिछले ५० सालों से ही आर्गेनिक तरीको के साथ फलों की खेती की जा रही है।  

१३ साल की उम्र से फलों की खेती कर रहे इस बागबान का कहना है कि उसे कभी भी आज तक अपने फलों को बेचने के लिए मुश्किल नहीं आई। उसे राज्य की राजधानी चण्ड़ीगढ़ से लेकर केंद्रीय राजधानी दिल्ली तक के फल विक्रेता की तरफ से खुद उसके पास आ कर अडवांस में ही फलों की बुकिंग करवा दी जाती है। उसे अपने तैयार किये फलों को मंडी में ले जाकर बेचने की भी कभी जरूरत नहीं पड़ती।पिछले ५० सालों से लगभग १६ एकड़ में अलग -अलग किस्म के व्यापारिक और घरेलू फलों की आर्गेनिक तरीको साथ खेती कर रहे इस बागबान की तरफ से पिछले साल से विशेष तौर पर श्रीलंका से ढाई हजार पौधे मंगवा कर लगभग ३ एकड़ में ड्रैगन फ्रूट की खेती शुरू की गई है। अगले साल उस की तरफ से पाँच एकड़ ओर ड्रैगन फल उगाने का लक्ष्य निश्चित किया गया है। जिस के लिए उस की तरफ से खुद पनीरी तैयार की जा चुकी है।ड्रैगन फल बारे इस किसान का कहना है कि श्रीलंका में तैयार करने में इस फल को चाहे १३ महीने लगते हैं परन्तु उस की तरफ से लगाए गए इस फल के पौधों को सिर्फ ग्यारह महीनों में ही फल लगना शुरू हो गया था। इस फल की महत्ता बारे उस का कहना है कि यह एक ऐसा फल है जिस को खाने के साथ व्यक्ति कभी अपने आप को बुजुर्ग महसूस नहीं करता और न ही उसके चेहरे पर कभी झुरडिय़ां पड़तीं हैं, बल्कि हमेशा उस के चेहरे पर नूर रहता है और जल्दी कभी कोई बीमारी भी नहीं लगती। 

बागबान श्री धींगड़ा ने बताया कि ड्रैगन फ्रूट की चाहे तीन किस्मे पहली बाहर से और अन्दर से लाल, दूसरी किस्म बाहर से लाल और अंदर से सफेद और तीसरी किस्म बाहर से पीला और अंदर से करीम का होता है। परन्तु उस की तरफ से अभी तक सिर्फ पहली दो किस्मों के ही पौधे लगाए गए हैं। इन की कीमत बारे उन्होंने बताया कि पहली किस्म का फल ३०० से ३५० रुपए, दूसरी किस्म का १५० से २०० रुपए और तीसरी किस्म का फल ८०० से ९०० रुपए प्रति किलो रुपए बाजार में बिकता है। ड्रैगन फरूट को उगाने के बारे में जानकारी देते बागबान श्री धींगड़ा ने बताया कि इस को उगाने के लिए खेत में पिल्लर लगा कर इस के आस-पास चारों तरफ पौधे लगाए जाते हैं। बागबान श्री रवि धींगड़ा ने यह भी बताया कि इंग्लैंड की कोवंैटरी यूनिवर्सिटी से एम.बी.ए पास उनका नौजवान सुपुत्र युवराज भी नौकरी करन की बिजाए उन के साथ ही खेती में सहयोग कर रहा है। उस की तरफ से व्यापारिक तौर पर दस एकड़ में अमरूद की सोलह किस्मों (स्थान पर सेवन, स्थान पर पीनक, एपल क्रौस, ताइवान, हिसार सफ़ेदा, इलाहाबादी सफ़ेदा, अरका अमुल्या, सरदार विरायटी, बरफखाना और एल9४९  आदि) की खेती की जा रही है

घरेलू फलों के बारे बागबान श्री धींगड़ा ने बताया कि उस की तरफ से अपने खेत में किन्नू, कुरमानी, नीबू, आम, चीकू, आलू -बुखारा, फालसा, बम्बूकोसा, कटहल, अमरीकन माल्टा, एवाकाडो, अंजीर, बेलगिरी, आलू बुख़ारा, आड़ू, बेर, जामुन, बादाम, सीता फल, सेब, और खजूर आदि फलों के पौधे भी लगाए गए हैं। उस की तरफ से मल्टी करोपिंग जैसे अमरूद और खजूर, ड्रैगन, सुवाजना और आमला की खेती इक_ी भी की जा रही है। दुनिया भर में सफल बाग़बान के तौर पर अपनी पूरी तरह धांक जमा चुके श्री धींगड़ा की किसानों को सलाह है कि उन को अनावश्यक खादों के इस्तेमाल करने की बजाय आर्गेनिक तरीको साथ खेती करनी चाहिए। इस के साथ उनके खर्चे कम और आय में विस्तार होता है। इस के अलावा आर्गेनिक तरीको के साथ तैयार किये गए फलों का शरीर के लिए किसी तरह का नुक्सान नहीं होता और इस की मार्किटिंग करने में कोई मुश्किल नहीं आती। इस को दूसरे फलों के मुकाबले और ज्यादा कीमत पर आसानी के साथ बेचा जा सकता है।

 

Tags: Agriculture

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD