Monday, 15 April 2024

 

 

खास खबरें युवा शक्ति ने ही बनाया भाजपा को सबसे मजबूत और दुनिया का सबसे बड़ा राजनीतिक दल- संजय टंडन चंडीगढ़ की जनता की अपेक्षा के अनुरूप बनाया जाएगा भाजपा का संकल्प पत्र - शक्ति प्रकाश देवशाली अंबेडकर नवयुवक दल द्वारा संविधान निर्माता डा. बी.आर अंबेडकर के 133वें जन्मदिवस पर विशाल शोभा यात्रा का आयोजन हर वोट होता है कीमती, कभी-कभार मामूली अंतर से भी हो जाती है जीत: अनुराग अग्रवाल मोदी सरकार में वंचितों की सेवा सर्वोपरि : डॉ राजीव बिंदल पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज चंडीगढ़ ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर को श्रद्धांजलि दी राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर को श्रद्धांजलि दी एसएचएम शिपकेयर ने ओएनजीसी के लिए भारत का पहला फास्ट क्रू बोट वेसल-सी स्टैलियन-I लॉन्च किया देश को एकता के सूत्र में पिरोने में बाबा साहिब की विशेष भूमिका: डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल चुनाव के पर्व पर बैसाखी पर सादकी चौकी पर लगी रौनक बाबा साहब की जयंती पर राष्ट्र भर में कार्यक्रम आयोजित कर रही है भाजपा-भाजपा प्रदेशाध्यक्ष जितेंद्र पाल मल्होत्रा शाही शहर में होगी कमेरों व लुटेरों में सीधी जंग : एन.के.शर्मा फिल्म "शायर" में सतिंदर सरताज और नीरू बाजवा अभिनीत सुपरहिट रोमांटिक जोड़ी सत्ता और सीरो को देखना न भूलें! असम के सोनितपुर लोकसभा क्षेत्र के आप उम्मीदवार के पक्ष में मान ने किया रोड शो राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने प्रदेश की प्रगति में योगदान देने वाले हाई फ्लायर्स को सम्मानित किया मलायका और नारीफर्स्ट की एकता ने डॉ. रूपिंदर और ईशा को प्रदान की ज्वेल ऑफ इंडिया ट्रॉफी ज़ी पंजाबी सितारे केपी सिंह और ईशा कलोआ टाइम्स फूड एंड नाइटलाइफ़ अवार्ड्स 2024 में अतिथि के रूप में शामिल हुए एलपीयू ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2024 में शीर्ष स्थान हासिल किये इंडस पब्लिक स्कूल में वैसाखी पर लगी रौनकें, छात्रों ने पेश किए रंगारंग प्रोग्राम किड्जी बेला ने बैसाखी का त्योहार पारंपरिक हर्षोल्लास के साथ मनाया इलेक्ट्रिक व्हीकल होंगे सस्ते, पॉवरफुल और अधिक सुरक्षित

 

मिशन तंदुरु स्त पंजाब का असर: 1387 गांवों के किसानों ने नहीं लगाई पराली को आग

पिछले वर्ष के मुकाबले करीब 63 प्रतिशत कम जली धान की पराली : डिप्टी कमिश्नर

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

होशियारपुर , 03 Dec 2018

डिप्टी कमिश्नर ईशा कालिया ने कहा कि जिला प्रशासन की ओर से मिशन तंदुरु स्त पंजाब के अंतर्गत फैलाई गई जागरु कता के कारण इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में 63 प्रतिशत धान की पराली को कम आग लगाई गई है। उन्होंने बताया कि 1449 गांवों में 1387 गांवों में धानी की पराली को जलाने का एक भी मामला सामने नहीं आया। उन्होंने प्रगतिशील किसानों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने धान की पराली को आग न लगा कर वातावरण हितैषी होने का सबूत दिया है। ईशा कालिया ने बताया कि प्रशासन की ओर से खेतों में धान की पराली को आग लगाने के प्रचलन को रोकने के लिए मिशन तंदुरु स्त पंजाब के अंतर्गत जागरु कता अभियान शुरु  गया था, जिसके अंतर्गत कृषि विभाग, प्रदूषण नियंत्रण विभाग व कृषि विकास केंद्र की ओर से की गई गतिविधियों के कारण जिले में फसलों के अवशेष को आग लगाने में कमी आई है। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष जिले में धान की पराली को आग लगाने के 324 मामले आए थे जबकि इस वर्ष  सेटेलाइट के माध्यम से 171 केस सामने आए जिनमें से 49 केस ऐसे थे जिनमें पराली को आग न लगाए जाने की पुष्टि हुई है। इस मुताबिक केवल 122 मामले ही पराली को आग लगाने के सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे मामलों में पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड होशियारपुर की ओर से एन.जी.टी की हिदायतों के मुताबिक कार्रवाई की गई है। 

डिप्टी कमिश्नर ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला प्रशासन की ओर से शुरु  किए गए जागरु कता अभियान के अंतर्गत 597 नोडल अधिकारी व 32 कोआर्डिनेटिंग अधिकारियों सहित 629 अधिकारी व कर्मचारी नियुक्त  किए गए थे। उन्होंने बताया कि कृषि विभाग की ओर से धान की पराली का खेत में ही प्रबंधन करने के लिए आधुनिक कृषि मशीनें मुहैया करवाई गई। जिस मुताबिक व्यक्ति गत तौर पर किसानों को 110 कृषि उपकरण जिसमें सुपर एस.एम.एस, हैपी सीडर, रिवर्सिवल एम.बी प्लो, चौपर कम शरैडर, जीरो टिल मशीन 50 प्रतिशत सब्सिडी पर मुहैया करवाई गए। उन्होंने बताया कि उक्त  उपकरणों पर करीब 74 लाख रु पये की सब्सिडी दी गई है। उन्होंने बताया कि इसी तरह कृषि विभाग की ओर से किसानों के ग्रुपों को 136 आधुनिक कृषि यंत्र मुहैया करवाए गए हैं, जिनकी सब्सिडी करीब  1 करोड़ 50 लाख रु पये बनती है। उन्होंने बताया कि सहकारिता विभाग की ओर से को-आप्रेटिव सोसायटियों को 306 आधुनिक कृषि उपकरण मुहैया करवाए गए, जिस मुताबिक जिले में कुल 552 आधुनिक कृषि मशीनों से किसानों ने पराली को आग न लगाकर इसका उचित प्रबंधन किया। 

उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से 118 गांवों में किसान जागरु कता कैंप लगाए गए, जबकि 304 प्रदर्शनियां लगा कर किसानों को आधुनिक कृषि उपकरणों के बारे में जागरु क किया गया। ईशा कालिया ने बताया कि किसानों को व्हाट्स एप से भी संदेश भेज कर जागरु क किया गया है। इसके अलावा गांवों में विशेष तौर पर मुनादी भी करवाई गई, जबकि स्कूलों में विशेष जागरु कता सेमीनार भी लगाए गए थे। उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से 7 जागरु कता वैन भीचलाई गई जिसके माध्यम से 766 गांवों को कवर करके 1 लाख 32 हजार जागरु कता साहित्य भी बांटा गया। उन्होंने बताया कि कृषि विज्ञान केंद की ओर से 283 किसानों को स्पेशल ट्रेनिंग भी दी गई। नाबारड की ओर से 330 व इंडिया पर्यावरण सहायक एन.जी.ओ नई दिल्ली की ओर से 20 किसान जागरु कता कैंप भी लगाए गए। डिप्टी कमिश्नर ने मिशन तंदुरु स्त पंजाब मुहिम के अंतर्गत धान की पराली को जलाने के रु झान पर नकेल कसने में योगदान डालने वाले कृषि विभाग, कृषि विकास केंद्र, प्रदूषण नियंत्रण विभाग, एन.जी.ओ.ज की  प्रशंसा करते हुए मीडिया का धन्यवाद भी किया। उन्होंने बताया कि फसलों के अवशेषों को आग न लगाए।

 

Tags: Tandarust Punjab , Agriculture

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD