Tuesday, 27 February 2024

 

 

खास खबरें कान्स और टाइम्स स्क्वायर के बाद, सोनिया कोहली की फिल्म 'क़ैद- नो वे आउट' ने मचाई पंजाब में धूम जल आपूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री ब्रह्म शंकर जिम्पा ने विभाग के प्रमुख प्रोजेक्टों का लिया जायज़ा मिशन समरथ के नतीजे उत्साहजनक: हरजोत सिंह बैंस अमृतसर इम्प्रूवमेंट ट्रस्ट के जेई और क्लर्क को विजिलेंस ब्यूरो ने 50 हजार रुपये रिश्वत लेते पकड़ा PEC के छात्रों ने IIT जोधपुर में नृत्य का किया बेहतरीन प्रदर्शन इंडस पब्लिक स्कूल में सालाना खेल दिवस का आयोजन किसानों के साथ मजबूती के साथ खड़ी है कांग्रेस: सांसद मनीष तिवारी पठानकोट को विशेष औद्योगिक और व्यापारिक पैकेज देने की संभावना तलाशेंगे : भगवंत सिंह मान व्यापारियों की समस्याओं का मौके पर ही समाधान करने का अवसर बनी सरकार-व्यापार मिलनी पठानकोट में उद्योग और पर्यटन को उत्साहित करने के लिए पंजाब सरकार की प्रशंसा की पंजाब साईबर क्राइम डिवीजऩ ने साईबर वित्तीय धोखाधड़ी को रोकने के लिए बैंकों को पुलिस के साथ तालमेल करने के लिए नोडल अफ़सर नियुक्त करने के लिए कहा संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के ‘प्रोजेक्ट अमृत’ का सफल आयोजन मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने लाहौल शरद उत्सव का शुभारम्भ किया 2.42 लाख महिलाओं को प्रतिमाह 1500 रुपये मिलेगी पेंशन : सुखविंदर सिंह सुक्खू उर्वशी रौतेला ने बनाया विश्व रिकॉर्ड स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिए पंजाब सरकार नहीं छोड़ रही कोई कमी : ब्रम शंकर जिम्पा गांव खटकड़ कलां में अयोजित कबड्डी कप में शामिल हुए सांसद मनीष तिवारी सरकारी स्कूल शिक्षा में उत्कृष्टता के उच्च मानक कर रहे स्थापित : रोहित ठाकुर सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी हर क्षेत्र में अव्वल बुटेल ने किए 3 करोड़ की विकास परियोजनाओं के शिलान्यास-उद्घाटन एलपीयू के11वें दीक्षांत समारोह में ऑस्ट्रेलियाई के पूर्व प्रधान मंत्री टोनी एबॉट मुख्य अतिथि रहे नरेंद्र मोदी ने संगरूर में पीजीआईएमईआर के 300 बिस्तरों वाले सैटेलाइट सेंटर को राष्ट्र को समर्पित किया

 

नोशन प्रेस ने शुरू की एक्सप्रेस पब्लिशिंग

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नई दिल्ली , 24 Oct 2018

भारत के सबसे बड़े बुक पब्लिशिंग प्लेटफॉर्म- नोशन प्रेस ने बुधवार को 'डू-इट-योरसेल्फ पब्लिशिंग प्लेटफॉर्म'-एक्सप्रेस पब्लिशिंग की शुरुआत की। नोशन प्रेस का दावा है कि इसकी मदद से लेखक 30 मिनट से भी कम समय में अपनी किताब का प्रकाशन कर सकेंगे। प्रकाशित किताब सभी चुने गए वितरण माध्यमों पर प्रिंट और ई-बुक दोनों ही फॉर्मेट में उपलब्ध रहेगी। इसे 100 से ज्यादा देशों के पाठकों तक पहुंचाना संभव होगा। अंग्रेजी भाषा की किताबों के अलावा एक्सप्रेस पब्लिशिंग में भारतीय भाषाओं की किताबों का प्रकाशन भी संभव है। भारत में अपनी तरह के इस पहले प्लेटफॉर्म पर किताब तैयार करने, प्रकाशित करने और उसे प्रिंट व ई-बुक दोनों ही माध्यमों से प्रमोट करने के कई विकल्प उपलब्ध हैं। लेखक इंटीरियर और बुक कवर डिजाइन टूल्स की मदद से क्लासिक, लिटरेचर, फिक्शन, बायोग्राफी, बिजनेस व फाइनेंस, सेल्फ हेल्प, कुक बुक से लेकर बाल पुस्तकों तक कई विभिन्न श्रेणियों में अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप किताबें प्रकाशित कर सकते हैं। नोशन प्रेस के सह संस्थापक और सीईओ नवीन वल्साकुमार ने कहा, "अपने पब्लिशिंग प्लेटफॉर्म को ज्यादा लेखकों तक पहुंचाने को लेकर हम उत्साहित हैं। 

एक्सप्रेस पब्लिशिंग की मदद से प्रोफेशनल टूल्स तक नए लेखकों की सहज और आसान पहुंच सुनिश्चित होगी। इसकी सबसे बड़ी विशेषता है कि अपनी किताब पर लेखकों का 100 प्रतिशत अधिकार रहता है और जिस भी फॉर्मेट में वे अपनी किताब प्रकाशित करें, उन्हें बिक्री से होने वाले शुद्ध लाभ का 70 प्रतिशत मिलता है।"नोशन प्रेस के सह संस्थापक और सीटीओ भार्गव एडपल्ली ने कहा, "एक्सप्रेस पब्लिशिंग को नए लेखक भी आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। यह प्लेटफॉर्म प्रयोग की ²ष्टि से बहुत सरल है और यहां लेखक अपनी इच्छा से कवर और इंटीरियर डिजाइन कर सकते हैं। यहां किताब तैयार करने के लिए लेखकों को प्री-सेट टेम्पलेट उपलब्ध होता है। एक्सप्रेस पब्लिशिंग पेशेवर और नए दोनों ही तरह के लेखकों के लिए अपनी फिक्शन व नॉन फिक्शन किताबों के प्रकाशन के लिए बेहतरीन विकल्प है। यहां प्रकाशित किताबें लाखों पाठकों के लिए उपलब्ध होती हैं। किताब के प्रकाशन में बमुश्किल 30 मिनट का समय लगता है।"नोशन एक्सप्रेस पब्लिशिंग प्लेटफॉर्म लेखकों को इस बात पर पूरा नियंत्रण देता है कि वे कैसे अपनी किताब को प्रकाशित करना चाहते हैं और कहां उसे बेचना चाहते हैं। 

प्रकाशन के बाद लेखक अपनी किताब की बिक्री के बारे में ऑनलाइन ट्रैक कर सकते हैं और मार्केटिंग के नए टूल्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। किताब से होने वाला मुनाफा सीधे उनके खाते में पहुंचता है। प्रकाशन की प्रक्रिया में ज्यादा मदद के लिए लेखक नोशन प्रेस के गाइडेड पब्लिशिंग प्रोग्राम का हिस्सा भी बन सकते हैं। वल्साकुमार ने कहा, "हमने भारत में उभरते लेखकों के लिए उच्च गुणवत्ता वाले प्रकाशन की पहुंच को आसान बनाने के लिए एक लोकतांत्रिक पब्लिशिंग के रूप में नोशन प्रेस की शुरूआत की थी। आज इस लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में हम एक और कदम बढ़ा रहे हैं। हमने अगले पांच साल में 1,00,000 लेखकों को प्रकाशित करने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य तय किया है। हमारा विशेष ध्यान भारतीय भाषाओं की तरफ रहेगा।" एक्सप्रेस पब्लिशिंग की मदद से लेखकों को किताब पर 100 प्रतिशत अधिकार, प्रिंट और ई-बुक में प्रकाशन, ऑनलाइन टूल्स की मदद से किताब तैयार करने, 100 देशों के 30,000 से ज्यादा स्टोर पर बिक्री का विकल्प, किताब की बिक्री से होने वाले मुनाफे में 70 प्रतिशत लेखक का और बुक मार्केटिंग टूल्स के एक्सक्लूसिव एक्सेस जैसी सुविधा मिलती है।

 

Tags: Book

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD