Monday, 22 July 2024

 

 

खास खबरें तापसी पन्नू के लिए क्यों खास है अगस्त महीना नगर निकायों में पार्किंग, फुटपाथ तथा शौचालय बनाने पर करें फोक्स: हेमराज बैरवा प्लानिंग के तहत विकास कार्यों के यूसी पोर्टल पर करें अपलोड : हेमराज बैरवा शहीद स्मारक में निरीक्षण को पहुंचे पूर्व मंत्री अनिल विज ने तालियां बजाते हुए स्टैच्यू डिजाइन कर रहे कारीगरों का उत्साह बढ़ाया पार्क हॉस्पिटल में पार्किंसनिज़्म उपचार में नवाचार डीबीएस का इस्तेमाल शुरू हरियाणा में सरकारी स्कूलों के प्रति बढ़ रहा है आमजन का विश्वास : शिक्षा मंत्री सीमा त्रिखा प्रदेश की समृद्धि व खुशहाली के लिए जनता की समस्याएं दूर होनी जरूरी : महिपाल ढांडा केजरीवाल की हरियाणा को पांच गांरटी, सरकार बनी तो मुफ्त और 24 घंटे मिलेगी बिजली हरियाणा में कचरे के निस्तारण की दिशा में अहम कदम, राज्य में स्थापित होंगे वेस्ट-टू-चारकोल के दो प्लांट मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने हिसार में महाराजा दक्ष प्रजापति जयंती राज्य स्तरीय समारोह में लगाई घोषणाओं की झड़ी राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से पैरा क्रिकेटर आमिर हुसैन लोन ने राजभवन में की मुलाकात मुख्यमंत्री नायब सिंह ने हिसार से मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत बस को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना मुख्यमंत्री सुख-आश्रय कोष में 1.5 करोड़ रुपये का अंशदान कैबिनेट मंत्री ब्रम शंकर जिंपा ने जनता दरबार में सुनी लोगों की शिकायतें हर घर तक पीने वाला स्वच्छ पानी मुहैया करवाना सरकार की मुख्य प्राथमिकता : ब्रम शंकर जिंपा होशियारपुर वासियों की हर समस्या का समयबद्ध तरीके से किया जा रहा है समाधान : ब्रम शंकर जिंपा मनजिंदर सिंह सिरसा के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल ने हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी का सन्मान श्री गुरु साहिबान द्वारा सद्भाव और भाईचारे के दिखाए मार्ग पर चलना ही गुरुओं के प्रति हमारी सच्ची श्रद्धा का प्रतीक : नायब सिंह सैनी अग्निवीरों के कल्याण के लिए हरियाणा सरकार द्वारा चलाई योजना पर प्रधानमंत्री ने दिखाई विशेष रूचि मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने फिर किसान हितैषी होने का दिया परिचय नवनिर्वाचित विधायक हरदीप सिंह बावा ने मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू से की भेंट

 

जीसैट-6ए प्रक्षेपण के बाद कक्ष में भारत के 2 विवादास्पद उपग्रह

Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

श्रीहरिकोटा , 29 Mar 2018

भारत का नवीनतम संचार उपग्रह जीसैट-6ए गुरुवार को सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित हो गया। हालांकि यह भी 2015 में छोड़े गए अपने पूर्ववर्ती जीसैट-6 की तरह विवादों में उलझा रहा था। दो हजार किलो के यह दोनों उपग्रह विवाद का विषय रहे हैं। इसके 90 फीसदी ट्रांसपोंडर इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (इसरो) की वाणिज्यिक शाखा एंट्रिक्स कॉर्पोरेशन द्वारा एक सौदा के तहत देवास मल्टीमीडिया लिमिटेड को पट्टे पर दिए जाने थे। यह सौदा फरवरी 2011 में रद्द हो गया था, क्योंकि यह देश की रक्षा जरूरतों को पूरा करने में विफल रहा था।इस विवादास्पद सौदे के तहत बेंगलुरू की देवास कंपनी 12 साल तक अपनी डिजीटल मल्टीमीडिया सेवा के लिए जीसैट-6 और जीसैट-6 ए के ट्रांसपोंडरों का प्रयोग महत्वपूर्ण एस-बैंड वेवलैंथ में करने वाली था। एस-बैंड वेवलैंथ मुख्य रूप से देश के रणनीतिक हितों के लिए रखी जाती है।अंतरिक्ष ने देवास के साथ जनवरी, 2005 में 30 करोड़ डॉलर के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए थे और सरकार को सूचित किए बिना दो उपग्रहों (जीसैट-6 और जीसैट-6 ए) के लिए अंतरिक्ष आयोग और केंद्रीय कैबिनेट की मंजूरी प्राप्त कर ली थी, जिसके तहत 90 फीसदी की भारी भरकम क्षमता मल्टीमीडिया सेवा प्रदाता को पट्टे पर दी जानी थी।दिसंबर 2009 में विवाद सामने आने के बाद सरकार के स्वामित्व वाले इसरो ने सौदे की समीक्षा का आदेश दिया और अंतरक्षि आयोग ने जुलाई 2010 में इस सौदे को रद्द करने की सिफारिश कर दी। अंतरिक्ष ने पांच फरवरी 2011 को सौदे को रद्द कर दिया। इसके बाद जीसैट-6 को 2015 में लॉन्च किया गया।

 

Tags: ISRO

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD