Monday, 25 September 2023

 

 

खास खबरें प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के वाराणसी में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का शिलान्यास किया उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सिमारिया, बेगुसराय का दौरा किया उपायुक्त पुंछ ने ईद-मिलाद-उन-नबी (एसडब्ल्यू) की व्यवस्था पर चर्चा के लिए बैठक की अध्यक्षता की डीडीसी जम्मू ने टिकाऊ सामुदायिक संपत्तियों के निर्माण, ग्राम विकास गतिविधियों में स्थानीय जरूरतों पर ध्यान देने पर जोर दिया आयुक्त सचिव आरडीडी मंदीप कौर ने भद्रवाह में जागरूकता शिविर आयोजित कर एसबीएम परिसंपत्तियों का निरीक्षण किया पंजाब वेयरहाऊस के चेयरमैन और कर्मचारियों द्वारा मुख्यमंत्री राहत फंड में 37.95 लाख रुपए का योगदान अमन अरोड़ा द्वारा सुनाम हलके के सभी सरकारी हाई स्कूलों में 4डी विशेषता वाली एक्स. आर लैबज़ का उद्घाटन राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने साइकिल अभियान को दिखाई हरी झंडी आपदा राहत कोष में दिया अंशदान महिला आरक्षण बिल पास होने पर एक-दूसरे को मिठाई खिला मनाई खुशी मुख्य मंत्री पंजाब भगवंत सिंह मान के योग्य नेतृत्व में पिछले 25 दिनों में 7660 युवाओं को नौकरियों दे कर नया रिकार्ड बनाया कर्ज की बात न करें राज्यपाल, अकाली भाजपा और कांग्रेस सरकार ने हमें तीन लाख करोड़ का कर्ज विरासत में दिया है : हरपाल सिंह चीमा डॉ. एस.एस.आहलुवालिया ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कपूरथला का दौरा किया पराली को आग न लगाकर इसके सुचारु प्रबंधन के लिए सहयोग करें किसान : एस.डी.एम प्रदीप बैंस गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ एजुकेशन, चंडीगढ़ में 7 दिवसीय विशेष एनएसएस शिविर हुआ संपन्न पंजाब सरकार द्वारा एशियाई खेलों में हिस्सा ले रहे 58 खिलाड़ियों को तोहफ़ा, 4.64 करोड़ रुपए की राशि दी शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने सिंगापुर में प्रशिक्षण के लिए 60 प्रिंसीपलों के दो बैंच को हरी झंडी दे कर किया रवाना प्रधानमंत्री ने नई दिल्ली में 'अंतर्राष्ट्रीय अधिवक्ता सम्मेलन 2023' का उद्घाटन किया क्षेत्रीय फिल्मों के निर्माण पर बल दिया जाएगा : सुखविंदर सिंह सुक्खू मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल से भेंट की निहारिका रायजादा ने भारतीय सिनेमा में किये 10 साल पूरे, मीडिया के साथ ये ख़ास मौका किया सेलिब्रेट

 

कांग्रेस ने कहा, पाकिस्तानी मिलीभगत का इशारा करने पर माफी मांगें नरेंद्र मोदी

आनंद शर्मा
आनंद शर्मा
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

नई दिल्ली , 11 Dec 2017

कांग्रेस ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ गुजरात चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को हराने के लिए पाकिस्तान के साथ मिलीभगत का इशारा करने पर माफी मांगने की मांग की। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने यहां कहा कि गुजरात में 'स्पष्ट हार' देखकर प्रधानमंत्री निराश (फ्रस्टेट) हो गए हैं और खुद के प्रति सहानुभूति जगाने के लिए 'खराब भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं।'मोदी ने एक दिन पहले ही आरोप लगाया था कि गुजरात में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस पार्टी और पाकिस्तानी तत्व साथ मिलकर काम कर रहे हैं।गुजरात में रविवार को एक सार्वजनिक जनसभा में मोदी ने कहा था कि कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने उनके खिलाफ नीच शब्द वाली टिप्पणी अपने आवास पर रात के खाने के बाद की थी। अय्यर के निवास पर इस रात्रिभोज में अंसारी और सिंह के अलावा पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद कसूरी और भारत में वर्तमान पाकिस्तानी उच्चायुक्त शामिल हुए थे। शर्मा इसी बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे।

शर्मा ने कहा, "आज प्रधानमंत्री निराशा में हैं और स्पष्ट हार से लोगों का ध्यान हटाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री को अपने शब्द वापस लेने चाहिए, अपने पद की गरिमा बनाए रखनी चाहिए और माफी मांगनी चाहिए।"शर्मा ने मीडिया से कहा, "अगर उनके पास ऐसी कोई जानकारी है, तो यह एक गंभीर मामला है..देश गलत तरीके से चुनाव जीतने के लिए सत्तारूढ़ पार्टी द्वारा अपनाए जा रहे हथकंडों को बर्दाश्त नहीं करेगा। हमें पूरा विश्वास है कि गुजरात के मतदाता बुद्धिमान हैं और पर्याप्त परिपक्व हैं और कल (रविवार को) जो भी हुआ उसके पीछे की रणनीति (मोदी द्वारा) को जानते हैं और वह अपना जवाब दूसरे चरण में उन्हें देंगे।"उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने रविवार को जो कुछ कहा, उससे ज्यादा बेतुका क्या हो सकता है।उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री से अपने भाषणों में संयमित होने की उम्मीद की जाती है, उन्हें हमेशा याद रखना चाहिए कि उनके पास एक उच्च पद है और उन्हें उन हस्तियों पर ऐसे आरोप नहीं लगाने चाहिए, जिन्होंने उच्च संवैधानिक पदों को संभाला है और समर्पण और प्रतिबद्धता के साथ भारत की सेवा की है।"

शर्मा ने कहा कि भारत के पूर्व उप राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ लगाए गए मोदी के आरोप बेहद ही गैर जिम्मेदाराना, अनुचित और निंदाजनक हैं।उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री को यह याद रखना चाहिए कि एक सामाजिक समारोह में भाग लेना जिसमें उच्च गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.. एक गुप्त बैठक नहीं है। बैठक में भारतीय सेना के पूर्व प्रमुख, भारत के पूर्व उच्चायुक्त, प्रसिद्ध पत्रकार..सभी उपस्थित थे।"उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इसे एक भयावह और सनसनीखेज मोड़ दे रहे हैं। प्रधानमंत्री को राजनीतिक भाषण की गरिमा को बहाल करना चाहिए और पूर्व उप राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री से माफी मांगनी चाहिए।शर्मा ने कहा कि यह स्पष्ट है कि उन्होंने गुजरात के लोगों को भ्रमित करने के इरादे से ऐसा किया है..उन्होंने भावनाओं को भड़काने और ध्रुवीकरण के लिए ऐसा किया है। इसके अलावा कोई अन्य स्पष्टीकरण नहीं हो सकता है और उनके द्वारा किए गए कार्यों से अधिक निंदनीय कुछ नहीं हो सकता है। शर्मा ने कहा कि मोदी ने बार-बार ऐसा करके राजनीतिक भाषण के स्तर को इतना नीचे गिरा दिया है कि जो सब कुछ हो सकता है लेकिन सम्मानजनक नहीं।

उन्होंने पूछा, "वह प्रगति, देश की अर्थव्यवस्था के बारे में बात क्यों नहीं करते हैं। वह प्रधानमंत्री हैं, बड़े दावे करने के लिए जाने जाते हैं, आज वह किसानों के बारे में बात क्यों नहीं करते? वह रोजगार, युवाओं के भविष्य के बारे में क्यों बात नहीं करते? उनका क्या एजेंडा है, वे किस आधार पर चुनाव लड़ रहे हैं?"उन्होंने कहा, "उनके अपने भाषण, उनकी पार्टी की गलत भाषा..प्रधानमंत्री लोगों के सामने यह कहकर सहानुभूति को जगाने की कोशिश कर रहे हैं कि उनके साथ गलत व्यवहार हुआ है जबकि यह वह खुद हैं जिन्होंने लोगों के साथ गलत किया है।"पाकिस्तान के साथ कांग्रेस नेताओं की मिलीभगत के मोदी के आरोप पर शर्मा ने कहा, "यह अपमानजनक है। उन्हें यह पता होना चाहिए कि कांग्रेस ने स्वतंत्रता संग्राम का नेतृत्व किया था, जिसका मोदी जिस पार्टी से ताल्लुक रखते हैं उसके पुरखों ने विरोध किया था। उन्होंने अंग्रेजों का साथ दिया था और महात्मा गांधी के भारत छोड़ो आंदोलन का विरोध किया था..वह (मोदी) ऐसे ही समूह के वारिस हैं।"

 

Tags: Anand Sharma

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2023 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD