Tuesday, 25 June 2024

 

 

खास खबरें जमीन के इंतकाल बदले 5500 रुपये रिश्वत लेते पटवारी को विजीलैंस ब्यूरो ने पकड़ा मुख्यमंत्री भगवंत मान पंजाब पुलिस का मनोबल गिरा रहे : तरुण चुघ डॉ. जितेन्द्र सिंह ने विज्ञान भारती के छठे राष्ट्रीय सम्मेलन में 'भारतीय समस्याओं के लिए भारतीय समाधान' की वकालत की अमित शाह ने देश में बाढ़ प्रबंधन की समीक्षा के लिए आज नई दिल्ली में उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की जालंधर में कांग्रेस और भाजपा को झटका! दोनों पार्टियों के कई नेता 'आप' में शामिल एक्ज़िम बैंक ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के समक्ष हिमाचल में संभावित निर्यात रणनीति पर प्रस्तुति दी भाजपा को मिल रहा है हिमाचल के लोगों का आशीर्वाद : जयराम ठाकुर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने वित्त आयोग से हिमाचल को उदार वित्तीय सहायता प्रदान करने की सिफारिश का आग्रह किया अधिकारियों को निर्देश ,चंगर क्षेत्र में पेयजल-विद्युत हो बेहतर व्यवस्था : केवल सिंह पठानिया पी.एस.पी.सी.एल ने हरित ऊर्जा को दिया बढावा मुख्यमंत्री नायब सिंह ने संपूर्ण मंत्रिमंडल के साथ अयोध्या में किए श्री रामलला के दर्शन तकनीकी प्रगति के सामाजिक प्रभाव का पता लगाने के लिए एलपीयू ने एसयूटीएकेएस का आयोजन किया संगीत मेरे फेफड़ों के लिए हवा और ऑक्सीजन है - नेहा भसीन प्रधानमंत्री का “एक पेड़ मां के नाम” अभियान युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणादायक : संजय टंडन शाहपुर के किसानों को सिंचाई के लिए मिलेगी बेहतर सुविधाएं : केवल सिंह पठानिया डाडासीबा सिविल अस्पताल की बिस्तर क्षमता स्तरोन्नत कर 100 की जाएगीः मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने वीरभद्र सिंह की जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित किए सांसद संजीव अरोड़ा ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से आगामी बजट में व्यक्तिगत करदाताओं के लिए आयकर दरों को युक्तिसंगत बनाने की मांग की खो चुके जनाधार की हताशा में कुछ भी कह रहे हैं मुख्यमंत्री : जयराम ठाकुर होशियार के कमल खरीदने से भाजपा कार्यकर्ता निराश, बिका हुआ कमल नहीं खिलेगा : मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू किसी भी हाल में बख्शे नहीं जाएंगे अपराधी : ब्रम शंकर जिंपा

 

बनूड़ नहरी प्रौजेक्ट मुक्कमल होने से सिंचाई प्रबंध और बेहतर होगा - शरनजीत सिंह ढिल्लों

95.50 करोड़ रुपये की आयेगी लागत , प्रौजेक्ट दिसंबर-2016 में होगा संपूर्ण

शरनजीत सिंह ढिल्लों
शरनजीत सिंह ढिल्लों
Listen to this article

Web Admin

Web Admin

5 Dariya News

चंडीगढ़ (पंजाब) , 02 Oct 2016

पंजाब सरकार द्वारा प्रगति अधीन बनूड़ नहर सिस्टम के पूरा होने से राज्य में सिंचाई प्रबंध और मज़बूत एवं बेहतर होगा। इस प्रौजेक्ट को दिसंबर-2016 तक पूरा कर लिया जायेगा और जनवरी 2017 से इसके द्वारा 37581 एकड़ क्षेत्र को सिंचाई सुविधांए मिलेंगी जिसका लाभ 60 गांवों के किसानों को होगा। पंजाब के सिंचाई मंत्री स. शरनजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि 95.50 करोड़ के इस प्रौजेक्ट से संबंधित क्षेत्र के 1215 हेक्टयर अतिरिक्त क्षेत्र को पानी की सुविधा मिलेगी जिससे किसानों को फसलों और पशुओं के लिए हरा चारा उगाने आदि के लिए बेहतर अवसर उपलब्ध होंगे। उन्होंने बताया कि इस प्रौजेक्ट के कार्य जैसे कि गाइड बांधों का निर्माण, बनूड़ नहर का निर्माण, युद्ध स्तर पर चल रहा है और यह समूचे कार्य दिसंबर, 2016 तक पूरे कर दिये जायेंगे। स. ढिल्लों ने बताया कि इस प्रौजेक्ट के निर्माण से 1215 हेक्टयर अतिरिक्त क्षेत्र को पानी की सप्लाई मिलेगी और डेराबस्सी, राजपुरा, बनूड़ व घन्नौर ब्लॉक के लगभग 70 गांवों का सीसीए 14000 से बढ़कर 15215 हेक्टयर हो जायेगा और घग्गर दरिया के नीचे दायें और बांये तरफ लगते गांवों को अतिरिक्क्त सिंचाई सुविधांए प्रदान की जा सकेंगी। उन्होंने बताया कि इस प्रौजेक्ट से कई अन्य लाभ जैसे कि धरती के नीचे पानी के स्तर को नीचे जाने से बचाना, टेलों तक पानी की सप्लाई, सिंचाई योग्य क्षेत्र में वृद्धि और लोगों को सिंचाई के लिए अतिरिक्त पानी उपलब्ध करवाना आदि भी प्राप्त होंगे। उन्होंने अन्य विवरण देते हुये बताया कि यह प्रौजेक्ट शिरोमणि अकाली दल -भाजपा सरकार की बहुमूल्य प्राप्ति है कि उसने अपने कार्यकाल दौरान यह प्रौजेक्ट पूरा किया है क्योंकि यह पिछले लंबे समय रूकावट की अवस्था में चल रहा था और क्षेत्र के लोगों को अपने बनते हक अनुसार पानी से वंचित रहना पड़ रहा था। 

सिंचाई मंत्री ने आगे बताया कि बनूड़ नहर मौजूदा समय पूरा वर्ष चलने वाला चैनल नही है। यह वर्ष में केवल चार या पांच महीने ही चलता है। उन्होंने बताया कि घग्गर दरिया जो बनूड़ नही को पानी उपलब्ध करवाता है, शिवालिक की पहाडिय़ों से निकलकर हरियाणा राज्य से होता हुआ चंडीगढ़ रोड से उत्तर दिशा की और गांव भांखरपुर में दरिया के निचली तरफ जोकि पटियाला, संगरूर और मानसा जिलों से होकर पुन: हरियाणा राज्य से होता हुआ राजस्थान के टिब्बों में जाकर खत्म हो जाता है। उन्होंने बताया कि घग्गर दरिया से बनूड़ नहर सिस्टम के अतिरिक्त कोई भी अन्य सिंचाई सिस्टम अस्तित्व में नही है और यह छिमाही सिस्टम भी 100 वर्ष से पुराना है। स. ढिल्लों अनुसार यह सिस्टम बनूड़ नहर शामिल है की मेन नहर की लंबाई 37 कि.मी है और इसमें से निकलने वाली नौ माईनरों, तीन सब-माइनरों जिनकी कुल अनुमानित लंबाई 44 कि.मी है। सिंचाई मंत्री ने अन्य जानकारी देते हुये बताया कि बनूड़ नहर घग्गर दरिया से छत्तबीड़ चिडिय़ा घर क े निकट से निकलती है और प्रति वर्ष घग्गर दरिया से कच्चा आरजी बांध बनाकर बनूड़ नहर को परनी दिया जाता था। इस उद्धेश्य के लिए 102 क्यूसिक पानी छोटी नहर (कुऐनट) द्वारा दिया जाता था। उन्होंने बताया कि पहले प्रतिवर्ष कच्चा आरजी बांध अक्टूबर माह दौरान बनाया जाता था और घग्गर दरिया में भारी वर्षा के कारण पानी का बहाव बढ़ जाने के कारण यह बांध जून माह/जुलाई माह दौरान टूट जाता था। उन्होंने बताया कि अब इस समस्या से मुक्ति पा ली गई है और अब यह नहर पूरा वर्ष सिंचाई के लिए प्रयोग की जायेगी। 

 

Tags: Sharanjit Singh Dhillon

 

 

related news

 

 

 

Photo Gallery

 

 

Video Gallery

 

 

5 Dariya News RNI Code: PUNMUL/2011/49000
© 2011-2024 | 5 Dariya News | All Rights Reserved
Powered by: CDS PVT LTD